myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

एचईआर2-पॉजिटिव ब्रेस्ट कैंसर एक प्रकार का स्तन कैंसर है। इसमें स्तन कैंसर कोशिकाओं में एक एचईआर2 नामक प्रोटीन होता है। आमतौर पर यह प्रोटीन स्तन कोशिकाओं के विकास, उन्हें विभाजित करने और खुद की मरम्मत करने में मदद करता है। ये कैंसर अन्य स्तन कैंसर की तुलना में तेजी से बढ़ता और फैलता है। लेकिन कभी-कभी, जीन में कोई गड़बड़ी हो जाती है जो कि एचईआर2 प्रोटीन को नियंत्रित करने लगता है और शरीर में बहुत सारे रिसेप्टर्स (प्रोटीन से बनी हुई रसायनिक संरचनाएं) बनाने लगता है। नतीजतन, आपकी स्तन कोशिकाएं अनियंत्रित रूप से बढ़ने लगती हैं। स्तन कैंसर के लगभग पांच में से एक मामले में जीन की गड़बड़ी के कारण एचईआर2 की अधिकता हो जाती है और इसकी वजह से एचईआर2-पॉजिटिव ब्रेस्ट कैंसर होता है।

यदि एचईआर2, अन्य प्रकार के स्तन कैंसर की तुलना में खतरनाक हो जाता है, तो ऐसे में कुछ उपचार मौजूद हैं जो आपके स्वास्थ को ठीक करने में मदद कर सकते हैं।

(और  पढ़ें - ब्रेस्ट कैंसर का ऑपरेशन कैसे होता है)

  1. एचईआर2-पॉजिटिव ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण - Symptoms of HER2-Positive Breast Cancer
  2. एचईआर2-पॉजिटिव ब्रेस्ट कैंसर के कारण और जोखिम कारक - Causes and Risk Factors for HER2-Positive Breast Cancer
  3. एचईआर2-पॉजिटिव ब्रेस्ट कैंसर का इलाज - HER2-Positive Breast Cancer Treatment
  4. एचईआर2-पॉजिटिव ब्रेस्ट कैंसर के डॉक्टर

एचईआर2-पॉजिटिव ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण - Symptoms of HER2-Positive Breast Cancer

किसी भी प्रकार के स्तन कैंसर में सबसे आम लक्षण स्तन में गांठ होती है। इसे छूने से असानी से महसूस किया जा सकता है।

एचईआर2-पॉजिटिव ब्रेस्ट कैंसर के अन्य लक्षणों में शामिल हैं :

(और पढ़ें - ब्रैस्ट कैंसर का होम्योपैथिक इलाज)

एचईआर2-पॉजिटिव ब्रेस्ट कैंसर के कारण और जोखिम कारक - Causes and Risk Factors for HER2-Positive Breast Cancer

डॉक्टरों को अभी तक इस बीमारी के सटीक कारणों के बारे में जानकारी नहीं है, लेकिन इस पर शोध जारी है। विशेषज्ञों का मानना है कि इसके पीछे व्यक्ति के जीन, पर्यावरण और जीवन शैली में बदलाव जैसे कारकों का संयोजन शामिल हो सकता है। फिलहाल यह बीमारी माता-पिता से उनके बच्चों में पारित नहीं हो सकती है।

(और पढ़ें - ब्रेस्ट में गांठ के कारण)

एचईआर2-पॉजिटिव ब्रेस्ट कैंसर का इलाज - HER2-Positive Breast Cancer Treatment

इस बीमारी के इलाज के लिए विशेष उपचार की जरूरत पड़ सकती है जैसे :

  • कीमोथेरेपी
    ट्यूमर को सिकोड़ने के लिए सर्जरी से पहले आपको कीमोथेरेपी की जरूरत पड़ सकती है। इसके बाद डॉक्टर शेष कैंसर कोशिकाओं को मारने के लिए कुछ दवाओं के साथ सर्जरी की सलाह दे सकते हैं।
     
  • रेडिएशन
    सर्जरी के बाद रेडिएशन थेरेपी की प्रक्रिया होती है, ताकि दोबारा से कैंसर होने के खतरे और यदि कैंसर शरीर के अन्य भागों में फैल गया है तो इसे रोका जा सके।
     
  • सर्जरी
    कैंसर के पहले चरण से लेकर तीसरे चरण तक के लिए उपचार संभवतः सर्जरी से शुरू होगा। यह दो मुख्य प्रकार की होती हैं :
     
    • लम्पेक्टॉमी या ब्रेस्ट-कंजर्विंग सर्जरी : इसमें सर्जन ट्यूमर और कुछ अन्य हानिकारक ऊतकों को हटाता है।
       
    • मैस्मेक्टोमी : इसमें पूरे स्तन को हटा दिया जाता है।
Dr. Ashok Vaid

Dr. Ashok Vaid

ऑन्कोलॉजी
31 वर्षों का अनुभव

Dr. Susovan Banerjee

Dr. Susovan Banerjee

ऑन्कोलॉजी
16 वर्षों का अनुभव

Dr. Rajeev Agarwal

Dr. Rajeev Agarwal

ऑन्कोलॉजी
42 वर्षों का अनुभव

Dr. Nitin Sood

Dr. Nitin Sood

ऑन्कोलॉजी
23 वर्षों का अनुभव

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें