myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

हीमोग्लोबिन​ व्यक्ति के लाल रक्त कोशिकाओं में मौजूद प्रोटीन होता है। यह कोशिकाएं शरीर के सभी अंगों में ऑक्सीजन पहुंचाने का कार्य करती है। इसके साथ ही हीमोग्लोबिन की मदद से ही व्यक्ति के शरीर के अंगों से कॉर्बन डाई ऑक्साइड बाहर निकलती है। यदि व्यक्ति के शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर कम हो जाए तो शरीर के कई कार्यों में परेशानियां आने लगती हैं।

एक स्वस्थ पुरूष के रक्त में हीमोग्लोबिन की मात्रा 13.5 ग्राम प्रति डेसीलीटर से कम नहीं होनी चाहिए, जबकि महिलाओं के रक्त में हीमोग्लोबिन की मात्रा 12 ग्राम प्रति डेसीलीटर होनी चाहिए। हीमोग्लोबिन इस स्तर से कम होने की स्थिति को हीमोग्लोबिन की कमी माना जाता है।

व्यक्ति में हीमोग्लोबिन की कमी कई कारणों जैसे, आयरन की कमी से एनीमियाप्रेग्नेंसी, किड़नी व लीवर संबंधी रोग होना व किसी प्रकार के दीर्घकालिक रोग आदि से हो सकती है। हीमोग्लोबिन की कमी में व्यक्ति को दिल की धड़कने अनियमित होने, त्वचा में पीलापन, थकान, मांसपेशियों में कमजोरी, बार बार व बिना किसी वजह के घाव होना और बार बार सिरदर्द आदि की समस्या होने लगती है।

(और पढ़ें - हीमोग्लोबिन की कमी का इलाज)

इन सभी परेशानी को ध्यान में रखते हुए इस लेख में हीमोग्लोबिन को बढ़ाने के घरेलू उपाय, तरीके व नुस्खे विस्तार से बताए गए हैं। साथ ही आपको हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए और हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए क्या खाएं व क्या करें आदि विषयों के बारे में भी बताया गया है।

(और पढ़ें - हीमोग्लोबिन टेस्ट क्या है)

  1. हीमोग्लोबिन बढ़ाने के घरेलू उपाय - Hemoglobin badhane ke gharelu upay
  2. हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए क्या करें - Hemoglobin badhane ke liye kya kare
  3. हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए - Hemoglobin badhane ke liye kya karna chahiye
  4. हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए अन्य उपाय - Hemoglobin badhane ke liye anya upay

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के तरीके में शामिल है तरबूज - Hemoglobin badhane ke tarike me shamil hai tarbooj

गर्मियों में मिलने वाले तरबूज में आयरन की अधिक मात्रा होती है। आपको तरोंताजा रखने वाला यह फल ना सिर्फ आयरन से भरपूर होता है बल्कि इसे विटामिन सी का भी अच्छा स्रोत माना जाता है। विटामिन सी आयरन के अवशोषण में मदद करता है और हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाता है। एक कप तरबूज में करीब 0.4 मिलीग्राम आयरन होता है।

(और पढ़ें - तरबूज के जूस के फायदे)

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए पालक खाएं - Hemoglobin badhane ke liye palak khaye

आज के दौर में कई लोगों को हरी सब्जी खाना पसंद नहीं होता है। विशेष रूप से बच्चे पालक या हरी पत्तेदार सब्जियों को खाने में आनाकानी करते हैं। लेकिन आपको बता दें कि इन हरी सब्जियों को खाने से आपको कई तरह के फायदे मिलते हैं।

अगर आप भी अपनी डाइट में आयरन वाले खाद्य पादर्थों को शामिल करना चाहते हैं तो ऐसे में आपको पालक को अपनी रोजाना डाइट में शामिल करना चाहिए। यह आपको तेजी से आयरन प्रदान करता है और हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाता है। करीब 100 ग्राम पालक को खाने से आपको चार मिलीग्राम तक आयरन प्राप्त होता है। 

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए पालक से बनें व्यंजन)

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए सोयाबिन और राजमा खानी चाहिए - Hemoglobin badhane ke liye soyabeans aur rajma khani chahiye

हीमोग्लोबिन को बढ़ाने के लिए आपको फलियां खानी चाहिए। फलियो में आप विशेष तौर पर सोयाबीन, राजमा और मटर का सेवन कर सकते हैं। सोयाबिन राजमा और मटर को आप किसी भी तरह की सब्जी के साथ मिलाकर बना सकते हैं। यह सभी फलियां रक्त में हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने का कार्य करती हैं। साथ ही इनमें फोलेट व विटामिन सी की भी उच्च मात्रा होती है। आपको बता दें की 100 ग्राम सोयाबिन से आपको करीब 15.7 मिलीग्राम आयरन मिलता है।  

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के घरेलू नुस्खे में शामिल है सेब - Hemoglobin badhane ke gharelu nuskhe me shamil hai apple

हीमोग्लोबिन को बढ़ाने के घरेलू नुस्खे में सेब को भी शामिल किया जाता है। रोजाना एक सेब खाने से हिमोग्लोबिन का स्तर सामान्य होता है। सेब में आयरन व अन्य पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो रक्त में हिमोग्लोबिन के स्तर को सामान्य बनाने के लिए जरूरी होते हैं। इस उपाय से हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने के लिए आप दिन में एक सेब का सेवन करें या सेब और चुकंदर का आधा कप जूस दिन में दो बार पिएं। इस जूस को स्वादिष्ट बनाने के लिए आप इसमें अदरक और नींबू के रस को भी मिला सकते हैं। 

(और पढ़ें - सेब के सिरके के फायदे)

हीमोग्लोबिन बढ़ाने का तरीका है चिकन ब्रेस्ट - Hemoglobin badhane ka tarika hai chicken breast

आप चिकन ब्रेस्ट को अपनी डाइट में शामिल करके हीमोग्लोबिन के स्तर को तेजी से बढ़ा सकते हैं। चिकन ब्रेस्ट आयरन का मुख्य स्रोत होता है। 100 ग्राम चिकन ब्रेस्ट से आपको करीब 0.7 मिलीग्राम आयरन मिलता है। यदि आपका हीमोग्लोबिन सामान्य स्तर से कम हो तो ऐसे में आपको रोजाना कम से कम एक बार चिकन ब्रेस्ट खाने की सलाह दी जाती है।    

(और पढ़ें - मीट खाने के फायदे)

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए योग - Hemoglobin badhane ke liye yoga

हिमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने के लिए आप एक्सरसाइज या योग की मदद ले सकते हैं। अध्ययन से पता चला है कि मध्यम और तेजी से किए जानें वाली एरोबिक्स व अन्य एक्सरसाइज से खिलाड़ियों की रक्त कोशिकाओं में वृद्धि होती है।

रक्त कोशिकाओं में हीमोग्लोबिन मौजूद होता है, जो फेफड़ों व अन्य अंगों को ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है। एक्सरसाइज के साथ ही सांस संबंधी कई ऐसे योगासन भी होते हैं। जो आपके हीमोग्लोबिन को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हीमोग्लोबिन को बढ़ाने वाली कुछ एक्सरसाइज और योग निम्नलिखित है। (और पढ़ें - एक्सरसाइज करने का सही टाइम)

(और पढ़ें - बच्चों के लिए एक्सरसाइज)

हिमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए आप निम्नलिखित घरेलू उपायों को भी अपना सकते हैं।

  • ब्राउन राइस में अधिक मात्रा में आयरन मौजूद होता है। 100 ग्राम ब्राउन राइस से आपको करीब 0.4 मिलीग्राम आयरन मिलता है। (और पढ़ें - चावल के पानी के फायदे)
  • साबुत अनाज जैसे जौ और ओटमिल की 100 ग्राम मात्रा से आपको करीब 2.5 मिलीग्राम आयरन मिलता है। (और पढ़ें - ओट्स कैसे बनाये)
  • सूखे मेवे जैसे सूखी हुई खुबानी, किशमिश और खजूर को खाने से आपको आयरन के साथ ही फाइबर और अन्य विटामिन भी प्राप्त होते हैं।
  • जिन लोगों का हीमोग्लोबिन का स्तर कम हो उनको कुछ दिनों तक स्ट्रॉबेरी खानी चाहिए। यह ना सिर्फ आयरन का स्रोत मानी जाती है, बल्कि आयरन के अवशोषण में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। (और पढ़ें - आयरन युक्त आहार)
  • डायबिटीज से ग्रसित लोगों के लिए सेहतमंद और स्वादिष्ट होने के साथ ही शहतूत हीमोग्लोबिन की कमी वालों के लिए भी एक बेहतर फल होता है। 100 ग्राम शहतूत से आपको करीब 1.8 मिलीग्राम आयरन मिलता है।
  • हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने के लिए चुकंदर को खाने की सलाह दी जाती है। चुकंदर में उच्च मात्रा में फोलेट के साथ विटामिन सी और आयरन भी मौजूद होता है।
  • आलू खाना अधिकतर लोगों को पसंद होता है। आलू में आयरन और विटामिन सी पर्याप्त मात्रा में होता है, जिसकी वजह से आलू को हीमोग्लोबिन बढ़ाने का बेहतर विकल्प माना जाता है। (और पढ़ें - एनीमिया के घरेलू उपाय)
  • अंडा खाने से आपको कई तरह के पोषक तत्व मिलते हैं, इसलिए ही इसको नाश्ते में शामिल करने की सलाह दी जाती है। एक अंडे में करीब 6 ग्राम प्रोटीन, 0.55 माइक्रोग्राम विटामिन बी12, 22 माइक्रोग्राम फोलेट और 0.59 मिलीग्राम आयरन होता है।
  • डार्क चॉकलेट भी आयरन का बेहतर स्रोत होती है। डॉर्क चॉकलेट खाने से आपके हीमोग्लोबिन का स्तर तेजी से बढ़ता है। 80 प्रतिशत डार्क चॉकलेट की 100 ग्राम मात्रा से आपको करीब 17 मिलीग्राम आयरन प्राप्त होता है, जो कि आयरन की रोजाना जरूरत का करीब 90 प्रतिशत हिस्सा पूरा करती है। (और पढ़ें - खून साफ करने के घरेलू उपाय)

इसके साथ ही हीमोग्लोबिन को बढ़ाने के लिए आपको आयरन के अवशोषण को कम करने वाले खाद्य पदार्थ जैसे कॉफी, चाय, कोल्ड ड्रिंक, शराबबियर आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। 

(और पढ़ें - विटामिन और मिनरल की कमी का इलाज)

और पढ़ें ...