• हिं

मलद्वार या गुदा बाहर आना - Rectal Prolapse in Hindi

Dr. Nadheer K M (AIIMS)MBBS

October 16, 2020

September 09, 2021

मलद्वार या गुदा बाहर आना
मलद्वार या गुदा बाहर आना

मलद्वार बाहर आना या गुदा का बाहर आना एक चिकित्सीय स्थिति है, जिसमें मलाशय (रेक्टम) का कुछ हिस्सा गुदा के माध्यम से बाहर निकल आता है। मलाशय बड़ी आंत का अंतिम भाग है और गुदा वह जगह है, जहां से मल शरीर से बाहर निकलता है।

मलद्वार बाहर आने की समस्या 1 लाख में से केवल 2.5 लोगों को ही प्रभावित करती है। जो महिलाएं 50 वर्ष से अधिक उम्र की हैं उनमें पुरुषों की तुलना इस बीमारी के होने का जोखिम 6 गुना अधिक होता है।

मलद्वार बाहर आने की समस्या हल्के से लेकर गंभीर लक्षणों वाली हो सकती है। हल्के मामलों में सर्जरी की जरूरत नहीं होती है, लेकिन गंभीर मामलों में सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है।

(और पढ़ें - मलाशय में कुछ फंस जाना)

गुदा बाहर आने के संकेत और लक्षण - Rectal Prolapse Symptoms in Hindi

गुदा या मलद्वार बाहर आना के लक्षणों में गुदा से बाहर एक उभार या लाल रंग के मांस का टुकड़ा दिखना शामिल है। इस स्थिति में ऐसा महसूस हो सकता है जैसे आप किसी छोटी गेंद पर बैठे हों।

शुरुआत में, यह उभार मल त्याग के दौरान या बाद में दिखाई दे सकता है। हालांकि, यह दबाव छोड़ने पर अपने आप अंदर जा सकता है या फिर हाथ से इसे सावधानीपूर्वक वापस अंदर की ओर ढकेला जा सकता है।

मलद्वार बाहर आना के अन्य लक्षणों में गुदा और मलाशय में दर्द और मलाशय के अंदरूनी परत से ब्लीडिंग होना शामिल है। दुर्लभ मामलों में ही यह जानलेवा हो सकता है।

फीकल इन्कंटीनेंस (मल त्याग की गतिविधियों को नियंत्रित करने में असमर्थता) इस बीमारी का एक अन्य लक्षण है। इसमें गुदा से बलगम, खून या मल अपने आप लीक होने लगता है।

सामान्य शारीरिक गतिविधि करने के दौरान जैसे चलना, बैठना और व्यायाम करने से भी गुदा से मलाशय का कुछ हिस्सा बाहर आ सकता है।

गुदा बाहर आने का कारण - Rectal Prolapse Causes in Hindi

मलद्वार बाहर आने के कारणों में शामिल है-

  • दस्त या कब्ज की लंबे समय से शिकायत
  • मल त्याग करते समय खिंचाव महसूस करना या मल त्याग करने के लिए जोर लगाना
  • वृद्धावस्था, जिसमें मलाशय वाले हिस्से में मांसपेशियों और स्नायुबंधन (रेशेदार संयोजी ऊतक जो एक हड्डी को दूसरी हड्डी से जोड़ते हैं) में कमजोरी आ जाती है
  • गुदा या कूल्हे वाले हिस्से में कभी चोट लगी हो
  • तंत्रिका को नुकसान पहुंचना, जिसमें मांसपेशियों को कसने और उन्हें ढीला करने की क्षमता कमजोर हो जाती है
  • तंत्रिका संबंधी समस्याएं, जैसे रीढ़ की हड्डी की बीमारी या रीढ़ की हड्डी में संक्रमण

(और पढ़ें - गुदा से रक्तस्राव)

गुदा बाहर आने का निदान - Rectal Prolapse Diagnosis in Hindi

डॉक्टर सबसे पहले लक्षण और मेडिकल हिस्ट्री चेक कर सकते हैं। वे फिजिकल टेस्ट भी कर सकते हैं। डॉक्टर मलाशय का निरीक्षण करने के लिए हाथ में मेडिकल ग्लव्स (दस्ताने) पहनकर गुदा वाले हिस्से में उंगली डालकर प्रभावित हिस्से की जांच कर सकते हैं। 

किसी भी पॉलीप्स की जांच के लिए आपको कोलोनोस्कोपी कराने की भी जरूरत पड़ सकती है।

मलद्वार बाहर आने के निदान के लिए कुछ अन्य टेस्ट की भी जरूरत हो सकती है-

  • इलेक्ट्रोमायोग्राफी (ईएमजी): यह एक नैदानिक प्रक्रिया है जिसमें मांसपेशियों की स्थिति और उन्हें नियंत्रित करने वाली तंत्रिका कोशिकाओं का मूल्यांकन किया जाता है।
  • एनल मैनोमेट्री : इसमें मांसपेशियों की मजबूती का परीक्षण करने के लिए एक पतली ट्यूब को मलाशय में डाला जाता है।
  • प्यूडेंडल नर्व टर्मिनल मोटर लैेंटेंसी टेस्ट : इसमें प्यूडेंडल नसों की जांच की जाती है, इस नस के माध्यम से मल त्याग करने की प्रक्रिया को नियंत्रित किया जाता है।
  • कोलोनोस्कोपी : इसमें एक पतली ट्यूब गुदा वाले हिस्से से अंदर डाली जाती है। इस ट्यूब में छोटा कैमेरा और टॉर्च लगा होता है, जिसकी मदद से आंतों को देखा जा सकता है और किसी समस्या का पता लगाया जा सकता है।
  • एमआरआई : यह (एमआरआई) एक इमेजिंग टेस्ट है, जिसकी मदद से श्रोणि वाले हिस्से की जांच की जा सकती है।

(और पढ़ें - भगन्दर का कारण और उपाय)

मलद्वार बाहर आने का इलाज - Rectal Prolapse Treatment in Hindi

मलद्वार बाहर आने की समस्या अपने आप ठीक नहीं होती है। यदि इसका उपचार शुरू नहीं किया गया तो यह समय के साथ बदतर हो सकती है।

यदि मलद्वार बाहर आने की पुष्टि हो जाती है, लेकिन लक्षण काफी हल्के हैं जिससे सामान्य जीवन जीने में कोई दिक्कत नहीं हो रही है तो ऐसे में ट्रीटमेंट में देरी की जा सकती है।

जिन मामलों में ट्रीटमेंट की जरूरत होती है उनमें लक्षणों से छुटकारा पाने का एकमात्र तरीका सर्जरी है, जिसमें गुदा से बाहर निकले हिस्से को हटा दिया जाता है।



संदर्भ

  1. American Society of Colon and Rectal Surgeons [Internet]. Bannockburn, IL; Rectal Prolapse Expanded Version
  2. Segal J, McKeown DG, Tavarez MM. Rectal Prolapse. Treasure Island, FL: StatPearls Publishing; 2020 Jan.
  3. Bordeianou L, Hicks CW, Kaiser AM, Alavi K, Sudan R, Wise PE. Rectal Prolapse: An Overview of Clinical Features, Diagnosis, and Patient-Specific Management Strategies. 2014 May;18(5):1059-69. PMID: 24352613.
  4. Goldstein Scott D., Maxwell Pinckney J. Rectal Prolapse. Clin Colon Rectal Surg. 2011 Mar; 24(1): 39–45. PMID: 22379404.
  5. Shin Eung Jin. Surgical Treatment of Rectal Prolapse. J Korean Soc Coloproctology. 2011 Feb; 27(1): 5–12. PMID: 21431090.
  6. Attaallah Wafi. Update on the pathophysiology of rectal prolapse. Turk J Gastroenterol. 2019 Dec; 30(12): 1074–1075. PMID: 31258139.

मलद्वार या गुदा बाहर आना के डॉक्टर

Dr. Abhay Singh Dr. Abhay Singh गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
1 वर्षों का अनुभव
Dr. Suraj Bhagat Dr. Suraj Bhagat गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
23 वर्षों का अनुभव
Dr. Smruti Ranjan Mishra Dr. Smruti Ranjan Mishra गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
23 वर्षों का अनुभव
Dr. Sankar Narayanan Dr. Sankar Narayanan गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें

मलद्वार या गुदा बाहर आना की दवा - Medicines for Rectal Prolapse in Hindi

मलद्वार या गुदा बाहर आना के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

मलद्वार या गुदा बाहर आना का ऑपरेशन

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ