हाई कोलेस्ट्रॉल - High Cholesterol in Hindi

Dr. Nabi Darya Vali (AIIMS)MBBS

June 28, 2017

February 15, 2021

हाई कोलेस्ट्रॉल

कोलेस्ट्रॉल एक मोम या वसा जैसा पदार्थ होता है जो लीवर द्वारा निर्मित होता है। यह कोशिका झिल्ली, विटामिन डी, पाचन और कुछ हार्मोन के गठन के लिए महत्वपूर्ण होता है। कोलेस्ट्रॉल पानी में घुलता नहीं है इसलिए वह शरीर के अन्य अंगों में खुद नहीं पहुंच सकता। लिपोप्रोटीन्स नामक कण कोलेस्ट्रॉल को रक्तप्रवाह के माध्यम से शरीर के अन्य अंगों में पहुँचने में मदद करते हैं। लिपोप्रोटीन के दो प्रमुख रूप होते हैं -

  1. कम घनत्व वाला लिपोप्रोटीन (एलडीएल; Low-density lipoproteins - LDL), जिसे "खराब कोलेस्ट्रॉल" भी कहा जाता है, धमनियों में जम सकता है और गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है जैसे दिल का दौरा या स्ट्रोक
  2. उच्च घनत्व वाला लिपोप्रोटीन (एचडीएल; High-density lipoproteins - HDL), जिसे कभी-कभी "अच्छा कोलेस्ट्रॉल" भी कहा जाता है, एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को लीवर में वापस लौटाने में मदद करता है जिससे वह हटाया जा सके।

हाई कोलेस्ट्रॉल क्या है?

ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना जिनमें उच्च मात्रा में वसा होता है, आपके रक्त में एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ जाता है। इसे हाई कोलेस्ट्रॉल, हाइपरकोलेस्ट्रोलेमिया (hypercholesterolemia) या हाइपरलिपिडेमिआ (hyperlipidemia) कहा जाता है।

एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर बहुत अधिक होने पर या एचडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर बहुत कम होने पर रक्त वाहिकाओं में वसा की जमावट होने लगती है। यह जमावट आपकी धमनियों के माध्यम से पर्याप्त रक्त प्रवाह में मुश्किल पैदा करती है। इससे आपके शरीर में समस्याएं हो सकती हैं खासकर आपके दिल और मस्तिष्क में और यह घातक भी हो सकती हैं।

सभी उम्र और पृष्ठभूमि के लोगों को उच्च कोलेस्ट्रॉल हो सकता है। उच्च कोलेस्ट्रॉल उन जोखिम वाले कारकों में से एक है जो हृदय का दौरा, स्ट्रोक, एथेरोस्क्लेरोसिस और परिधीय धमनी रोग का कारण हो सकता है।

भारत में हाई कोलेस्ट्रॉल की वर्तमान स्थिति
भारत में जनसंख्या आधारित अध्ययनों में कुल कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ रहा है। हाल के अध्ययनों से पता चला है कि उच्च कोलेस्ट्रॉल शहर की 25-30% और ग्रामीण की 15-20% आबादी में मौजूद है। हालांकि यह स्तर उच्च आय वाले देशों से कम है।

हाई कोलेस्ट्रॉल के लक्षण - High Cholesterol Symptoms in Hindi

हाई कोलेस्ट्रॉल अन्य बीमारियों का एक जोखिम कारक है और इसका खुद कोई लक्षण नहीं होता है। हालाँकि नियमित रक्त परीक्षण रक्त में कोलेस्ट्रॉल के बढे स्तर का पता लगा सकते हैं।

20 वर्ष या उससे अधिक आयु के सभी लोगों को अपने रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर की जाँच प्रत्येक 5 वर्षों में कम से कम एक बार करानी चाहिए। कोलेस्ट्रॉल स्तर को मापने के लिए लिपिप्रोटीन प्रोफ़ाइल नामक एक रक्त परीक्षण कराना सर्वोत्तम है।
आपके चिकित्सक आपको बार-बार कोलेस्ट्रॉल की जांच कराने के लिए कह सकते हैं अगर आपका हाई कोलेस्ट्रॉल का पारिवारिक इतिहास है या यदि आपको निम्नलिखित जोखिम कारकों का अनुभव होता है -

  1. उच्च रक्तचाप होना।
  2. वज़न ज़्यादा होना
  3. या यदि आप धूम्रपान करते हैं।

हाई कोलेस्ट्रॉल के कारण - High Cholesterol Causes in Hindi

कोलेस्ट्रॉल का उच्च स्तर निम्नलिखित कारणों की वजह से हो सकता है -

  1. आहार - बहुत ज्यादा सैचुरेटेड फैट, ट्रांस फैट और कोलेस्ट्रॉल खाने से उच्च कोलेस्ट्रॉल हो सकता है। सैचुरेटेड फैट और कोलेस्ट्रॉल जानवरों से बने पदार्थों में होते हैं जैसे मीट, दूध, अंडे, मक्खन, और पनीर। ट्रांस फैट तले हुए खाद्य पदार्थों और पैकेजयुक्त खाद्य पदार्थों में पाया जाता है जैसे बिस्किट और चिप्स।
  2. वज़न - अधिक वजन होने से ट्राइग्लिसराइड्स बढ़ सकते हैं और एलडीएल (खराब कोलेस्ट्रॉल) भी बढ़ सकता है।
  3. गतिविधि - शारीरिक गतिविधि का अभाव एलडीएल (खराब कोलेस्ट्रॉल) बढ़ा सकता है।
  4. आयु और लिंग - 20 साल की उम्र के बाद आपका कोलेस्ट्रॉल स्वाभाविक रूप से बढ़ने लगता है। पुरुषों में, कोलेस्ट्रॉल का स्तर सामान्यतः 50 वर्ष की आयु के बाद कम होता है जबकि महिलाओं में, रजोनिवृत्ति तक यह काफी कम रहता है। फिर यह पुरुषों के स्तर के समान बढ़ जाता है।
  5. कुछ रोग - कुछ रोग उच्च कोलेस्ट्रॉल का खतरा बढ़ा सकते हैं जैसे हाइपोथायरायडिज्म, लम्बे समय से चलता किडनी रोग और कुछ प्रकार के जिगर के रोग। (और पढ़ें - किडनी की बीमारी का इलाज)
  6. पारिवारिक इतिहास - यदि आपके परिवार के सदस्यों को उच्च कोलेस्ट्रॉल है या था तो आपको  भी यह हो सकता है।
  7. धूम्रपान - धूम्रपान एलडीएल (खराब कोलेस्ट्रॉल) बढ़ा सकता है।
  8. कुछ दवाइयां - कुछ दवाएं भी एलडीएल (खराब कोलेस्ट्रॉल) के स्तर को बढ़ा सकती हैं। इन दवाओं में थियाजाइड ड्यूरेटिक्स, बीटा-ब्लॉकर्स, एस्ट्रोजन और कॉर्टिसोस्टिरॉइड शामिल हैं।

हाई कोलेस्ट्रॉल से बचाव - Prevention of High Cholesterol in Hindi

एरोबिक व्यायाम और कम वसा वाले आहार सहित एक स्वस्थ जीवन शैली अपनाने से मोटापा व उच्च कोलेस्ट्रॉल का खतरा कम हो सकता है जिससे हृदय रोग का खतरा कम होता है। अपने कोलेस्ट्रॉल को जानना अपने अन्य स्तरों को नियंत्रित करने में पहला कदम है।

  1. उच्च कोलेस्ट्रॉल को रोकने के लिए आहार लक्ष्यों को निर्धारित करें -
    1. दैनिक सेवन में सैचुरेटेड फैट (वसा) द्वारा 7% कैलोरी से कम और 200 मिलीग्राम से कम कोलेस्ट्रॉल लेने का प्रयास करें।
    2. आप कुल वसा से 30% कैलोरी तक ले सकते हैं लेकिन इसमें सबसे अधिक अनसैचुरेटेड फैट (वसा) से होना चाहिए, जो कोलेस्ट्रॉल का स्तर नहीं बढ़ाता है।
    3. अपने एलडीएल स्तर को कम करने की शक्ति को बढ़ावा देने के लिए अधिक घुलनशील फाइबर (अनाज, सेम, मटर और कई फलों व सब्ज़ियों में पाए जाने वाला) का सेवन करें। आपके खाद्य पदार्थों में क्या है यह जानने के लिए उसमें दिए पोषण लेबल को पढ़ें।
    4. कम सैचुरेटेड फैट (वसा) और कोलेस्ट्रॉल वाले खाद्य पदार्थ ही खरीदें।
  2. अतिरिक्त वज़न को कम करें और स्वस्थ वज़न बनाए रखें।
  3. धूम्रपान करना छोड़ें। (और पढ़ें - धूम्रपान छोड़ने के घरेलू उपाय)
  4. कम से कम 30 मिनट के लिए सप्ताह के अधिकांश दिनों में व्यायाम करें।
  5. अगर आप शराब पीते हैं तो इसे कम मात्रा में पिएँ।

हाई कोलेस्ट्रॉल का परीक्षण - Diagnosis of High Cholesterol in Hindi

कोलेस्ट्रॉल के स्तर की जांच करने के लिए एक रक्त परीक्षण किया जाता है जिसे लिपिड पैनल या लिपिड प्रोफाइल कहते हैं। यह परीक्षण निम्नलिखित चीज़ों की रिपोर्ट देता है - 

  1. कुल कोलेस्ट्रॉल
  2. कम घनत्व वाला लिपोप्रोटीन (एलडीएल: Low-density lipoproteins)
  3. उच्च घनत्व वाला लिपोप्रोटीन (एचडीएल: High-density lipoproteins)
  4. ट्राइग्लिसराइड - रक्त में एक प्रकार का फैट

सबसे सटीक परीक्षण के लिए रक्त के सैंपल लेने के नौ से 12 घंटे पहले पानी के अलावा कुछ भी न  खाएं या पिएँ। कोलेस्टरॉल के सही स्तर के बारे में उपर बताया गया है।

हाई कोलेस्ट्रॉल का इलाज - High Cholesterol Treatment in Hindi

हाई कोलेस्ट्रॉल के उपचार का लक्ष्य दिल के दौरे या स्ट्रोक होने की संभावना को कम करना है। इसका लक्ष्य केवल आपके कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम करना नहीं है।
हाई कोलेस्ट्रॉल के उपचार के दो प्रकार हैं -

  1. जीवन शैली में परिवर्तन।
  2. स्टैटिन नामक दवाएं।

आपके अपने जोखिम को कम करने का तरीका इस बात पर निर्भर करेगा कि आपको दिल का दौरा और स्ट्रोक का जोखिम कितना अधिक है। यह दवाइयों को लेने के बारे में आपके विचार पर भी निर्भर करेगा। आपका डॉक्टर आपको आपके जोखिम को जानने में मदद कर सकते हैं। 
आपके चिकित्सक आपके उपचार विकल्पों के लाभ और जोखिमों को संतुलित करने में आपकी सहायता कर सकते हैं।

जीवन शैली में परिवर्तन
जीवनशैली में बदलाव हमेशा महत्वपूर्ण होते हैं, भले ही आप अपने जोखिम को कम करने के लिए दवाइयां ले रहे हों।

आपके चिकित्सक आपको निम्न में से कुछ जीवनशैली के बदलाव का सुझाव दे सकते हैं -

  1. दिल के लिए स्वस्थ भोजन खाएं।
  2. अगर आपको वज़न कम करने कि आवश्यकता है तो ऐसा ज़रूर करें और एक स्वस्थ वज़न बनाये रखें।
  3. व्यायाम करें।
  4. धूम्रपान न करें।

स्टैटिन नामक दवाएं
लोग जीवनशैली में बदलाव के अलावा स्टैटिन नामक दवाएं भी लेते हैं। कुछ लोगों को दिल का दौरा या स्ट्रोक होने के जोखिम ज़्यादा होते हैं और वह स्टैटिन ले सकते हैं क्योंकि यह दवा इस जोखिम को कम करती है।
अन्य लोगों के लिए स्टैटिन की आवश्यकता के लिए चिकित्सक हृदय के दौरे और स्ट्रोक के जोखिम के स्तर को मापते हैं।

हाई कोलेस्ट्रॉल के जोखिम और जटिलताएं - High Cholesterol Risks & Complications in Hindi

उच्च कोलेस्ट्रॉल के जोखिम में वृद्धि करने वाले कारक हैं -

  1. खुराक
    कुछ सैचुरेटेड फैट जो पशु उत्पादों में पाए जाते है और ट्रांस फैट जो बिस्कुट व चिप्स में पाए जाते हैं, आपके कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ा सकते हैं। पूर्ण-वसायुक्त डेयरी उत्पादों से आपका कुल कोलेस्ट्रॉल भी बढ़ सकता है।
     
  2. मोटापा
    30 या उससे अधिक बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) होने से आपको उच्च कोलेस्ट्रॉल का खतरा बढ़ जाता है।
     
  3. कमर का माप
    यदि आपकी कमर का माप 40 इंच (102 सेंटीमीटर) (पुरुषों में) या 35 इंच (89 सेंटीमीटर) (महिलाओं में) या इससे ज़्यादा है तो आपको उच्च कोलेस्ट्रॉल होने का जोखिम ज़्यादा है।
     
  4. व्यायाम की कमी
    व्यायाम करने से आपका एचडीएल या "अच्छा" कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है और एलडीएल बनाने वाले कणों के आकार में वृद्धि होती है जो इसे कम हानिकारक बनाता है। (और पढ़ें - व्यायाम के फायदे)
     
  5. धूम्रपान
    धूम्रपान करना आपकी रक्त वाहिकाओं की दीवारों को नुकसान पहुंचाता है, जिससे उनमें फैट जमने की संभावना बढ़ जाती है। धूम्रपान आपके एचडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी कम कर सकता है।
     
  6. मधुमेह
    उच्च रक्त शर्करा आपके एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता है और एचडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है। यह आपकी धमनियों की लाइनिंग को भी नुकसान पहुंचाता है

हाई कोलेस्ट्रॉल की जटिलताएं -

उच्च कोलेस्ट्रॉल से आपको एथेरोस्क्लेरोसिस हो सकता है, जिसमें आपकी धमनियों की दीवारों पर कोलेस्ट्रॉल का एक खतरनाक संचय हो जाता है। ये जमाव आपकी धमनियों में रक्त के प्रवाह को कम कर सकता है जिससे आपको निम्नलिखित जटिलताएं हो सकती हैं -

  1. सीने में दर्द
    अगर आपकी वह धमनियां प्रभातवित हुई हैं जो आपके दिल को रक्त पहुंचाती हैं तो आपको सीने में दर्द (एनजाइना) और कोरोनरी धमनी रोग के अन्य लक्षण हो सकते हैं।
     
  2. हार्ट अटैक
    यदि फैट के जमाव टूटते हैं तो खून का थक्का बन सकता है जो खून का प्रवाह अवरुद्ध करता है जिससे आपको दिल का दौरा पड़ सकता है।
     
  3. स्ट्रोक
    दिल के दौरे के समान, अगर आपके मस्तिष्क के हिस्से में खून का प्रवाह रक्त के थक्के के कारण अवरुद्ध होता है तो आपको स्ट्रोक होता सकता है।


संदर्भ

  1. Huff T, Jialal I. Physiology, Cholesterol. [Updated 2019 Mar 13]. In: StatPearls [Internet]. Treasure Island (FL): StatPearls Publishing; 2019 Jan-.
  2. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Cholesterol Medicines.
  3. InformedHealth.org [Internet]. Cologne, Germany: Institute for Quality and Efficiency in Health Care (IQWiG); 2006-. High cholesterol: Overview. 2013 Aug 14 [Updated 2017 Sep 7].
  4. National Heart, Lung, and Blood Institute [Internet]: U.S. Department of Health and Human Services; High Blood Cholesterol
  5. National Heart, Lung, and Blood Institute [Internet]: U.S. Department of Health and Human Services; Carotid Artery Disease
  6. National Heart, Lung, and Blood Institute [Internet]: U.S. Department of Health and Human Services; Peripheral Artery Disease
  7. National Heart, Lung, and Blood Institute [Internet]: U.S. Department of Health and Human Services; Stroke
  8. Health Harvard Publishing, Updated: February 6, 2019. Harvard Medical School [Internet]. 11 foods that lower cholesterol. Harvard University, Cambridge, Massachusetts.
  9. Srinivasa Rao Ch., Emmanuel Subash Y. The Effect of Chronic Tobacco Smoking and Chewing on the Lipid Profile. J Clin Diagn Res. 2013 Jan; 7(1): 31–34. PMID: 23449989
  10. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Cholesterol Levels.
  11. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Cholesterol Medicines

हाई कोलेस्ट्रॉल के डॉक्टर

Dr. Peeyush Jain Dr. Peeyush Jain कार्डियोलॉजी
34 वर्षों का अनुभव
Dr. Dinesh Kumar Mittal Dr. Dinesh Kumar Mittal कार्डियोलॉजी
15 वर्षों का अनुभव
Dr. Vinod Somani Dr. Vinod Somani कार्डियोलॉजी
27 वर्षों का अनुभव
Dr. Vinayak Aggarwal Dr. Vinayak Aggarwal कार्डियोलॉजी
27 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें

हाई कोलेस्ट्रॉल की दवा - Medicines for High Cholesterol in Hindi

हाई कोलेस्ट्रॉल के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹70.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹151.3

20% छूट + 5% कैशबैक


₹352.1

20% छूट + 5% कैशबैक


₹37.1

20% छूट + 5% कैशबैक


₹197.3

20% छूट + 5% कैशबैक


₹37.45

20% छूट + 5% कैशबैक


₹63.15

20% छूट + 5% कैशबैक


₹180.43

20% छूट + 5% कैशबैक


₹278.2

20% छूट + 5% कैशबैक


₹121.1

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 10 of 994 entries

हाई कोलेस्ट्रॉल की ओटीसी दवा - OTC Medicines for High Cholesterol in Hindi

हाई कोलेस्ट्रॉल के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

हाई कोलेस्ट्रॉल की जांच का लैब टेस्ट करवाएं

हाई कोलेस्ट्रॉल के लिए बहुत लैब टेस्ट उपलब्ध हैं। नीचे यहाँ सारे लैब टेस्ट दिए गए हैं:

टेस्ट का नाम


हाई कोलेस्ट्रॉल पर आम सवालों के जवाब

सवाल एक साल के ऊपर पहले

मेरी उम्र 44 साल और हाइट 5 फीट 10 इंच है। मेरा वजन 90 किलो है। मैं हमेशा सुस्त महसूस करता हूं और मुझसे ठंड भी बर्दाश्त नहीं होती है। क्या यह हाई कोलेस्ट्रॉल का लक्षण हो सकता है। मैं अपने कोलेस्ट्रॉल को कैसे चेक कर सकता हूं?

Dr. Kuldeep Meena MBBS, MD , श्वास रोग विज्ञान

कोलेस्ट्रॉल लेवल के हाई होने पर किसी तरह के लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। वजन बढ़ना इसका एक लक्षण हो सकता है लेकिन इस एक लक्षण से है कोलेस्ट्रॉल की पुष्टि नहीं की जा सकती है। कोलेस्ट्रॉल लेवल को मापने के लिए लिपिड प्रोफाइल टेस्ट किया जाता है। आपके लक्षण थायराइड से मिलते-जुलते हैं इसलिए आप अपना थायराइड प्रोफाइल टेस्ट करवा लें।

 

सवाल एक साल के ऊपर पहले

मैं 43 साल का हूं और मेरा वजन 80 किलो है। मैंने अपना कोलेस्ट्रॉल लेवल चेक करवाया था। रिपोर्ट में मेरा कोलेस्ट्रॉल लेवल - 233, ट्राइग्लिसराइड - 180, एलडीएल - 155 और वीएलडीएल - 36 आया है। क्या मेरा कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ गया है? अगर हां, तो क्या मुझे इसके लिए कोई दवा भी लेनी पड़ेगी?

Dr. Vedprakash Verma MBBS , सामान्य चिकित्सा

रिपोर्ट के मुताबिक आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल नॉर्मल रेंज से थोड़ा सा ज्यादा है लेकिन अभी इसे कंट्रोल किया जा सकता है। अभी इसके लिए दवा लेने की बजाए दूसरे तरीकों को अपनाना चाहिए जैसे डाइट में बदलाव और कार्डिओ वर्कआउट कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में मदद कर सकते हैं। इसी के साथ 30 मिनट की एक्सरसाइज जैसे सुबह और शाम जिम जाएं, जॉगिंग करें और स्विमिंग करें। आप स्मोकिंग, शराब, उच्च कैलोरी युक्त पदार्थ, वसा युक्त भोजन, जंक फूड, अत्यधिक नॉन-वेज फूड और अंडे का पीला हिस्सा खाने से बचें। इन सभी से कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल किया जा सकता है। इन सब बातों को फॉलो करने के बाद अपना कोलेस्ट्रॉल लेवल चेक करवा लें, अगर इससे भी कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम नहीं होता है तो डॉक्टर की सलाह से दवा लें।

सवाल एक साल के ऊपर पहले

कोलेस्ट्रॉल की रिपोर्ट में कुल कोलेस्ट्रॉल लेवल - 221, एलडीएल - 146, एचडीएल - 36, वीएलडीएल - 39 और ट्राइग्लिसराइड - 28 आया है। मैं सिगरेट भी पीता हूं लेकिन अभी मैंने धीरे-धीरे स्मोकिंग कम कर दी है। क्या मुझे इसको कंट्रोल करने के लिए दवा लेनी होगी। अगर मैं इसके लिए दवा लेता हूं तो क्या कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल में होने के बाद, मैं दवा छोड़ सकता हूं? दवा छोड़ने पर प्रॉब्लम दोबारा तो नहीं होगी ना?

जी हां, आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल नॉर्मल रेंज से हल्का ऊपर ही है लेकिन घबराने की कोई बात नहीं है।अभी इसके लिए दवा लेने की बजाए दूसरे तरीकों को अपनाएं जैसे डाइट में बदलाव और कार्डिओ वर्कआउट। स्मोकिंग बिलकुल न करें। अगर आप कोलेस्ट्रोल कंट्रोल होने के बाद डाइट, एक्सरसाइज पर ध्यान नहीं देते हैं और बहुत ज्यादा स्मोकिंग करना शुरू कर देते हैं तो आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल फिर से बढ़ सकता है। अभी आप डाइट और एक्सरसाइज से भी अपनी स्थिति को कंट्रोल कर सकते हैं।

सवाल एक साल के ऊपर पहले

क्या हाई कोलेस्ट्रॉल में चक्कर आना और एनर्जी लेवल में महसूस होती है?

Dr. Tarun kumar MBBS , अन्य

जब कोलस्‍ट्रोल से संबंधित एथेरोस्‍केलेरोसिस के कारण ह्रदय या मस्तिष्‍क की धमनियां सिकुड़ने लगती हैं, तभी शरीर में हाई कोलेस्‍ट्रोल के कोई लक्षण दिखने शुरू होते हैं। हाई कोलेस्ट्रॉल में चक्कर आने और कमजोरी महसूस होने की समस्या नहीं होती है।