myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

35 वर्ष की उम्र में आपकी त्वचा 20 वर्ष की तरह नही दिखती हैं। आपाधापी से भरा जीवन और कुछ मामलों में गर्भावस्था भी त्वचा को नुकसान पहुँचाती हैं। आपकी त्वचा ढीली होने लगती हैं। लेकिन आप निचे लिखे आसान उपायों के द्वारा अपनी त्वचा की खोई हुई ख़ूबसूरती वापस ला सकते हैं।

आपके चेहरें और शरीर की त्वचा में कसावट के लिए बेस्ट तेल यहाँ दिए गए हैं।

(और पढ़ें - चेहरे पर कसाव लाने के उपाय)

  1. ढीली त्वचा में कसाव लाने का तरीका जैतून का तेल - Olive oil for body firming in Hindi
  2. त्वचा की कसावट के लिए बादाम का तेल - Almond oil to tighten up skin in Hindi
  3. त्वचा पर उम्र के निशान के लिए लैवेंडर का तेल - Lavender essential oil for skin in Hindi
  4. त्वचा की सुंदरता के लिए नीम्बू का तेल - Lemon oil face care in Hindi
  5. त्वचा की कसावट के लिए अरंडी का तेल - Castor oil for tight skin in Hindi
  6. त्वचा के लिए अंगूर के बीज का तेल - Angoor ke beej ke tel se karen skin to tight
  7. त्वचा में कसाव के लिए अवोकेडो तेल - Avocado oil for skin tightening in Hindi
  8. त्वचा के निशान के लिए ऑर्गन का तेल - Argan oil to get wrinkle free skin in Hindi
  9. त्वचा में कसावट के लिए खुबानी का तेल - Apricot kernel oil for tight skin in Hindi
  10. त्वचा की झुर्रियों के लिए जिरेनियम का तेल - Geranium oil for wrinkles in Hindi
  11. त्वचा को टाइट करने के लिए नेरोली का तेल - Neroli essential oil for tight skin in Hindi
  12. त्वचा की कसावट के लिए तेल का उपयोग कैसे करें?
  13. टाइट त्वचा पाने के लिए इन बातों का भी ध्यान रखें
  14. त्वचा में कसाव के लिए सरसों का तेल - Mustard oil for your skin in Hindi
  15. त्वचा के निशान के लिए नारियल तेल - Healthy skin with coconut oil in Hindi

जैतून का तेल त्वचा में कसाव लाने के लिए सबसे अच्छे तेलों में से एक है। इसमें प्रयाप्त मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट और ओमेगा -3 फैटी एसिड पाए जाते हैं। ये आपको स्वस्थ तथा खिली त्वचा प्रदान करते हैं। जैतून के तेल के लगातार प्रयोग से आपको कुछ दिनों में ही अपनी त्वचा में परिवर्तन दिखने लगेगा, यह तेल गर्म होने से अपने प्रोटीन खो देता है इसलिए इसे बिना गर्म किये ही इस्तेमाल करें। (और पढ़ें - जैतून के तेल के फायदे और नुकसान)

बादाम का तेल त्वचा पर खिंचाव के निशान को मिटाने और कसावट में लाभकारी है। कुछ मात्रा में तेल लेकर पूरी त्वचा पर मालिश करें। अधिक लाभ के लिए रोजान इसका उपयोग करें। (और पढ़ें - बादाम के तेल के फायदे)

लैवेंडर तेल उम्र के निशान और दाग को हल्का करता है। यह कोशिकाओं के पुनर्निर्माण में मदद करके धुप से बचाता है। (और पढ़ें - लैवेंडर के तेल के फायदे और नुकसान)

निम्बू का तेल काले धब्बों को हल्का करने और झुर्रियों तथा महीन रेखाओं को दूर करने में उपयोगी होता है।

एक कप गर्म अरंडी का तेल लें और उसमे लैवेंडर तेल की कुछ बुँदे मिलाएं। साथ में थोड़ा निम्बू का जूस भी मिला दें। इसे अच्छे से मिक्स करके नहाने जाने से पहले अपने शरीर पर मालिश करें। (और पढ़ें - अरंडी के तेल के फायदे और नुकसान)

अंगूर के बीज के तेल में विटामिन ई बहुतायत में पाया जाता है। विटामिन ई त्वचा की सूखने से रक्षा करता है। इस तेल का उपयोग आप आँखों के निचे काले घेरे और पेट के निशान साफ करने के लिए भी कर सकते है। तेल की कुछ बूंदो को हथेली पर फैला कर उनसे आराम-आराम से मालिश करें, अनावश्यक जोर न लगाएं।

कसी हुई त्वचा पाने के लिए इस तेल का उपयोग अत्यंत लाभदायक हो सकता है। जब हमारे शरीर में कोलेजन का उत्पादन धीमा हो जाता है तो त्वचा ढीली होना शुरू हो जाती है। अवोकेडो तेल में ओमेगा फैटी एसिड भरपूर होता है जो कोलेजन का उत्पादन बढ़ाता है। यह तेल हमारी बॉडी से निकलने वाले तेल की तरह होता है इसलिए आसानी से अवशोषित हो जाता है।

अगर आप भी झुर्रियों से मुक्त त्वचा चाहते हैं, तो इस तेल को उपयोग करें। इसमें भरपूर फैटी एसिड्स पाए जाते हैं, जिससे त्वचा की नमी बनी रहती है। यह तेल त्वचा का लचीलापन कायम रखते हुए, झुर्रिया व निशान मिटाता है। (और पढ़ें - आर्गन के तेल के फायदे और नुकसान)

खुबानी का तेल सबसे अच्छे एंटी-एजिंग तेलों में से एक हैं। यह त्वचा को विटामिन A और E का पोषण देता है तथा उसे सूखने से बचाता है। यह तेल निशान हटाता है। कोशिकाओं के विकास को बढ़ावा देता है और कोलेजन का उत्पादन बढ़ाता है।

यह तेल उम्र के निशानों को हल्का करके त्वचा के रूप को एक सामान दिखाता है। यह त्वचा की सतह के निचे रक्त संचार सुचारु करता है, जो कोशिकाओं के पुनरुत्पादन में मदद करके निशान व झुर्रियों को हटाता है।

नेरोली का तेल तैलीय, संवेदनशील और व्यस्क त्वचा के लिए उपयोगी है। यह ढीली त्वचा में कसावट लाता है और हल्की लकीरों को मिटाता है।

उपर बताए गये तेलों में से कोई भी तेल ले जो आपकी त्वचा को सूट करता हो। नहाने जाने से पहले इस तेल से अपनी त्वचा पर मालिश करें। मालिश तब तक करे जब तक तेल को त्वचा द्वारा सोख न लिया जाएँ। मालिश करने का सही तरीका पहले सीख़ लें।

  • मांसपेशियों का नियमित व्यायाम त्वचा को कसने में मदद करेगा।
  • मृत त्वचा कोशिकाओं से छुटकारा पाने के लिए एक हफ्ते में एक बार त्वचा को साफ करें।
  • रात में आठ घंटे की अच्छी नींद लें।
  • अचानक और तेजी से वजन घटाने से बचें।
  • लंबे समय तक धुप में रहने के जोखिम से बचें।
  • धूम्रपान करते है तो छोड़ दें और शराब की मात्रा को सीमित करें। धूम्रपान और अल्कोहल उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को बढ़ावा देते हैं।
  • कठोर रसायनों वाले साबुन का प्रयोग न करें।
  • रिफाइंड चीनी और अत्यधिक जंक फूड न खाएं और ताजा फल और कच्ची सब्जियां अच्छी मात्र में खाएं।
  • पर्याप्त मात्रा में पानी और जूस पीकर अपनी त्वचा को हाइड्रेटेड रखें।

इस तेल के आपके ढीले वक्ष स्थल व पेट के कसाव में चमत्कारिक लाभ हो सकते है। 2 चम्मच सरसों के तेल को हल्का गर्म करे। तेल के ठंडे होने के बाद अपनी हथेली पर कुछ बुँदे डाल कर उससे स्तन की मालिश करें। आपके स्तन की कसावट में इससे मदद मिलेगी। (और पढ़ें - सरसों के तेल के फायदे और नुकसान)

शुद्ध जैविक नारियल तेल में भरपूर विटामिन E पाया जाता हैं। यह तेल त्वचा की मरम्मत करने और त्वचा के निशान हटाने के लिए उपयोगी है। नारियल तेल उम्र के निशान मिटने के साथ-साथ त्वचा की बाहरी परत को सेलुलाइट्स और स्क्रेच मार्क्स से भी सुरक्षित रखता हैं। यह उम्र या अचानक वजन घटने से ढीली हुई त्वचा की कसावट में भी लाभदायक है। (और पढ़ें - नारियल तेल के फायदे और नुकसान)

और पढ़ें ...