मोलस्कम कन्टेजियोसम - Molluscum Contagiosum in Hindi

Dr. Ajay Mohan (AIIMS)MBBS

November 07, 2020

January 20, 2021

मोलस्कम कन्टेजियोसम
मोलस्कम कन्टेजियोसम

मोलस्कम कन्टेजियोसम एक प्रकार का त्वचा संक्रमण है, जो मोलस्कम कन्टेजियोसम नामक वायरस के कारण होता है। इसमें त्वचा की ऊपरी परतों पर हल्के उभार या लीशन बनने लगते हैं। लीशन ऊतक का वह हिस्सा है, जिसे चोट या बीमारी की वजह से नुकसान होता है, इसे घाव भी कहते हैं।

इन छोटे उभार में आमतौर पर दर्द नहीं होता है। य​ह कुछ समय में अपने आप ठीक हो सकते हैं और यदि इनका इलाज न किया गया तो स्कार (चोट या किसी सर्जरी का निशान) रह जाता है। यह उभार दो महीने से लेकर चार साल तक रह सकते हैं।

मोलस्कम कन्टेजियोसम की समस्या इस बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति के सीधे संपर्क में आने से होती है। जैसे किसी प्रभावित व्यक्ति के तौलिया, कपड़ा या अन्य किसी वस्तु का इस्तेमाल करना।

इस स्थिति को ठीक करने के लिए दवा और सर्जरी की मदद ली जा सकती है, लेकिन हल्के मामलों में उपचार की जरूरत नहीं होती है। यदि आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर है, तो वायरस का इलाज करना थोड़ा मुश्किल भरा हो सकता है।

मोलस्कम कन्टेजियोसम के संकेत और लक्षण क्या हैं? - Molluscum Contagiosum Symptoms in Hindi

यदि कोई व्यक्ति मोलस्कम कन्टेजियोसम वायरस से ग्रस्त व्यक्ति के संपर्क में आया है, तो हो सकता है कि अगले छह महीने तक संक्रमण के लक्षण दिखाई न दें। इसमें इंक्यूबेशन पीरियड (संक्रमण के संपर्क में आने से लेकर पहला लक्षण दिखाई देने तक का समय) दो से सात हफ्ते तक का होता है। इसके लक्षणों में शामिल हैं :

  • बहुत छोटे, चमकदार और चिकने उभार
  • त्वचा के रंग का, सफेद या गुलाबी उभार
  • 2 से 5 मिलीमीटर तक उभार

य​ह इतने हल्के और छोटे होते है कि कई बार रगड़ लगने या खुजली कर देने से निकल जाते हैं और आस पास की त्वचा को प्रभावित कर सकते हैं।

यह उभार हाथों की हथेलियों या पैरों के तलवों को छोड़कर कहीं भी मौजूद हो सकते हैं - विशेष रूप से चेहरे, पेट, हाथ और पैर या आंतरिक जांघ, जननांग और वयस्कों के पेट पर।

(और पढ़ें - स्किन इन्फेक्शन के घरेलू उपाय)

मोलस्कम कन्टेजियोसम का कारण क्या है? - Molluscum Contagiosum Causes in Hindi

मोलस्कम कन्टेजियोसम की समस्या मोलस्कम कन्टेजियोसम नामक वायरस के संपर्क में आने से होती है। यह वायरस निम्न वजह से फैलता है :

  • त्वचा से त्वचा का संपर्क
  • प्रभावित व्यक्ति के वस्तुओं का इस्तेमाल करना जैसे तौलिया या कपड़ा इत्यादि
  • यौन संपर्क
  • उभार पर खरोंच या रगड़ लगना, जिसकी वजह से आसपास की त्वचा प्रभावित होती है

मोलस्कम कन्टेजियोसम का निदान कैसे किया जाता है? - Molluscum Contagiosum Diagnosis in Hindi

डॉक्टर अक्सर प्रभावित हिस्से को देखकर संक्रमण का निदान कर सकते हैं। इसके अलावा बायोप्सी के जरिए निदान की पुष्टि हो सकती है।

आमतौर पर मोलस्कम कन्टेजियोसम का इलाज करने की जरूरत नहीं होती है, लेकिन यदि कोई समस्या (स्किन लीशन) कई दिनों से बनी हुई है तो ऐसे में डॉक्टर को दिखाना उचित निर्णय हो सकता है। मोलस्कम कन्टेजियोसम के निदान से घावों के अन्य कारणों का भी पता चल सकता है जैसे त्वचा कैंसरचिकनपॉक्स या मस्सा

(और पढ़ें - मस्से का होम्योपैथिक इलाज)

मोलस्कम कन्टेजियोसम की रोकथाम कैसे करें? Molluscum Contagiosum Prevention in Hindi

मोलस्कम कन्टेजियोसम की रोकथाम के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं-

  • बार-बार हाथ धोते रहें
  • उभार वाले हिस्से को न छुएं और यदि छुआ है तो तुरंत हाथ साफ करें
  • व्यक्तिगत चीजों को साझा न करें
  • सेक्स न करें
  • हो सके तो उभार वाले हिस्से को कवर करके रहें

मोलस्कम कन्टेजियोसम का इलाज कैसे होता है? - Molluscum Contagiosum Treatment in Hindi

मोलस्कम कन्टेजियोसम के हल्के मामले आमतौर पर 6 से 12 महीनों में बिना किसी उपचार के अपने आप ठीक हो जाते हैं। हालांकि, हो सकता है कि यह उभार पांच साल तक विकसित होते रहें। जब एक बार सारे उभार ठीक हो जाते हैं तो यह संक्रामक नहीं रहता है।

फिलहाल, मोलस्कम कन्टेजियोसम का उपचार दर्दनाक हो सकता है, इसलिए असुविधा को कम करने के लिए एनेस्थीसिया का प्रयोग किया जा सकता है।

उपचार विकल्पों में क्रायोथेरेपी और कुछ दवाइयां शामिल हैं।

(और पढ़ें - जानें चर्म रोग के बारे में)



मोलस्कम कन्टेजियोसम के डॉक्टर

Dr. Arun R Dr. Arun R संक्रामक रोग
5 वर्षों का अनुभव
Dr. Neha Gupta Dr. Neha Gupta संक्रामक रोग
16 वर्षों का अनुभव
Dr. Lalit Shishara Dr. Lalit Shishara संक्रामक रोग
8 वर्षों का अनुभव
Dr. Alok Mishra Dr. Alok Mishra संक्रामक रोग
5 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ