myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

आप पूरे दिन में न जाने क्या-क्या खाते हैं। खानपान की वजह से दांतों में किसी तरह की समस्या या दांत में कीड़े न लगे, इसलिए नियमित दांतों की सफाई रखते हैं। लेकिन क्या कभी आप अपनी जीभ का ख्याल रखते हैं? कई बार जीभ की सही तरह से देखभाल न करने की वजह से काली परत जम जाती है। इसके इतर जीभ पर ब्राउन या पीले रंग के धब्बे भी नजर आते हैं। हालांकि यह स्थिति खतरनाक नहीं है। अमूमन यह समस्या बिना किसी चिकित्सकीय उपचार के ठीक हो जाती है। हालांकि जीभ पर जमी काली परत किसी अन्य समस्या का लक्षण हो सकती है जैसे मुंह से बदबू आना। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए अपनी जीभ को नियमित साफ करें। इसकी सफाई के लिए कुछ उपायों को आजमा सकते हैं।

(और पढ़ें - जीभ में सूजन का इलाज)

रोजाना करें ब्रश
जीभ की सफाई के लिए हमेशा मुलायम दांतों के ब्रश का इस्तेमाल करें। ब्रश कभी भी हार्श तरीके से न करें यानी नर्म हाथों से जीभ की सफाई करें। रोजाना दो बार ब्रश करने से जीभ पर जमी मृत कोशिकाएं और बैक्टीरिया आसानी से निकल जाते हैं। इसके साथ जीभ पर जमी काली परत भी निकल जाती है। साथ ही भविष्य में यह समस्या दोबारा नहीं होती।

(और पढ़ें - जीभ के कैंसर के लक्षण)

टंग क्लीनर का यूज करें
जब भी आप ब्रश करें जीभ की सफाई के लिए टंग क्लीनर का यूज करें। इससे जीभ की त्वचा कोशिकाओं पर जमी परत को हटाने में मदद मिलेगी। लेकिन ध्यान रखें कि जब भी टंग क्लीनर का यूज करें, तो सावधानी बरतें। जीभ की सफाई के वक्त टंग क्लीनर को अंदर से बाहर की ओर लाएं। इससे जीभ पर जमी परत आसानी से बाहर निकल जाएगी। सफाई हल्के हाथों से करें। जीभ की सफाई आप अपनी उंगलियों की मदद से भी कर सकते हैं लेकिन ध्यान रखें कि उंगलियां मुंह के ज्यादा अंदर न घुसाएं। 

(और पढ़ें - जीभ के छाले का कारण)

खाने के बाद करें ब्रश
हर बार खाना खाने के बाद दांतों और जीभ को ब्रश करना न भूलें। हर बार खाना खाने के बाद ब्रश करने से जीभ और दांत में जमे खाद्य पदार्थ के कण निकल जाते हैं। इससे जीभ में काली परत जम नहीं पाती और बैक्टीरिया भी पनप नहीं पाते। यदि काली परत जमी है तो वह निकल जाती है।  

(और पढ़ें - ब्रश करने का सही तरीका

कुछ भी पीने के बाद करें ब्रश
आमतौर पर ज्यादातर लोग दिन में दो बार ब्रश करते हैं। जबकि किसी भी तरल पदार्थ यानी काॅफी, चाय, शराब आदि का सेवन करने के तुरंत बाद ब्रश जरूर करना चाहिए। इससे मुंह की सफाई रहती है और जीभ में काली परत भी नहीं जम पाती। 

(और पढ़ें - मुंह से बदबू आने पर क्या करें)

सोने से पहले करें फ्लाॅस
रोजाना दिन में एक बार अपने दांतों की सफाई फ्लाॅस (दांता साफ करने वाला धागा) से जरूर करें। इससे दांतों में जमी गंदगी निकल जाती है और मुंह में कीटाणु पनप नहीं पाते। साथ ही इससे जीभ पर भी किसी तरह की गंदगी नहीं जम पाती।

(और पढ़ें - दांत साफ करने का घरेलू उपाय)

च्युइंग गम चबाएं
जिन लोगों को मुंह संबंधी समस्या होती है, उन्हें शुगर फ्री च्युइंग गम चबाना चाहिए। च्युइंग गम चबाने से मुंह में लार का स्राव अधिक होता है जो मुंह की मृत कोशिकाओं की सफाई करने में मदद करता है। जैसे-जैसे आप च्युइंग गम चबाते हैं वैसे-वैसे मृत कोशिकाएं और जमी मैल की परत भी निकल जाती है।

ये भी करें: 

  • डेंटिस्ट से करवाएं सफाई: 
    आपको अपने मुंह की सफाई महीने में एक बार विशेषज्ञों द्वारा करवानी चाहिए। इससे आपके मुंह का स्वास्थ्य तो ठीक रहता है साथ ही जीभ में काली परत भी नहीं जमती। (और पढ़ें - दांत के मैल के लक्षण)
     
  • खूब पानी पिएं: 
    विशेषज्ञों के मुताबिक मुंह को हाईड्रेट करने के लिए खूब पानी पिएं। ज्यादा मात्रा में पानी पीने से जीभ की मृत कोशिकाएं पानी की मदद से अंदर चली जाती हैं। इससे जीभ साफ भी रहती है। 

जीभ की पूरी सफाई कर जीभ में जमी काली परत की समस्या से बचे रह सकते हैं। इसके साथ ही मुंह की समस्या से भी छुटकारा पा सकते हैं।

और पढ़ें ...