आंख काली होना - Black Eye in Hindi

Dr. Ajay Mohan (AIIMS)MBBS

October 22, 2020

September 09, 2021

आंख काली होना
आंख काली होना

ब्लैक आई की समस्या तब होती है जब आंख के आसपास की त्वचा पर चोट या खरोंच आ जाती है। ज्यादातर मामलों में, चोट आंख के बजाय चेहरे को प्रभावित करती है।

इसे ब्लैक आई नाम से इसलिए जाना जाता है, क्योंकि इसमें आंख के आस पास ऊतकों में चोट लगने के कारण वह हिस्सा काला हो जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बहुत छोटी रक्त वाहिकाओं को क्षति पहुंचती है और त्वचा के अंदर खून का रिसाव होने लगता है।

ब्लैक आई को 'शिनर' नाम से भी जाना जाता है। इस स्थिति में आंख खोलना मुश्किल हो सकता है, धुंधला दिखाई दे सकता है, आंख के आसपास दर्द हो सकता है और संभवतः सिरदर्द भी हो सकता है।

आंख के अंदर किसी भी कारण से ब्लीडिंग होने पर मेडिकल ट्रीटमेंट की आवश्यकता होती है, क्योंकि आंखों को क्षति पहुंचने से देखने से संबंधित समस्याएं हो सकती हैं।

(और पढ़ें - आंख में चोट लगने पर क्या करना चाहिए)

ब्लैक आई का कारण क्या है? - Black Eye ke Cause in Hindi

ब्लैक आई की समस्या तब हो सकती है जब आंख के आसपास किसी तरह से चोट आती है। ऐसा अक्सर निम्न स्थितियों में हो सकता है : 

  • किसी व्यक्ति के प्रहार से
  • गेंद लगने से
  • घूसा या मुक्का लगने से
  • दरवाजा या कोई अन्य वस्तु लगने से

इसके अलावा कुछ प्रकार के डेंटल (दांत) या कॉस्मेटिक सर्जरी के बाद भी ब्लैक आई की समस्या हो सकती है। इसमें निशान कई दिनों तक रह सकते हैं।

वैसे तो ब्लैक आई खतरनाक स्थिति नहीं है, लेकिन कुछ मामलों में यह अधिक गंभीर स्थिति का संकेत हो सकता है, जिसके लिए तत्काल चिकित्सा की आवश्यकता होती है।

(और पढ़ें - आंख में दर्द होने पर क्या करना चाहिए)

ब्लैक आई का निदान कैसे होता है? - Black Eye ka Diagnosis in Hindi

यदि ब्लैक आई के लिए मेडिकल ट्रीटमेंट चाह रहे हैं, तो डॉक्टर पहले बेसिक एग्जामिनेशन (एक प्राथमिक प्रक्रिया जिसे निदान से पहले प्रत्येक चिकित्सक द्वारा किया जाना चाहिए) कर सकते हैं। डॉक्टर चोट से संबंधित प्रश्न भी पूछ सकते हैं। वे आंखों में रोशनी डालकर आंखों की जांच कर सकते हैं और अपनी उंगलियां दिखाकर उंगलियों की संख्या पूछ सकते हैं।

यदि उन्हें लगता है कि खोपड़ी में भी चोट है, तो वे चेहरे और सिर के लिए सीटी स्कैन और एक्स-रे करवाने का सुझाव दे सकते हैं। यदि आंख की चोट का संदेह है, तो वे आपको आई स्पेशलिस्ट (नेत्र रोग विशेषज्ञ) के पास भेज सकते हैं।

सिर की संभावित चोट के लिए वे आपको न्यूरोसर्जन के पास भेज सकते हैं। चेहरे पर चोट का संदेह होने पर वे आपको ईएनटी स्पेशलिस्ट (कान, नाक और गले के विशेषज्ञ) के पास भेजेंगे।

(और पढ़ें - आंख में दर्द)

ब्लैक आई का इलाज कैसे होता है? - Black Eye Treatment in Hindi

यदि मामूली चोट की वजह से ब्लैक आई की समस्या है तो बर्फ की सिकाई, आराम करने और दर्द की दवा ली जा सकती है। यदि देखने से संबंधित समस्या हो रही है या तेज दर्द हो रहा है, तो ऐसे में आपको डॉक्टर से मिलने की जरूरत है।

यदि चोट के साथ सूजन और दर्द दोनों हैं, तो 20 मिनट के लिए ठंडी सिकाई करें और फिर 20 मिनट के लिए सिकाई बंद कर दें। जब सूजन कम हो जाए, तो आप गर्म सिकाई कर सकते हैं।

किसी भी दर्द के लिए आप आइबुप्रोफेन या एसिटामिनोफेन जैसी दर्द निवारक दवाइयां ले सकते हैं। कोशिश करें कि प्रभावित हिस्से पर दबाव न पड़ने पाए।

कई ऐसे घरेलू उपचार हैं, जिनकी मदद से आप ब्लैक आई का इलाज कर सकते हैं, इन्हीं में से एक है आइस पैक का इस्तेमाल करना। कभी-कभी लोग कच्चे मांस के जमे हुए पैक का भी उपयोग करते हैं, लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए क्योंकि मांस में हानिकारक बैक्टीरिया हो सकते हैं।

सूजन कम करने के लिए आर्निका एक अच्छा हर्बल उपचार है। विटामिन के और विटामिन सी भी सूजन को कम करके उपचार में मदद कर सकते हैं।



आंख काली होना के डॉक्टर

Dr. Meenakshi Pande Dr. Meenakshi Pande ऑपथैल्मोलॉजी
22 वर्षों का अनुभव
Dr. Upasna Dr. Upasna ऑपथैल्मोलॉजी
7 वर्षों का अनुभव
Dr. Akshay Bhatiwal Dr. Akshay Bhatiwal ऑपथैल्मोलॉजी
1 वर्षों का अनुभव
Dr. Surbhi Thakare Dr. Surbhi Thakare ऑपथैल्मोलॉजी
2 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें

आंख काली होना की दवा - Medicines for Black Eye in Hindi

आंख काली होना के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ