myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

जोड़ों में दर्द के घरेलू उपाय से जुड़े सवाल और जवाब

सवाल 5 महीना पहले

क्या जोड़ों के दर्द को ठीक करने के लिए सरसों के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं?

Dr. Manju Shekhawat MBBS

जी हां, जोड़ों के दर्द की समस्या के लिए आप सरसों के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। सरसो के तेल में अजवाइन को हल्का गर्म करें फिर इससे दर्द वाले हिस्से पर मालिश करें। सरसो के तेल से मालिश करने से मांसपेशियों में अकड़न कम होती है और यह दर्द से निजात दिलाने में मदद करता है। आप नहाने से पहले धूप में बैठकर इस तेल से मालिश किया करें आपको अधिक लाभ होगा।

सवाल 4 महीना पहले

मेरे पति बहुत ज्यादा ओवर टाइम करते हैं और बहुत देर से घर आते हैं। उनको जोड़ों में बहुत दर्द होता है, कभी-कभी इसमें सूजन भी आ जाती है, मैं क्या करूं? क्या कपूर के तेल की मालिश से उनका दर्द ठीक हो सकता है?

Dr. R.K Singh MBBS

कपूर का इस्तेमाल दर्द और सूजन को कम करने के लिए किया जाता है। मांसपेशियों और जोड़ों के दर्द एवं सूजन के इलाज के लिए कपूर का इस्तेमाल लंबे समय तक किया जा सकता है। इस तेल से ब्लड सर्कुलेशन में भी सुधार आता है। अगर आपको किसी भी अंग में दर्द हो रहा है और आप इस तेल से मालिश करते हैं तो आपकी स्थिति में काफी सुधार होगा। जिन लोगों को जोड़ों में दर्द की समस्या है उन्हें इस तेल का इस्तेमाल रोज करना चाहिए।

कपूर का तेल बनाने के लिए सबसे पहले कपूर को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ लें। इसके बाद एक पैन में नारियल तेल डालकर उसे पिघला लें। जब तेल पिघल जाए तो इसमें कपूर डालकर प्लेट से ढ़क दें और इसे रात भर के लिए छोड़ दें। अब सुबह इसे बोतल में भर लें। अब कपूर के तेल की कुछ बूंदे हथेलियों पर लेकर रब करें, ताकि हाथों में गर्माहट पैदा हो जाए। इसके बाद इससे प्रभवोत हिस्से की सर्कुलेशन मोशन (हाथों को गोल-गोल घुमाते हुए) में मसाज करें। इससे मसाज करने पर जोड़ों को न सिर्फ गर्माहट मिलेगी बल्कि इससे रक्त संचार (ब्लड सर्कुलेशन) भी बढ़ेगा और दर्द से आराम मिलेगा। इसके अलावा इसमें मौजूद गठिया रोधी गुण भी दर्द को दूर करने में मदद करते हैं।

सवाल 4 महीना पहले

जोड़ों के दर्द के लिए कौन-से तेल से मालिश करनी चाहिए?

Dr. Manju Shekhawat MBBS

घरेलू नुस्खों में दर्द को कम करने के लिए अरंडी का तेल सबसे बेहतर है और यह आसानी से उपलब्ध भी है। अरंडी के तेल को तेज दर्द और सूजन से राहत दिलाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। अरंडी के तेल में एंटी- इंफ्लामेट्री गुण होते है जो जोड़ों में दर्द, नसों में सूजन से राहत दिलाने में बहुत फायदेमंद है। अरंडी के तेल से जोड़ों की मालिश करने से दर्द से राहत मिलती है। आप एक सप्ताह में इसका एक या दो बार इस्तेमाल किया करें।

सवाल 4 महीना पहले

क्या तिल का इस्तेमाल जोड़ों के दर्द के लिए कर सकते हैं?

Dr. Ramraj MBBS

तिल के बीज जिंक से भरपूर होते हैं और इसमें मौजूद अन्य मिनरल्स बोन मिनरल डेनसिटी (हड्डियों में मिनरल की मात्रा) पर सकारात्मक असर डालते हैं। तिल में मौजूद कॉपर को सूजन-रोधी गुणों के लिए जाना जाता है। इसमें रूमेटाइड आर्थराइटिस में होने वाले जोड़ों के दर्द और सूजन को कम करने में असरकारी पाया गया है, यह हड्डियों और रक्त वाहिकाओं को भी स्वस्थ रखने में मदद करता है। इसलिए आप जोड़ों में दर्द के लिए तिल के बीजों का इस्तेमाल कर सकते हैं।