myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

भारत में कोविड-19 से जुड़े मामलों में 20 हजार से ज्यादा नए संक्रमितों की बढ़ोतरी हुई है। वहीं, मंगलवार को मारे गए लोगों की संख्या, सोमवार के मुकाबले कुछ ज्यादा दर्ज की गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक, बीते 24 घंटों में देशभर में 20 हजार 549 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इसी दौरान, 286 मरीजों की कोविड-19 से मौत हो गई है। इससे अब तक कोरोना वायरस संक्रमण से ग्रस्त हुए लोगों का आंकड़ा एक करोड़ दो लाख 44 हजार 852 हो गया है, जबकि मृतकों की संख्या एक लाख 48 हजार 439 तक पहुंच गई है। हालांकि बचाए गए मरीजों की संख्या भी 98 लाख 34 हजार से ज्यादा हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, मंगलवार को 26 हजार 572 लोगों को कोरोना वायरस से मुक्त करार दिया गया है। इसके बाद भारत में कोविड-19 का रिकवरी रेट 95.92 प्रतिशत हो गया है, जो जल्दी ही 96 फीसदी के पार जा सकता है। वहीं, मृत्यु दर 1.45 प्रतिशत पर बनी हुई है।

17 करोड़ से ज्यादा टेस्ट
भारत में कोविड-19 के मामलों को आइडेंटिफाई करने के लिए किए जा रहे कोरोना वायरस परीक्षणों की संख्या ने एक नए आंकड़े को छू लिया है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक, देश में अब तक ऐसे 17 करोड़ टेस्ट किए जा चुके हैं। आधिकारिक रूप से प्राप्त जानकारी की मानें तो मंगलवार को 11 लाख 20 हजार 281 कोरोना टेस्ट किए गए हैं। आईसीएमआर ने बताया है कि इससे अब तक किए गए टेस्टों की कुल संख्या 17 करोड़ नौ लाख 22 हजार 30 हो गई है। बता दें कि दुनिया में केवल दो ही देश ऐसे हैं, जहां भारत से ज्यादा कोरोना टेस्ट किए गए हैं। वर्ल्डओमीटर के मुताबिक, अमेरिका में अब तक 25 करोड़ से ज्यादा कोविड परीक्षण किए जा चुके हैं। जनसंख्या के आधार पर देखें तो यहां प्रति दस लाख की आबादी पर साढ़े सात लाख से ज्यादा टेस्ट किए गए हैं। चीन में कोविड-19 टेस्टिंग का मौजूदा आंकड़ा उपलब्ध नहीं है। हालांकि वर्ल्डओमीटर पर कई हफ्तों से यह आंकड़ा 16 करोड़ से ज्यादा दिया हुआ है। ऐसे में माना जा सकता है कि वहां किए गए टेस्टों की संख्या अभी भारत से ज्यादा होगी।

(और पढ़ें - भारत में कोविड-19 के रिकवर मरीजों में स्पाइन इन्फेक्शन और फुंसी होने के मामले सामने आए, जानें क्या कहा डॉक्टरों ने)

भारत पर लौटे तो यहां प्रति दस लाख की आबादी पर एक लाख 22 हजार से ज्यादा टेस्ट करने की क्षमता हासिल कर ली गई है। कोविड संकट की शुरुआत में यह संख्या 200 भी नहीं थी। तब देश के कई राज्य पर्याप्त टेस्टिंग किट्स की समस्या से जूझ रहे थे। लेकिन भारत ने काफी तेजी के साथ इसमें सुधार किया और अब कई राज्य ऐसे हैं, जहां एक करोड़ या उसके आसपास टेस्ट किए जा चुके हैं। उत्तर प्रदेश में तो यह आंकड़ा दो करोड़ से भी ज्यादा है। रिपोर्टों के मुताबिक, यहां अब तक दो करोड़ 36 लाख 40 हजार 902 टेस्ट किए गए हैं। इसके बाद बिहार का नंबर आता है, जहां एक करोड़ 80 लाख टेस्ट किए जा चुके हैं। फिर कर्नाटक और तमिलनाडु आते हैं। इन दोनों ही दक्षिण राज्यों में करीब एक करोड़ 40 लाख टेस्ट किए गए हैं। महाराष्ट्र में यह संख्या एक करोड़ 30 लाख के आसपास है। वहीं, गुजरात एक करोड़ टेस्ट करने के काफी करीब है। यहां 95 लाख से ज्यादा कोरोना परीक्षण किए जा चुके हैं।

टीकाकरण से पहले सफल पूर्वाभ्यास
कोविड-19 संकट से निपटने की योजनाओं के तहत देश में वैक्सीनेशन अभियान की तैयारियां जोरों पर है। खबरें हैं कि सरकार जल्दी ही किसी वैक्सीन को आपातकालीन मंजूरी दे सकती है। ताजा घटनाक्रम इस ओर इशारा भी करते हैं। वैक्सीन अप्रूवल से पहले सोमवार को देश के चार राज्यों के कुछ जिलों में वैक्सीनेशन का पूर्वाभ्यास शुरू किया गया, जो सफलतापूर्वक मंगलवार को समाप्त हो गया। भारत में पहले चरण के वैक्सीनेशन के तहत 30 करोड़ लोगों को टीका लगाए जाने की योजना है। ऐसे में इतने बड़े स्केल की तैयारियों का आंकलन करने के लिए यह ड्रिल करना जरूरी बताया गया है। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, सरकार जनवरी में टीकाकरण की शुरुआत करने का एलान कर सकती है।

(और पढ़ें - भारत में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की पुष्टि, छह लोगों में नए म्यूटेशन के साथ मिला सार्स-सीओवी-2)

अभ्यान के दौरान सरकार द्वारा बनाई गई वैक्सीनेशन रजिस्ट्रेशन एप को-विन का भी परीक्षण किया गया। वहीं, ड्रिल में शामिल लोगों को वैक्सीन के साइड इफेक्ट के बारे में शिक्षित किया गया। साथ में यह भी बताया गया कि वैक्सीन लगवाने के बाद अगले तीन महीने उन्हें किस तरह अपने स्वास्थ्य की मॉनिटरिंग करनी है। इस दौरान एप के जरिये लोगों का नामांकन किया गया। माना जा रहा है कि टीकाकरण अभियान में रियल टाइम कोऑर्डिनेशन के लिए यह प्लेटफॉर्म महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

केरल में हालात जस के तस
केरल में कोविड-19 संकट से बिगड़े हालात नहीं सुधर रहे हैं। सोमवार को दर्ज हुए मामलों में गिरावट दर्ज की गई थी। लेकिन मंगलवार को यहां एक बार फिर बड़ी संख्या में नए संक्रमितों की पुष्टि की गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, बीते 24 घंटों में केरल में 5,887 लोग सार्स-सीओवी-2 की चपेट में पाए गए हैं। इसी दौरान 24 नई मौतों की पुष्टि की गई है। इस अपडेट के बाद केरल में कोरोना वायरस संक्रमण से ग्रस्त होने वाले लोगों की कुल संख्या साढ़े सात करोड़ के करीब पहुंच गई है। वहीं, इससे मरने वालों का आंकड़ा 3,000 के पार चला गया है। अन्य दक्षिण राज्यों की बात करें तो कर्नाटक और तमिलनाडु में 12-12 हजार और आंध्र प्रदेश में 7,100 लोग कोरोना संक्रमण के चलते मारे गए हैं। लेकिन इन तीनों ही राज्यों ने अपने यहां के स्वास्थ्य संकट पर बहुत बड़े स्तर पर काबू पा लिया है।

आंकड़े बताते हैं कि मंगलवार को इन तीनों ही राज्यों में दर्ज हुए मामले 1,000 से नीचे रहे। कर्नाटक में 662 नए संक्रमित सामने आए हैं और केवल चार मौतों की पुष्टि की गई है। आंध्र प्रदेश में इससे भी कम 326 मरीजों का पता चला है और महज दो मौतें दर्ज की गई हैं। वहीं, तमिलनाडु में 957 नए संक्रमितों के साथ 12 नए मृतकों की पुष्टि हुई है। इस अपडेट के बाद इन तीनों ही राज्यों में मरीजों का आंकड़ा क्रमशः नौ लाख 17 हजार, आठ लाख 81 हजार और आठ लाख 16 हजार से अधिक हो गया है। हालांकि तीनों राज्यों में औसतन 97 प्रतिशत से अधिक मामलों में मरीजों को स्वस्थ करार दिया गया है।

(और पढ़ें - कोरोना वायरस अगले दस साल तक हमारे साथ रहेगा, सामान्य जीवन की नई परिभाषा की जरूरत')

अन्य राज्यों की बात करें तो कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित रहे महाराष्ट्र में कोविड मामलों की संख्या 19 लाख 25 हजार से ज्यादा हो गई है। इनमें 49 हजार 373 मामलों में मरीजों की मौत हो गई है। बीते दिन महाराष्ट्र में 68 नई मौतें दर्ज हुई हैं और 3,018 नए संक्रमितों का पता चला है। दिल्ली में 703 नए मामले सामने आए हैं और 28 मृतकों की पुष्टि की गई है। इससे राजधानी में छह लाख 24 हजार 118 कोरोना संक्रमित हो गए हैं। इनमें से 10 हजार 502 की मौत हो गई है। पश्चिम बंगाल में यह संख्या 9,655 है। यहां वायरस ने करीब साढ़े पांच लाख लोगों को संक्रमित किया है। मंगलवार को बंगाल में 1,244 नए मरीज सामने आए हैं और 30 मृतकों की पुष्टि की गई है। इसके अलावा, उत्तर प्रदेश की बात करें तो यहां 1,021 नए मरीजों और 18 नए मृतकों के साथ कुल मामलों और मौतों का आंकड़ा (क्रमशः) पांच लाख 83 हजार 941 और 8,340 तक पहुंच गया है।

कोविड-19 से जुड़ी अन्य अहम राष्ट्रीय अपडेट्स

  • गुजरात में मृतकों की संख्या 4,300 के करीब, बीते दिन 804 नए मामले
  • दिल्ली में जुलाई महीने में 511 टन हो गया था कोविड कचरा: स्टडी
  • मध्य प्रदेश में 2.40 लाख से ज्यादा मरीज हुए, 3,582 की मौत
  • यूके से भारत लौट रहे लोगों में नया कोरोना वायरस स्ट्रेन का मिलना जारी
  • उत्तराखंड में मरीजों की संख्या 90 हजार के पार, करीब 1,500 मौतों की पुष्टि

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
AlzumabAlzumab Injection5760.72
AnovateANOVATE OINTMENT 20GM70.0
Pilo GoPilo GO Cream52.5
Proctosedyl BdPROCTOSEDYL BD CREAM 15GM54.6
ProctosedylPROCTOSEDYL 10GM OINTMENT 10GM49.7
RemdesivirRemdesivir Injection10500.0
Fabi FluFabi Flu 200 Tablet904.4
CoviforCovifor Injection3780.0
और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें