हाथों में दर्द किसी बीमारी या खराब स्थिति का लक्षण हो सकता है जैसे हड्डियों में दर्द, मांसपेशियों में चोट, टेंडन (हड्डियों को मांसपेशियों से जोड़ने वाले ऊतक), नसों और रक्त वाहिकाओं में दर्द होना। हाथ में दर्द कई घरेलू उपायों द्वारा ठीक किया जा सकता है।

  1. सेब के सिरके से करें हाथों में दर्द का देसी इलाज - Seb ke sirke se karein hatho mein dard ka desi ilaj
  2. हाथों में दर्द से छुटकारा दिलाता है नारियल तेल - Hatho mein dard se chuthkara dilata hai nariyal tel
  3. गर्म सिकाई है हाथ में दर्द का रामबाण इलाज - Garm sikai hai haath me dard ka rambaan ilaj
  4. ठंडी सिकाई है हाथों में दर्द का घरेलू उपाय - Thandi sikai hai hatho mein dard ka gharelu
  5. अदरक है हाथों में दर्द का घरेलू उपाय - Adarak hai hatho mein dard ka gharelu upay
  6. ऑलिव ऑयल से करें हाथों में दर्द का घरेलू इलाज - Olive oil se karein hatho mein dard ka gharelu ilaj
  7. हाथ में दर्द को कम करता है सेंधा नमक - Hath mein dard ko kam karta hai sendha namak
  8. पुदीने का तेल दिलाता है हाथों में दर्द से आराम - Pudine ka tel dilata hai hatho mein dard se aaram
  9. हाथों में दर्द की देसी दवा है गुड़ - Hatho mein dard ki desi dawa hai gud

सेब के सिरके को कई वर्षों से खाना पकाने के लिए इस्तेमाल करते आए हैं, लेकिन कुछ समय से इसे घरेलू उपायों में भी शामिल किया जा रहा है। इसके एसिटिक एसिड के गुण बैक्टीरिया को नष्ट कर के शरीर के प्रभावित हिस्से को आराम पहुंचाता है।

आवश्यक सामग्री

  • 2 चम्मच सेब का सिरका
  • 1 चम्मच शहद
  • पुदीने का पत्ता
  • 1 गिलास (300 मी.ली.) पानी

इस्तेमाल का तरीका

  • सेब के सिरके को शहद और पुदीने के साथ पानी में मिलाएं
  • अब इस मिश्रण को पी लें

इसके अलावा आप चाहें तो 1 चम्मच सेब के सिरके को सीधा पी भी सकते हैं या फिर अपने प्रभावित हिस्से पर लगा सकते हैं।

कब इस्तेमाल करें 

इस उपाय को दिन में 2 बार इस्तेमाल करें।

नारियल का तेल सूजन, दर्द और मोच को ठीक करने में काफी मददगार है। इसमें मौजूद फैटी एसिड्स मांसपेशियों को आराम पहुंचाने के साथ शरीर के पूर्ण स्वास्थ्य को भी बेहतर बनाता है।

आवश्यक सामग्री

  • 2-3 चम्मच नारियल तेल

इस्तेमाल का तरीका

खाना पकाते समय उसमें मक्खन या साधरण तेल की जगह रोजाना 2 से 3 चम्मच नारियल तेल का इस्तेमाल करें। इसके अलावा नारियल तेल से मालिश भी एक प्रभावशाली उपाय होगा। अपने प्रभावित हिस्से पर हल्के हाथ से मसाज करें और उसके बाद थोड़ी देर के लिए उस पर कपड़ा या पट्टी बांध लें।

कब इस्तेमाल करें

इस उपाय को रोजाना 3 से 4 दिन तक अपनाए।

गर्म सिकाई सख्त जोड़ों को मुलायम बनाती है और मांसपेशियों को आराम पहुंचाती है, इससे दर्द से कुछ समय के लिए राहत मिलती है। गर्म सिकाई को कई घरेलू उपायों में इस्तेमाल किया जाता है जैसे की गठिया, गांठ, सूजन या मोच।

आवश्यक सामग्री

  • 1 बर्तन गर्म पानी (सिकाई के लिए)
  • 1 बाल्टी गर्म पानी (नहाने के लिए)
  • 1 कपड़ा या तौलिया

इस्तेमाल का तरीका

  • तौलिये को गर्म पानी में भिगो लें 
  • इसके बाद इससे अपने प्रभावित हिस्से की 15-20 मिनट के लिए सिकाई करें 
  • गर्म पानी से नहाएं या सिर्फ प्रभावित हिस्से को भिगोना भी फायदेमंद साबित होता है 

कब इस्तेमाल करें 

गर्म पानी की सिकाई को हर घंटे में एक बार दोहराएं जब तक दर्द से आराम न मिल जाए।

ठंडी सिकाई करने से रक्त वाहिकाएं जल्दी संकुचित हो जाती हैं जिससे कुछ समय के लिए आराम मिलता है और दर्द गायब हो जाता है। 

आवश्यक सामग्री

  • बर्फ
  • साफ कपड़ा
  • 1 प्लास्टिक बैग
  • 1 तौलिया

इस्तेमाल का तरीका 

  • बर्फ के टुकड़ों को एक प्लास्टिक बैग में रखें। बर्फ की जगह आप सिकाई के लिए तौलिये का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। तौलिए को ठंडे पानी में गीला कर लें और प्लास्टिक बैग में रख दें। बैग को 15 मिनट के लिए फ्रीजर में जमने के लिए छोड़ दें।
  • साफ कपड़े को ठंडे पानी से गीला कर लें और इसके बाद उसे बर्फ के प्लास्टिक बैग पर बांध लें। अगर आपकी त्वचा पर यह ज्यादा ठंडा महसूस नहीं हो रहा हो तो आप कपड़े को ठंडे पानी में भिगो भी सकते हैं।
  • अपनी त्वचा पर इसे 20 मिनट के लिए रखें।
  • सिकाई पूरी हो जाने पर तौलिए से अपनी त्वचा को सुखा लें
  • आप बर्फ को अपनी त्वचा पर फेर भी सकते हैं, बर्फ जल्द ही पिघलने लगेगी।

कब-कब इस्तेमाल करें

इस प्रक्रिया को हर दो घंटे में तब तक दोहराएं जब तक दर्द पूरी तरह से खत्म न हो जाए।

इन सभी उपायों के साथ अपने प्रभावित हाथ को आराम दें, कोई भी ऐसा कार्य न करें जिससे हाथ पर तनाव पड़े। अपने प्रभावित हाथ के ऊपर न सोए और न ही उस पर ज्यादा जोर दें। खाना खाने या अन्य कार्यों के लिए अपने दूसरे हाथ का इस्तेमाल करें। वैसे तो इस स्थिति को ज्यादा गंभीरता से लेने की आवश्यकता नहीं होती, लेकिन अगर आपके हाथ का रंग लाल, नीला या फीका पड़ चुका है या फिर कलाई, हथेली, उंगलियों पर एक गांठ या उभार दिखाई दे रहा है तो ऐसे में यह डॉक्टर द्वारा ही ठीक की जा सकती है। अगर 1 हफ्ते के अंदर आपका दर्द ठीक नहीं होता है तो डॉक्टर से सलाह लें।

अदरक एक दर्द निवारक जड़ी-बूटी है, जिससे कई प्रकार के दर्द को ठीक किया जाता है। हाथ में हो रहे दर्द को कम करने के लिए यह एक बेहतरीन घरेलू विकल्प माना जाता है। एक अध्ययन की मानें तो अदरक को प्रभावित हिस्से पर लगाने से सूजन, जलन और दर्द ठीक किए जा सकते हैं।

आवश्यक सामग्री

  • 1 चम्मच पीसा हुआ अदरक
  • 1/2 कप पानी 
  • 1 कपड़ा 

इस्तेमाल का तरीका

  • अदरक को घीस लें या उसके छोटे-छोटे टुकड़े काट लें
  • अब इसे पानी के साथ 3 से 4 मिनट के लिए उबाल लें
  • पानी को छान कर इसमें कपड़ा भिगोए
  • अब कपड़े को अपने प्रभावित हाथ पर 15 से 20 मिनट के लिए बांध लें

कब इस्तेमाल करें

इस प्रक्रिया को दिन में दो बार 15 से 20 मिनट के लिए इस्तेमाल करें जब तक दर्द चला न जाए।

ऑलिव ऑयल में एंटी इंफ्लेमेटरी (सूजन और दर्द को कम करने वाले) गुण होते हैं और साथ ही यह एंटीसेप्टिक दवा की तरह भी काम करता है, जिससे दर्द में आराम मिलता है। ऑलिव ऑयल को कई घरेलू नुस्खों में इस्तेमाल किया जाता है लेकिन इसका सबसे बेहतरीन इस्तेमाल दर्द, गठिया या गांठ को ठीक करने में माना जाता है।

आवश्यक सामग्री

  • 15 मि.ली ऑलिव ऑयल 

इस्तेमाल का तरीका

  • ऑलिव ऑयल से अपने प्रभावित हिस्से की 10 मिनट तक मसाज करें 
  • अगर आपके दोनों हाथो में दर्द है तो घर के किसी सदस्य से हाथों की मालिश करवाएं

कब इस्तेमाल करें 

हाथों में दर्द के दौरान ऑलिव ऑयल से दिन में 2 बार मसाज करें।

शोधकर्ताओं के अनुसार साधारण नमक की जगह अपने भोजन में सेंधा नमक को शामिल करने से कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं। सेंधा नमक में दर्द और जलन कम करने के गुण होते हैं, क्योंकि इसमें मैग्नीशियम सल्फेट मौजूद होता है। यह हड्डियों, जोड़ों और गठिया आदि के दर्द से भी छुटकारा दिलाने में मदद करता है। 

आवश्यक सामग्री 

  • ½ कप सेंधा नमक
  • 1 कप गर्म पानी
  • 1 कपड़ा/ छोटी पट्टी

इस्तेमाल का तरीका

  • पानी में सेंधा नमक को मिला लें 
  • इस मिश्रण को अपने प्रभावित हिस्से पर और कपड़े या पट्टी की मदद से 15 मिनट के लिए बांध लें 

कब इस्तेमाल करें 

इस प्रक्रिया को दिन में 2 बार इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है, साथ ही अगर शरीर के अन्य जोड़ों या हड्डियों में भी दर्द है तो सेंधा नमक के पानी से नहाने पर आराम मिलेगा।

ऑलिव ऑयल की ही तरह पुदीने का तेल भी हाथों और मांसपेशियों में दर्द से छुटकारा दिलाता है। पुदीने के तेल से मोच, जोड़ों में दर्द, सूजन और जलन को भी ठीक किया जा सकता है। पुदीने के तेल के कई स्वास्थ्य संबंधी लाभ भी होते हैं। इसके इन सभी गुणों के पीछे इसका शीतल प्रभाव है।

आवश्यक सामग्री

  • 2 चम्मच पुदीने का तेल
  • 10 मिली ऑलिव ऑयल

इस्तेमाल का तरीका

  • पुदीने के तेल और ऑलिव ऑयल को एक साथ मिला लें
  • अब इससे अपने प्रभावित हिस्से की 10-15 मिनट तक मालिश करें

कब इस्तेमाल करें

इस प्रक्रिया को रोजाना 1 हफ्ते तक दिन में 2 से 3 बार इस्तेमाल करें।

मांसपेशियों की कमजोरी के कारण भी हाथों में दर्द जैसे लक्षण पैदा हो सकते हैं, शरीर में मैग्निशियम की मात्रा में कमी इसका मुख्य कारण होता है। मैग्नीशियम पाने का एक अच्छा सोत्र है गुड़ का काड़ा, इसमें मैग्नीशियम की मात्रा अधिक होती है जिस की वजह से यह मांसपेशियों में हो रहे दर्द, सूजन और मोच को ठीक करने में मददगार माना जाता है।

पहला उपाय - 

आवश्यक सामग्री

इस्तेमाल का तरीका

  • इस उपाय को अपनाने के लिए गुड़ को पहले अच्छे से गर्म कर के पिघला लें 
  • अब इस काड़े को चाहें तो कॉफ़ी, चाय या दूध के साथ मिलाकर पी सकते हैं 

कब इस्तेमाल करें 

इस उपाय को दिन में 2 बार इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। 

दूसरा उपाय-

आवश्यक सामग्री 

इस्तेमाल का तरीका

  • ऊपर दी गयी चीज़ों को अच्छे से मिला लें जब तक वह पूरी तरह से मिक्स न हो जाए 
  • अब इसे फ्रिज में जमा ले या फिर बर्फ के साथ खाएं

कब इस्तेमाल करें 

इस विधि को सिर्फ दो या तीन बार ही इस्तेमाल करें।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ