myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

बेजेल क्या है?

बेजल को एन्डेमिक सिफलिस के नाम से भी जाना जाता है। यह आमतौर पर सूखे क्षेत्रों में रहने वाले लोगों में पाया जाता है। बेजेल रोग वयस्कों के मुकाबले बच्चों में अधिक होता है। यह यौन संचारित रोग नहीं है, लेकिन सिफलिस की तरह यह त्वचा पर घाव के रूप में शुरू होता है और गंभीर रूप लेने से पहले काफी समय तक शरीर में गुप्त रूप से रहता है। इसके गंभीर चरणों में हड्डी में इन्फेक्शन और त्वचा पर गंभीर फोड़े बनना आदि शामिल है।

(और पढ़ें - महिलाओं की यौन समस्याओं का इलाज)

बेजेल के क्या लक्षण हैं?

बेजेल सबसे पहले मुंह की श्लेष्म झिल्ली को प्रभावित करता है और फिर उसके बाद त्वचा व हड्डियों को प्रभावित कर देता है। मुंह में दर्द महसूस होना बेजेल का शुरूआती लक्षण हो सकता है, उसके बाद मुंह में दाग बनने लग जाते हैं। मुंह के ये दाग ठीक होने में महीनों से साल तक का समय लग सकता है। हो सकता है इस दौरान किसी प्रकार के लक्षण विकसित ना हो, लेकिन उसके बाद घाव हाथों, पैरों और धड़ पर भी बनने लगते हैं।

(और पढ़ें - त्वचा के चकत्ते का इलाज)

शरीर की अंदर की लंबी हड्डियों में गांठ बनने लग जाती है, खासकर टांग की हड्डी में। इसके अलावा मुंह नाक और तालु (मुंह का ऊपरी भाग) के आस पास के मांस में भी गांठ बनने लग जाती है। ये गांठ प्रभावित मांस को नष्ट कर देती हैं और हड्डियों की आकृति बिगड़ जाती है जिससे चेहरा कुरूप हो जाता है।

(और पढ़ें - हड्डी में दर्द का कारण)

बेजेल क्यों होता है?

बेजेल एक संक्रामक रोग है, जो कुंडली के आकार के एक बैक्टीरिया के कारण होता है, इस "बैक्टीरिया को ट्रेपोनिमा पैलिडियम एन्डेमिकम" (Treponema pallidum endemicum) के नाम से जाना जाता है। माइक्रोस्कोप के द्वारा भी ट्रेपोनिमा पैलिडियम एन्डेमिकम की ट्रेपोनिमा पैलिडियम से अलग पहचान नहीं की जा सकती। ट्रेपोनिमा पैलिडियम के कारण सिफलिस होता है।

(और पढ़ें - बैक्टीरियल संक्रमण का इलाज)

बेजेल का इलाज कैसे किया जाता है। 

बेजेल का इलाज पेनिसिलिन (Penicillin ) दवा के साथ किया जाता है। लंबे समय तक असर करने वाली पेनिसिलिन (बेंजाथिन पेनिसिलिन) का एक इंजेक्शन बेजेल का कारण बनने वाले बैक्टीरिया को मार सकता है। बैक्टीरिया के मरने के बाद त्वचा ठीक होने लग जाती है। हालांकि यदि घाव आदि के कारण अधिक ऊतक नष्ट हो गए हैं, तो त्वचा पर स्कार (खरोंच जैसे निशान) बन जाते हैं। 

जिन लोगों को पेनिसिलिन दवाओं से एलर्जी होती है, उनको मुंह के द्वारा एजिथ्रोमाइसिन (Azithromycin ) दवाएं दी जाती हैं। गर्भवती महिलाएं या आठ साल से छोटे बच्चों को पेनिसिलिन की जगह पर लगातार 14 दिन तक डॉक्सीसाइक्लिन (Doxycycline ) दवा दी जाती है।  

(और पढ़ें - एलर्जी होने पर क्या होता है)

  1. बेजेल की दवा - Medicines for Bejel in Hindi

बेजेल की दवा - Medicines for Bejel in Hindi

बेजेल के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
BenzathineBenzathine 1200000 Iu Injection0
PencomPENCOM 24LAC INJECTION0

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

References

  1. Rothschild BM, Rothschild C, Naples V, Billard M, Panero B. Bejel: acquirable only in childhood?. Acta Trop. 2006 Oct;99(2-3):160-4. Epub 2006 Oct 17. PMID: 17049474
  2. Mitjà O, Šmajs D, Bassat Q. Advances in the diagnosis of endemic treponematoses: yaws, bejel, and pinta.. PLoS Negl Trop Dis. 2013 Oct 24;7(10):e2283. PMID: 24205410
  3. Bruce M. Rothschild, Christine Rothschild. Treponemal Disease Revisited: Skeletal Discriminators for Yaws, Bejel, and Venereal Syphilis. Clinical Infectious Diseases, Volume 20, Issue 5, May 1995
  4. National Center for Advancing Translational Sciences [internet]: US Department of Health and Human Services; Bejel
  5. MSDmannual professional version [internet].Bejel, Pinta, and Yaws. Merck Sharp & Dohme Corp. Merck & Co., Inc., Kenilworth, NJ, USA
और पढ़ें ...