myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

जापान के योकोहामा बंदरगाह पर पिछले दो हफ्तों से रुके क्रूज शिप डायमंड प्रिंसेस में सवार हजारों यात्रियों के लिए बुधवार का दिन बड़ी राहत लेकर आया। जापान सरकार द्वारा इन सभी के शिप से बाहर जाने पर लगाई गई रोक आज समाप्त हो गई। माना जा रहा है कि इसके बाद इन सभी को शिप से बाहर निकाला जाएगा। कुछ अंतरराष्ट्रीय मीडिया रिपोर्टों में बताया गया है कि यात्रियों को शिप से निकालने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। हालांकि यह राहत शिप के 132 क्रू सदस्यों को नहीं मिलेगी, जिनमें भारतीयों की संख्या काफी ज्यादा है। 

भारतीय मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, ये लोग तब तक शिप नहीं छोड़ सकते जब तक कि सभी यात्रियों को बाहर नहीं निकाला जाता। इसकी एक बड़ी वजह यह भी है कि क्रू सदस्यों के मेडिकल टेस्ट अभी तक नहीं किए गए हैं। यात्रियों के शिप छोड़ने के बाद अगले दो हफ्तों तक इन लोगों को शिप में रुकना पड़ सकता है। उसके बाद ही भारतीय क्रू सदस्यों को भारत आने की मंजूरी मिलेगी। बता दें कि डायमंड प्रिंसेस में अब तक 542 यात्रियों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है। इनमें से छह भारतीय हैं।

(और पढ़ें - कोरोना वायरस का असर, भारत में पैरासिटामोल के दाम बढ़े)

मौतों की संख्या 2,000 के पार, लेकिन नए मामलों में कमी जारी
कोरोना वायरस से चीन समेत दुनियाभर में मरने वाले लोगों की संख्या 2,000 के पार चली गई है। ताजा जानकारी के मुताबिक, सीओवीआईडी-19 ने अब तक 2,011 लोगों की जान ले ली है। इनमें से 2,005 लोग अकेले चीन में मारे गए हैं। हालांकि नए मामलों की दर लगातार गिरती दिख रही है। मंगलवार तक प्रतिदिन नए मरीजों की संख्या 2,000 से नीचे गिर कर 1,800 के आसपास आ गई थी। वहीं, भारतीय समयानुसार आज (बुधवार) सुबह तक यह संख्या 1,750 हो गई थी। वहीं, कुल मामलों की बात करें तो नया कोरोना वायरस अब तक 75,000 से ज्यादा लोगों को अपनी चपेट में ले चुका है। इनमें से 12,000 से ज्यादा लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है। हालांकि 14,000 से ज्यादा मरीजों को बचा लिया गया है।

(और पढ़ें - कोरोना वायरस से जूझ रहे चीन को राहत सामग्री भेजेगा भारत)

हांगकांग में कोरोना वायरस से दूसरी मौत
उधर, हांगकांग में कोरोना वायरस के चलते दूसरी मौत की पुष्टि हुई है। बुधवार को यहां स्थित प्रिंसेस मार्ग्रेट अस्पताल में एक 70 वर्षीय मरीज ने दम तोड़ दिया। खबरों के मुताबिक, मृतक को बुखार के लक्षण दिखने के बाद बीती 12 फरवरी को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। टेस्ट में पीड़ित में कोरोना वायरस होने की पुष्टि हुई। एक हफ्ते बाद उसकी मौत हो गई। इससे पहले बीती चार फरवरी को हांगकांग के एक अन्य अस्पताल में 39 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई थी। बता दें कि हांगकांग में कोरोना वायरस के कुल 62 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से सात की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है।

12 देशों में लोगों के आपसी संपर्क से 92 लोग संक्रमित
उधर, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने एक बयान जारी कर बताया है कि दुनिया के 12 देशों में कोरोना वायरस के ऐसे 92 मामलों की पुष्टि हुई है, जिनमें मरीज इन्सानी संपर्क (ह्यूमन-टू-ह्यूमन) के चलते संक्रमित हुए। डब्ल्यूएचओ ने बताया कि इन 12 देशों में चीन शामिल नहीं है। इससे पहले भी कई अंतरराष्ट्रीय रिपोर्टों में बताया गया था कि कैसे चीन से बाहर कोरोना वायरस इन्सानों के आपसी संपर्क से फैल रहा है। इस संबंध में एक खबर काफी चर्चा में रही थी। इसमें बताया गया था कि कैसे एक ब्रिटिश नागरिक ने तीन देशों की यात्रा के दौरान 11 लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित कर दिया था।

(और पढ़ें - कोरोना वायरस संकट के चलते भारत में इन 12 दवाओं के निर्यात पर लग सकती है रोक)

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें