myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

साइनस से जुड़े सवाल और जवाब

सवाल 4 महीना पहले

मुझे साइनस इन्फेक्शन है। रात को सोते समय मेरी नाक बंद रहती है जिसकी वजह से मुझे सांस नहीं आ पाती है और मुझे मुंह से सांस लेना पड़ता है? मैं क्या करूं?

Dr. Amit Singh MBBS

आपके लक्षणों से पता चलता है कि आपको नेजल सेप्टम के टेढ़े होने या एलर्जी या संक्रमण की वजह से साइनस हुआ है। आप ईएनटी डॉक्टर से मिलकर अपना चेकअप करवा लें। नाक की एंडोस्कोपी और इसके बाद पैरानेसल साइनस का सीटी स्कैन करवा लें। आपको एंटी-हिस्टामाइन (एलर्जी को रोकने वाले) और स्टेरॉयड नेजल स्प्रे का इस्तेमाल करना चाहिए।

सवाल 3 महीना पहले

मुझे साइनस इंफेक्शन है। मेरी नाक हमेशा भरी और बहती रहती है और मुझे मेरी नाक और कान में दर्द भी होता है। मुझे इसके लिए कोई दवा बताएं?

Dr. Manju Shekhawat MBBS

आप साइनोसाइटिस के लिए टैबलेट Amoxicillin एक दिन में तीन टाइम 5 दिन के लिए लें। इसी के साथ टैबलेट Sinarest दिन में 2 बार 3 दिन तक लें। अगर दवा लेने के बाद भी आपको यह समस्या रहती है तो आगे की जांच के लिए आप ईएनटी स्पेशलिस्ट से मिलें।

सवाल 3 महीना पहले

मुझे साइनस में संक्रमण है। इसकी वजह से मुझे चेहरे पर बहुत दबाव महसूस होता है। क्या इसके लिए मुझे डॉक्टर को दिखाना चाहिए या नहीं?

Dr. R.K Singh MBBS

ऐसा लगता है आपको एक्यूट राइनो साइनोसाइटिस की समस्या है जो कि एक प्रकार का नाक में होने वाला संक्रमण है। इसके लिए आप टैबलेट Amoxicillin और नेजल ड्रॉप का इस्तेमाल कर सकते हैं।

सवाल 3 महीना पहले

मेरी उम्र 22 साल है। मुझे 7 साल की उम्र से साइनस इंफेक्शन है और यह मुझे अभी भी लगातार होता रहता है। मुझे एक हफ्ते में 2 बार सिरदर्द रहता है, नाक बहने, सांस लेने में दिक्कत और कभी कभी बुखार भी हो जाता है। मैं स्टूडेंट हूं और इन परेशानियों की वजह से मैं अपनी पढ़ाई पर ध्यान भी नहीं लगा पाता हूं और क्लास में मुझे बस छींके आती रहती हैं। मेरे पिता को भी इस तरह का ही इंफेक्शन है। मुझे इसके लिए कोई उपाय बताएं?

Dr. Faisal Mukhtar MBBS, PG Dip, DNB

आपकी बात सुनकर ऐसा लग रहा है कि आपको साइनस इंफेक्शन नहीं एलर्जिक रायनाइटिस है। आप ईएनटी के डॉक्टर से मिलकर अपना चेकअप करवा लें और इसके लिए ट्रीटमेंट जल्द से जल्द शुरू कर दें। समय पर इलाज लेने से आप गंभीर स्थिति से बच सकते हैं।