वंक्षण हर्निया - Inguinal Hernia in Hindi

Dr. Rajalakshmi VK (AIIMS)MBBS

January 12, 2021

January 12, 2021

कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!
वंक्षण हर्निया
सुनिए कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!

वंक्षण हर्निया के बारे में जानने से पहले हम आपको हर्निया के बारे में बताते हैं। हर्निया एक सामान्य स्थिति है जो तब होती है जब किसी आंतरिक अंग का कोई हिस्सा या ऊत्तक असामान्य रूप से बढ़ता या उसमें उभार आ जाता है। हर्निया के कई प्रकार है जिनमें से एक वंक्षण हर्निया है, जिसे इनगुइनल हर्निया के नाम से भी जाना जाता है।

वंक्षण हर्निया तब होता है जब ऊत्तक जैसे आंत का कोई हिस्सा पेट की मांसपेशियों में किसी कमजोर स्थान के माध्यम से फैलने या बढ़ने लगता है। इस उभार की वजह से तेज दर्द महसूस हो सकता है, खासकर खांसते, झुकते या किसी भारी वस्तु को उठाते समय।

जरूरी नहीं है कि वंक्षण हर्निया के सभी मामले खतरनाक स्थिति का रूप ले लें, लेकिन यह अपने आप ठीक नहीं होता है और कुछ मामलों में जानलेवा भी बन सकता है। जिन मामलों में तेज दर्द या लगातार ऊत्तकों में वृद्धि हो रही हो, उसमें डॉक्टर वंक्षण हर्निया सर्जरी करवाने का सुझाव देते हैं।

(और पढ़ें - हाइटल हर्निया क्या है)

इनगुइनल हर्निया के प्रकार - Inguinal Hernia Types in Hindi

इनगुइनल हर्निया दो प्रकार का होता है- इनडायरेक्ट इनगुइनल हर्निया और डायरेक्ट इनगुइनल हर्निया।

  • इनडायरेक्ट इनगुइनल हर्निया: इस प्रकार का हर्निया पेट की दीवार (एब्डोमिनल वॉल) से जुड़े जन्म दोष के कारण होता है, यानी यह जन्मजात (जन्म के समय मौजूद रहने वाली) समस्या है।
  • डायरेक्ट इनगुइनल हर्निया: इस प्रकार का हर्निया आमतौर पर वयस्क पुरुषों में होता है। ये भी पेट की दीवार की मांसपेशियों में कमजोरी के कारण होता है, लेकिन यह जन्मजात ना होकर समय के साथ धीरे-धीरे विकसित होता है। अक्सर यह किसी तरह के खिंचाव या भारी वस्तु उठाने की वजह से होता है।

वंक्षण हर्निया के लक्षण - Inguinal Hernia Symptoms in Hindi

वंक्षण हर्निया के लक्षणों को देखकर आसानी से पहचाना जा सकता है। इसकी वजह से प्यूबिक (जघन) और ग्रोइन (पेड़ू और जांघ के बीच का हिस्सा) के क्षेत्र में उभार हो जाता है। खड़े होने या खांसने पर इस उभार के आकार में वृद्धि हो सकती है। इस प्रकार के हर्निया में छूने पर तेज दर्द हो सकता है। वंक्षण हर्निया के अन्य लक्षणों में शामिल है-

  • खांसने, एक्सरसाइज करने या नीचे झुकने पर दर्द महसूस होना
  • चुभन जैसा दर्द
  • जलन जैसा महसूस होना
  • ग्रोइन के हिस्से में भारीपन या दबाव महसूस होना
  • पुरुषों में अंडकोश की सूजन

(और पढ़ें - हर्निया के लिए योग)

वंक्षण हर्निया का कारण - Inguinal Hernia Cause in Hindi

वंक्षण हर्निया या इनगुइनल हर्निया का कोई एक कारण नहीं है। हालांकि, पेट और कमर की मांसपेशियों में कमजोर स्पॉट होने की वजह से ऐसा होता है। शरीर के इस हिस्से पर अतिरिक्त दबाव पड़ने से धीरे-धीरे हर्निया की समस्या हो सकती है। कुछ जोखिम कारक भी इस स्थिति को बढ़ाने का काम करते हैं:

कई लोगों में यह समस्या ऐब्डोमिनल वॉल (पेट की दीवार) में कमजोरी की वजह से होती है। यह कमजोरी जन्म के समय से हो सकती है जब पेट की परत (पेरिटोनियम) सही तरीके से बंद नहीं होती। इसके अलावा कुछ लोगों में यह कमजोरी बाद में जैसे उम्र बढ़ने, अत्यधिक या जोर से शारीरिक गतिविधि करने या धूम्रपान की वजह से आने वाली खांसी की वजह से होती है। कई बार किसी चोट या पेट की सर्जरी के बाद भी पेट की दीवार में कमजोरी आ सकती है।

(और पढ़ें - सिगरेट पीने के नुकसान)

वंक्षण हर्निया का निदान - Inguinal Hernia Diagnosis in Hindi

वंक्षण हर्निया के निदान के लिए डॉक्टर आमतौर पर फैमिली हिस्ट्री चेक करते हैं क्योंकि यह वंशानुगत समस्या भी है। इसके अलावा वे मेडिकल हिस्ट्री (चिकित्सक द्वारा पिछली बीमारियों व उनके इलाज से जुड़े प्रश्न पूछना) चेक करते हैं, लक्षणों के बारे में पूछते हैं और बाद में शारीरिक परीक्षण करते हैं। इस दौरान वे पीड़ित व्यक्ति से खड़े होकर खांसने के लिए कह सकते हैं ताकि डॉक्टर जान सकें कि हर्निया किस वक्त प्रत्यक्ष रूप से नजर आता है।

जब वंक्षण हर्निया घटाने योग्य होता है या कुछ कम हो जाता है, तो डॉक्टर या आप खुद इसे आसानी से पेट में वापस धकेल सकते हैं। इस दौरान आपको पीठ के बल लेटने की जरूरत होगी।

यदि शारीरिक जांच के जरिए स्पष्ट रूप से निदान नहीं होता है, तो डॉक्टर इमेजिंग टेस्ट जैसे पेट का अल्ट्रासाउंड, सीटी स्कैन या एमआरआई कराने का सुझाव दे सकते हैं।

वंक्षण हर्निया का उपचार - Inguinal Hernia Treatment in Hindi

यदि हर्निया छोटा है और आपको इससे खास परेशानी नहीं हो रही है तो ऐसे में डॉक्टर 'वॉचफुल वेटिंग' के लिए कह सकते हैं, जिसका मतलब है कि रोगी की स्थिति को बारीकी से देखना लेकिन तब तक उपचार नहीं देना जब तक कि लक्षण दिखाई न दें या उनमें बदलाव ना आए।

कुछ मामलों में सपोर्टिंग ट्रस पहनने से लक्षणों में राहत मिल सकती है। इसे आप सपोर्टिंग अंडरगारमेंट भी कह सकते हैं, जो ऊतकों के बाहर निकलने पर होने वाली असुविधा से राहत देता है। भले ही यह आसान तरकीब लग रही हो, लेकिन डॉक्टर से सपोर्टिंग ट्रस के बारे में पूछना जरूरी है, क्योंकि वे आपको इससे जुड़ी कुछ सावधानियों के बारे में बता सकते हैं।

बच्चों में अगर ये समस्या हो तो डॉक्टर मैनुअल प्रेशर दे सकते हैं यानी हाथ से इसे अंदर की ओर दबा सकते हैं। यदि स्थिति नियंत्रित नहीं होती है या जटिलताएं या असुविधाएं बढ़ रही हैं तो ऐसे में सर्जरी की मदद ली जा सकती है। हर्निया के दो सामान्य ऑपरेशन हैं - ओपन हर्निया रिपेयर और लैप्रोस्कोपिक रिपेयर।

(और पढ़ें - हर्निया की होम्योपैथिक दवा)

वंक्षण हर्निया पुरुष/महिलाओं में - Inguinal Hernia in Male/Female in Hindi

  1. पुरुषों में: इनगुइनल हर्निया कमजोर स्थान पर होता है और पुरुषों में यह कमजोर स्थान अक्सर इनगुइनल कैनल (वंक्षण नलिका या नाल) में होता है, जहां स्पर्मेटिक कॉर्ड अंडकोश में प्रवेश करता है। स्पर्मेटिक कॉर्ड एब्डोमिनल कैविटी को अंडकोष से जोड़ने वाली नसों, नलिकाओं और रक्त वाहिकाओं का समूह है। बता दें, पुरुषों और महिलाओं दोनों में इनगुइनल कैनल होता है।
  2. महिलाओं में: महिलाओं में इनगुइनल कैनल एक ऐसे लिगामेंट के वाहक के रूप में कार्य करती है, जो गर्भाशय को उसकी जगह पर रखने में मदद करती है और महिलाओं में हर्निया कभी-कभी उस स्थान पर होता है जहां गर्भाशय के संयोजी ऊतक प्यूबिक बोन (उन हड्डियों में से एक जो श्रोणि बनाती है) के आसपास के ऊतक से जुड़ते हैं।


वंक्षण हर्निया के डॉक्टर

Dr. Abhay Singh Dr. Abhay Singh गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
1 वर्षों का अनुभव
Dr. Suraj Bhagat Dr. Suraj Bhagat गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
23 वर्षों का अनुभव
Dr. Smruti Ranjan Mishra Dr. Smruti Ranjan Mishra गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
23 वर्षों का अनुभव
Dr. Sankar Narayanan Dr. Sankar Narayanan गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें

वंक्षण हर्निया का ऑपरेशन



डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ