myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

दुनियाभर के साथ-साथ भारत में भी कोविड-19 के मामले हर दिन तेजी से बढ़ रहे हैं। नए कोरोना वायरस सार्स-सीओवी-2 से होने वाली बीमारी कोविड-19 की वजह से भारत में रोजाना करीब 1500 से 2 हजार नए मामले सामने आ रहे हैं। इसी को देखते हुए देशभर में तीसरी बार लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। ऐसे में कोविड-19 के फैलने के डर और लगातार बढ़ते लॉकडाउन ने हम में से ज्यादातर लोगों की लाइफ में काफी उथल पुथल मचा दी है। इतना ही नहीं कई सामान्य बातों को लेकर भी मन में डर और चिंता का माहौल बना हुआ है और ऐसा ही एक सवाल है कि- क्या कोविड-19 संक्रमण और महामारी के समय सेक्स करना सेफ है?

चूंकि ज्यादातर लोग पिछले एक महीने से भी ज्यादा समय से अपने-अपने घरों में बंद हैं और चारों तरफ से रोजाना कोविड-19 के मरीजों की बढ़ती संख्या की खबरें मिल रही हैं, ऐसे में पार्टनर संग सेक्स करना सेफ है या नहीं इस बात को लेकर चिंतित होना लाजिमी है। लेकिन हकीकत यही है कि इस बात का कोई सीधा सा जवाब नहीं है क्योंकि इस विषय में अब तक बहुत ज्यादा स्टडीज नहीं हुई हैं। लेकिन अमेरिका के यूनिवर्सिटी ऑफ उटाह (utah) में हुई एक स्टडी की मानें तो कोविड-19 संक्रमण के सीमन यानी वीर्य द्वारा फैलने की आशंका नहीं है।

(और पढ़े: दुनियाभर में 10 लाख से ज्यादा लोगों ने कोविड-19 को दी मात)

अमेरिकन यूनिवर्सिटी की इस स्टडी में और क्या कहा गया है, क्या कोविड-19 और सेक्स के बीच कोई लिंक है, महामारी के इस दौर में अपनी सेक्शुअल लाइफ को लेकर किस तरह की सावधानियां बरतनी चाहिए, इस बारे में हम आपको इस आर्टिकल में बता रहे हैं। 

  1. क्या सेक्शुअल इंटरकोर्स से फैल सकता है कोविड-19?
  2. क्या सेक्स के दौरान मास्क पहनने से कोई फायदा होगा?
  3. अगर दोनों पार्टनर लॉकडाउन में साथ हों तो क्या सेक्स कर सकते हैं?
  4. जिसे कोविड-19 नहीं है उसके साथ सेक्स करना सेफ है क्या?
  5. कोविड-19 से रिकवर होने के कितने दिन बाद कोई व्यक्ति सेक्स कर सकता है?
  6. क्या कोई ऐसी सेक्शुअल गतिविधि है जो सेफ हो?
  7. क्या कंडोम के इस्तेमाल से कोविड-19 से बचा जा सकता है?
  8. क्या लॉकडाउन के बाद सेक्स करना सेफ होगा?

फर्टिलिटी और स्टर्लिटी नाम के जर्नल में प्रकाशित इस स्टडी में चीन के 34 पुरुषों को शामिल किया गया। इन सभी को कोविड-19 डायग्नोज होने के 31 दिन बाद इस स्टडी में शामिल किया गया था। अनुसंधानकर्ताओं को स्टडी में शामिल इन पुरुषों के वीर्य (सीमन) और वीर्यकोष (टेस्टिस) में सार्स सीओवी-2 वायरस जिससे कोविड-19 बीमारी होती है का कोई सबूत नहीं मिला। हालांकि यह स्टडी इतनी विस्तृत नहीं थी कि इस बात को पूरी तरह से खारिज किया जा सके कि कोविड-19 बीमारी सेक्स करने से नहीं फैलती। लेकिन इस स्टडी के नतीजों के आधार पर इतना तो कहा ही जा सकता है कि सेक्स के जरिए कोविड-19 के फैलने की आशंका काफी कम है। 

चीन और अमेरिका के अनुसंधानकर्ताओं की अंतरराष्ट्रीय टीम ने इस स्टडी को इसलिए किया क्योंकि बड़ी संख्या में लोगों के मन में इस बात को लेकर संदेह और सवाल हैं कि क्या कोविड-19 बीमारी के लिए जिम्मेदार वायरस सार्स-सीओवी-2 सेक्स के जरिए फैलता है, जैसा कि इबोला, जीका या दूसरे वायरल रोगाणु फैलते हैं। स्टडी में शामिल चीन के 34 पुरुष जिन्हें कोविड-19 संक्रमण हुआ था उनके लैब टेस्ट के नतीजों में यह बात सामने आयी कि उनके सीमन सैंपल में सार्स-सीओवी-2 वायरस मौजूद नहीं था। 

इस स्टडी के को-ऑथर जिन्गताओ गुओ की मानें तो, 'मौजूदा वीर्य (सीमन) में वायरस मौजूद नहीं है, इससे इस बात को पूरी तरह से खारिज नहीं किया जा सकता कि वायरस वीर्यकोष जहां शुक्राणु कोशिकाएं (स्पर्म सेल्स) बनती हैं वहां तक नहीं पहुंचा होगा। अगर वायरस वीर्यकोष में है लेकिन शुक्राणु में नहीं तो यह सेक्स के जरिए संचारित हो सकता है। अगर यह वीर्यकोष में रहता है तो यह वीर्य और शुक्राणु के उत्पादन को लंबे समय तक नुकसान पहुंचा सकता है।' 

सेक्स के दौरान इन बातों का भी खतरा:

  • सेक्स के दौरान आप पार्टनर के बेहद करीब होते हैं और 3 से 6 फीट की अनुशंसित दूरी का पालन आप नहीं कर सकते। इसका मतलब है कि अगर दोनों पार्टनर में से कोई एक भी कोविड-19 से संक्रमित हुआ तो दूसरे के भी संक्रमित होने की आशंका काफी अधिक होगी।
  • संभोग के दौरान किसिंग भी होती है जिससे वायरस फैलने का खतरा और भी अधिक होगा क्योंकि यह तो आप जानते ही हैं कि कोविड-19 का वायरस ड्रॉपलेट्स के जरिए फैलता है।

(और पढ़ें: एयरबोर्न और ड्रॉपलेट इंफेक्शन में क्या अंतर है, क्या कोविड-19 एयरबोर्न इंफेक्शन है)

अब अगर आप सोच रहे हैं कि मास्क पहनकर सेक्स करने से आप कोविड-19 से बचे रहेंगे तो इस बात की संभावना भी बेहद कम है। ऐसा इसलिए क्योंकि फेस मास्क या फेस कवर अकेले कोविड-19 से बचाने में पूरी तरह से मददगार नहीं है। मास्क के साथ-साथ आपको अपने हाथों की साफ-सफाई, श्वसन संबंधी साफ-सफाई और फिजिकल डिस्टेंसिंग का भी पालन करने की जरूरत है। लेकिन दुर्भाग्यवश आप सेक्स के दौरान इनमें से किसी भी चीज का पालन नहीं कर पाएंगे।

(और पढ़ें- जानें, कितना प्रभावी है घर में बना फेस कवर)

मास्क को लेकर हुई एक और स्टडी के बारे में हम आपको बताते हैं। हाल ही में कोविड-19 मरीजों पर की गई एक नई स्टडी में यह बात सामने आयी है जिसमें यह कहा गया है कि जब कोविड-19 का कोई मरीज सर्जिकल या कपड़े के बने मास्क को पहनकर खांसता या छींकता है तो संक्रमित वायरस सिर्फ मास्क के अंदर ही नहीं बल्कि मास्क की बाहरी सतह तक पहुंच जाता है।

कोविड-19 महामारी के इस दौर में सेक्स को लेकर कई बातें सामने आ रही हैं। इन्हीं में से एक बात ये है कि अगर आप और आपके पार्टनर दोनों 2 हफ्ते से ज्यादा समय से एक साथ आइसोलेशन में रह रहे हैं, किसी भी जरूरत के लिए घर से बाहर नहीं निकले हैं और किसी भी ऐसे व्यक्ति के संपर्क में नहीं आए हैं जो वायरस से संक्रमित हो सकता है तब आप दोनों के लिए सेक्शुअल ऐक्टिविटी में इंगेज होना सेफ माना जा सकता है। लेकिन अगर आप दोनों में से कोई एक भी घर से बाहर निकला है तो आपको रिस्क के लिए तैयार रहना होगा।

सेक्स करने से पहले खुद से ये सवाल जरूर पूछें- क्या आप या आपका पार्टनर जरूरी सेवाओं से जुड़े हैं? क्या आप दोनों में से कोई भी हाई-रिस्क परिस्थिति में रहा है? अगर इन दोनों सवालों के जवाब हां तो अच्छा यही होगा कि आप दोनों न सिर्फ सेक्स करने से बचें बल्कि घर के अंदर भी फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करें और अगर संभव हो तो अलग-अलग कमरों में सोएं। इसके अलावा अगर आप दोनों पार्टनर में से कोई भी मास्क, ग्लव्स जैसी सावधानियां बरतते हुए घर से बाहर राशन, दूध या जरूरी सामान लेने के लिए निकला है तब भी कोविड-19 की इस महामारी के दौर में सेक्स करने के दौरान कुछ प्रतिशत का रिस्क तो जरूर होगा।

(और पढ़ें: सुरक्षित सेक्स कैसे करें)

एक और चीज जिसका आपको ध्यान रखना होगा वह है आपकी सेहत। क्या आपको लंबे समय से किसी तरह की कोई बीमारी है? क्या आपकी उम्र 60 साल से अधिक है? क्या आपका इम्यून सिस्टम सामान्य लोगों की तुलना में कमजोर है? अगर इनमें से किसी भी सवाल का जवाब आपके लिए हां तो आपको किसी भी तरह की सेक्शुअल गतिविधि में शामिल होने से परहेज करना चाहिए। साथ ही घर पर भी जितने जरूरी ऐहतियाती कदम हों उनका पालन करना चाहिए।

इस सवाल का जवाब तो पूरी तरह से हां ही है लेकिन यहां बड़ा सवाल ये है कि आप कैसे इस बात को लेकर आश्वस्त होंगे कि आप जिसके साथ सेक्स करना चाहते हैं उसे कोविड-19 नहीं है? आपको शायद पता भी नहीं होगा कि वे कहां-कहां गए और किन-किन चीजों के संपर्क में आए क्योंकि वायरस सिर्फ ड्रॉपलेट्स से नहीं बल्कि संक्रमित सतहों से भी फैलता है। इतना ही वायरस का रोगोद्वन काल (इन्क्यूबेशन पीरियड) भी 2 से लेकर 14 दिन तक होता है। ऐसे में अगर आपका पार्टनर हाल ही में वायरस से एक्सपोज हुआ होगा तो हो सकता है कि अगले 2 हफ्ते तक उनमें कोई लक्षण नजर ही न आए।

(और पढ़ें- जानकारी है बचाव है, जानें कोविड-19 के हल्के और गंभीर लक्षणों के बारे में)

इन सबके साथ-साथ अब तक कोविड-19 के अलक्षणी यानी asymptomatic मामलों को लेकर भी काफी रिसर्च हुई है और इसमें यह बताया गया है कि 5 प्रतिशत से 80 प्रतिशत मामलों में संक्रमित व्यक्ति में बेहद हल्के-फुल्के या कोई भी लक्षण नजर नहीं आते हैं। लक्षण न दिखने की वजह से भी यह जानना बेहद मुश्किल हो जाता है सामने वाला व्यक्ति वायरस से संक्रमित है या नहीं।

अगर आपमें कोविड-19 पॉजिटिव की पुष्टि हो चुकी है तो बेहतर यही होगा कि आप इस बारे में अपने डॉक्टर से बात करें कि आपको कितने दिन तक सेक्स नहीं करना चाहिए। इसके साथ-साथ अगर आपको लगता है कि आपको कोविड-19 होने की आशंका थी लेकिन अब आप बेहतर महसूस कर रहे हैं तब भी सेक्स करने से पहले आपको डॉक्टर से बात जरूर करनी चाहिए। साउथ कोरिया और चीन समेत कई देशों से ऐसी भी खबरें और रिपोर्ट मिल रही हैं कि वैसे लोग जो कोविड-19 बीमारी से ठीक हो चुके थे उनमें दोबारा इंफेक्शन की पुष्टि हुई है।

ऐसे में अगर आप खुद में बीमार महसूस नहीं कर रहे हैं, आपको ऐसा लग रहा है कि आपका स्वास्थ्य ठीक है और आपका कोविड-19 का टेस्ट भी नेगेटिव आया है, उसके बावजूद इस बात की आशंका हो सकती है कि वायरस आपके सिस्टम से पूरी तरह से बाहर न निकला हो। ऐसे में अपने डॉक्टर से अच्छी तरह से डीटेल में बात करें कि आपको दोबारा सेक्स करने से पहले कितने दिन तक इंतजार करना चाहिए।

घर से बाहर चारों तरफ कोविड-19 महामारी फैली हुई है लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि आप अपनी शारीरिक और सेक्शुअल जरूरतों को पूरी तरह से दबा दें। ऐसे समय में हस्तमैथुन पूरी तरह से सेफ है। अगर आपका पार्टनर आपके साथ नहीं रहता है तो आप इस समय को लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप की तरह मानकर फोन सेक्स, सेक्सटिंग या विडियो डेट कर सकते हैं। हालांकि ये चीजें बहुत ज्यादा सेफ नहीं मानी जाती क्योंकि ऐसी कई रिपोर्ट्स आयी हैं जिसमें टेक्नोलॉजी से जुड़ी इन चीजों को आसानी से हैक करने की बात सामने आयी।

इतना ही नहीं इस महामारी के समय हो सकता है कि आपको किसी भी तरह की सेक्स से जुड़ी गतिविधि में शामिल न होने का मन करे और आपकी कामेच्छा इस समय पूरी तरह से दब जाए। इसकी वजह यह है कि इस महामारी के साथ कितनी सारी और समस्याएं हैं। घर के बाहर मौजूद बीमारी की चिंता, बेचैनी, घर से काम करने का स्ट्रेस, साथ में घर भी संभालना और घर के बाकी काम भी खुद ही करना, आपसे दूर रहने वाले परिवार के सदस्यों और दोस्तों की चिंता। इन सबकी वजह से भी ऐसे समय में सेक्स करने की इच्छा खत्म हो जाती है। ऐसे में अगर कोई चीज आपसे नैचरली नहीं हो रही तो खुद को जबरन फोर्स न करें। एक बार जब ये महामारी का समय खत्म हो जाएगा उसके बाद आपकी कामेच्छा भी फिर से पहले जैसी हो जाएगी।

कंडोम आपको यौन संचारित रोग (सेक्शुअली ट्रांसमिटेड डिजीज एसटीडी) और इंफेक्शन से बचाता है जिससे आपको कम से कम इस महामारी के समय तो जरूर बचना चाहिए जब हेल्थकेयर से जुड़े सिस्टम पर इतना ज्यादा बोझ हो रखा है। लेकिन कंडोम आपको कोविड-19 के संक्रमण से नहीं बचा सकता। कोविड-19 यौन संचारित रोग की श्रेणी में नहीं आता।

कोविड-19 को फैलने से रोकने का सबसे अच्छा तरीका है फिजिकल डिस्टेंसिंग यानी दूसरों से कम से कम 3 से 6 फीट की दूरी बनाए रखना जो कि सेक्स करने के दौरान संभव नहीं है। ऐसे में आप कंडोम के साथ सेक्स करें या इसके बिना, कोविड-19 के संक्रमण को रोकने में कंडोम कोई मदद नहीं कर सकता।

इतना ही नहीं, सेक्स के दौरान लुब्रिकेंट के तौर पर हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल भूल से भी न करें क्योंकि सैनिटाइजर का इस्तेमाल सिर्फ बाहरी (external) यूज के लिए किया जाता है और अगर आप सेक्स के दौरान इसका इस्तेमाल करेंगे तो आपकी बॉडी को कई तरह से नुकसान पहुंच सकता है।

दुनियाभर में ज्यादातर देशों की सरकारों ने लॉकडाउन इसलिए लगाया गया है ताकि फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सके लेकिन अब तक कोई भी देश वायरस को फैलने से रोक नहीं पाया है। कोविड-19 के लिए बन रही वैक्सीन को भी तैयार होने और आम लोगों तक पहुंचने में 12 से 18 महीने का समय लगेगा। इसका मतलब है कि अगर लॉकडाउन और इस तरह की कई दूसरी पाबंदियां हटा भी दी जाएं उसके बावजूद वायरस मौजूद रहेगा और अगर हम जरूरी ऐहतियाती कदम न उठाएं तो हम में से बहुत से लोगों को वायरस से संक्रमित होने का खतरा बना रहेगा।

हो सकता है कि सेक्स न कर पाने की वजह से अभी आपको निराशा और कुंठा महसूस हो रही हो लेकिन सच यही है कि सेक्स, जीवित रहने के लिए अनिवार्य या अतिआवश्यक नहीं है। लिहाजा लॉकडाउन हटने के बाद भी आपको दूसरों से खासकर उन लोगों से जिनके साथ आप नहीं रहते फिजिकल डिस्टेंसिंग बनाकर रखनी होगी। इसका मतलब है कि अगले कुछ और दिनों तक जब तक वायरस के खत्म होने की बात सामने नहीं आती आपको अपनी सेक्स लाइफ को होल्ड पर रखना होगा।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
RemdesivirRemdesivir Injection15000.0
Fabi FluFabi Flu Tablet3500.0
CoviforCovifor Injection5400.0
AnovateANOVATE OINTMENT 20GM90.0
Pilo GoPilo GO Cream67.5
Proctosedyl BdPROCTOSEDYL BD CREAM 15GM66.3
ProctosedylPROCTOSEDYL 10GM OINTMENT 10GM63.9
और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें