myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

फेशियल टिक विकार क्या है?

चेहरे की मांसपेशियों का झपकना, मरोड़ आना या बार-बार एक ही प्रकार की मुंह की गतिविधियां सभी स्थितियां फेशियल टिक्स के अंतर्गत आती हैं। सामान्य तौर पर, टिक (tics) एक ऐसी असाधारण गतिविधि या आवाज होती है, जिस पर व्यक्ति का कोई नियंत्रण नहीं होता या बहुत कम नियंत्रण होता है, जैसे पलकें झपकाना, खांसना, छींकना, गला साफ करना, चेहरा हिलाना, सिर हिलाना, हाथ-पैरों को हिलाना या असाधारण आवाज निकालना।

(और पढ़ें - पलकों के झपकने के लाभ)

बचपन में कुछ बच्चे इन टिक्स का अनुभव कर सकते हैं, लेकिन ये वयस्कों को भी प्रभावित कर सकते हैं। लड़कियों की तुलना में लड़कों में टिक्स की समस्या अधिक आम हैं।

फेशियल टिक्स चेहरे में होने वाले अनियंत्रित संकुचन होते हैं, जैसे बार-बार आंख झपकना या नाक को रगड़ना। हालांकि फेशियल टिक्स आमतौर पर अनैच्छिक होते हैं, लेकिन उन्हें अस्थायी रूप से नियंत्रित किया जा सकता है।

फेशियल टिक विकार के लक्षण क्या हैं?

फेशियल टिक्स में निम्नलिखित लक्षण शामिल हो सकती है, जैसे:

  • आंखों का झपकना
  • मुंह बनाना
  • मुंह मरोड़ना
  • नाक सिकुड़ना
  • भेंगा होना
  • बार-बार गले को साफ करना या घुरघुर करना इत्यादि।

(और पढ़ें - भेंगापन का इलाज)

फेशियल टिक विकार क्यों होता है?

फेशियल टिक का कारण अज्ञात है, लेकिन ऐसा माना जाता है कि तनाव टिक को अधिक बढ़ाता है। चेहरे के टिक के विकारों में कई कारक योगदान करते हैं जो टिक्स की आवृत्ति और गंभीरता को बढ़ाते हैं। योगदान करने वाले कारकों में, तनाव, उत्तेजना, थकान, गर्मी, उत्तेजक दवाएं, अटेंशन डेफिसिट हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर (एडीएचडी), ऑब्सेसिव-कंपल्सिव डिसऑर्डर (ओसीडी - ज्यादा सोचने का विकार) इत्यादि शामिल हैं।

(और पढ़ें - तनाव दूर करने के उपाय)

फेशियल टिक विकार का इलाज कैसे होता है?

यदि कोई टिक हल्का है और कोई अन्य समस्या नहीं पैदा करता है तो उपचार की आवश्यकता नहीं है। सेल्फ हेल्प टिप्स, जैसे तनाव या थकावट से बचना, अक्सर लोगों के लिए बहुत उपयोगी होते हैं। यदि कोई टिक अधिक गंभीर है और रोजमर्रा की गतिविधियों को प्रभावित कर रहा है, तो उपचार की सलाह दी जा सकती है।

(और पढ़ें - तनाव कम करने के लिए योग)

ऐसी दवाइयां भी हैं जो टिक को कम करने में मदद कर सकती हैं। इनका प्रयोग मनोवैज्ञानिक उपचार के साथ या बाकि उपचारों के असफल हो जाने पर किया जा सकता है।

(और पढ़ें - दवा की जानकारी)

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...