myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

हम सभी अपने रोजमर्रा के कार्यों में अन्य अंगों के मुकाबले हाथों का अधिक इस्तेमाल करते हैं। हाथों के अत्यधिक या कई बार सामान्य उपयोग के कारण भी यह क्षतिग्रस्त हो सकते हैं। इन मामलों में उंगलियों व अंगूठों में चोट लगना बेहद आम बात होती है।

कई बार आपका हाथ अचानक या अनजाने में किसी ठोस चीज से टकरा जाता है। इसके कारण हाथ में दर्द जैसी समस्याएं होने का खतरा रहता है। अंगूठे में दर्द होना इस स्थिति का सबसे सामान्य लक्षण होता है। अंगूठा हमारे हाथ की पकड़ और अन्य कार्यों में मदद करता है।

कई बार गेंद पकड़ते, गिरने, टकराने और सड़क हादसे आदि के कारण अंगूठे में चोट लग जाती है। ऐसे में व्यक्ति को अचानक या कई बार कुछ समय बाद दर्द महसूस होता है। यदि दर्द तीव्र और अचानक उठता है तो यह आपातकालीन स्थिति हो सकती है। इसमें डॉक्टर से संपर्क करने की आवश्यकता पड़ सकती है। हालांकि, अंगूठे में दर्द से घर पर ही कई घरेलू उपचार द्वारा निजात पाया जा सकता है।

तो चलिए जानते हैं अंगूठे में दर्द के रामबाण घरेलू उपायों के बारे में -

  1. ठंडी सिकाई है अंगूठे में दर्द का इलाज - Cold Therapy Home Care for Thumb Pain in Hindi
  2. गर्म सिकाई है अंगूठे में दर्द का घरेलू उपचार - Heat Therapy to Ease your Thumb Pain in Hindi
  3. सेंधा नमक है अंगूठे में दर्द का रामबाण इलाज - Epsom Salt Home Remedy to Relieve Thumb Pain in Hindi
  4. ऑलिव ऑयल से करें अंगूठे में दर्द का घरेलू इलाज - Take Care of your Thumb Pain at Home by Olive Oil in Hindi
  5. हल्दी है अंगूठे में दर्द का घरेलू नुस्खा - Turmeric Home Remedy for Thumb Pain in Hindi

यदि आपके अंगूठे में दर्द का कारण कोई पुराना आर्थराइटिस है तो इससे छुटकारा पाने का सबसे बेहतरीन उपाय है ठंडी सिकाई। दरअसल ठंडी सिकाई रक्त वाहिकाओं को संकुचित कर देती है, जिससे कुछ समय के लिए दर्द से राहत मिलती है।

आवश्यक सामग्री

  • बर्फ/ठंडे पानी की थैली या बैग
  • साफ कपड़ा/तौलिया

इस्तेमाल का तरीका

  • पहला तरीका -
  1. बर्फ की सिकाई के लिए तौलिए में बर्फ लपेटें
  2. अपने प्रभावित हिस्से पर इसे 20 से 30 मिनट के लिए रखें
  3. सिकाई पूरी हो जाने पर तौलिए से अपनी त्वचा को सुखा लें
  • दूसरा तरीका -
  1. आप चाहें तो कपड़े को ठंडे पानी में गीला कर के उसे प्लास्टिक बैग में भी भर सकते हैं। इसके बाद बैग को 15 मिनट के लिए फ्रीजर में जमने के लिए छोड़ दें।
  2. अब ठंडे कपड़े को अंगूठे व उसके आस पास के हिस्से पर हल्के दबाव के साथ बांध लें और कुछ समय के लिए छोड़ दें
  3. कम ठंड महसूस होने पर कपड़े को फिर से ठंडे पानी में भिगोएं

सावधानी : बर्फ को त्वचा पर सीधा न लगाएं, ऐसा करने से त्वचा पर जलन व लालिमा बढ़ हो सकती है।

कब-कब इस्तेमाल करें

इस उपाय को दिन में 3 से 4 बार 20 से 30 मिनट के लिए अपनाएं, जब तक दर्द पूरी तरह से गायब न हो जाए।

कुछ लोगों के लिए ठंडी सिकाई की बजाए गर्म सिकाई एक बेहतर विकल्प होता है। अगर आपके अंगूठे के जोड़ या आसपास की मांसपेशियों में दर्द है तो आपके लिए गर्म सिकाई एक बेहतर उपचार हो सकता है। गर्म सिकाई सख्त जोड़ों को मुलायम बनाकर मांसपेशियों में आराम पहुंचाती है।

आवश्यक सामग्री

  • 1 गर्म तवा (सिकाई के लिए)
  • 1 बाल्टी गर्म पानी (नहाने के लिए)
  • 1 कपड़ा

इस्तेमाल का तरीका

  • पहला तरीका -
  1. तवे को चूल्हे पर गर्म कर लें और उस पर कपड़ा रख दें 
  2. कपड़े के इस्तेमाल योग्य गर्म होने पर इससे अपने प्रभावित हिस्से की 15 से 20 मिनट के लिए सिकाई करें
  3. दर्द महसूस होने पर ऐसा दिन में 3 से 4 बार करें
  • दूसरा तरीका -
  1. गर्म पानी से स्नान या सिर्फ प्रभावित हिस्से को नहलाना भी फायदेमंद साबित होता है
  2. ऐसा करने के लिए बाल्टी या टब में पानी गर्म करें
  3. इसके बाद इससे स्नान करें या टब में कुछ देर हाथ डुबोए रखें

सावधानी : प्रभावित हिस्से की सिकाई से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि कपड़ा या पानी अधिक गर्म न हो। ऐसा होने पर त्वचा क्षतिग्रस्त भी हो सकती है।

कब इस्तेमाल करें

गर्म सिकाई, ठंडी सिकाई के मुकाबले अधिक आरामदायक हो सकती है। लेकिन इसे अधिक इस्तेमाल न करें, गर्म सिकाई केवल दर्द महसूस होने पर करें।

अगर आपके अंगूठे के जोड़ में दर्द के साथ-साथ हथेली में भी दर्द हो रहा है तो इसका कारण मौसम में होने वाला जोड़ों का दर्द भी हो सकता है। इस स्थिति में सेंधा नमक एक बेहतरीन उपचार है, क्योंकि इसमें दर्द, जलन और सूजन को कम करने वाले गुण होते हैं। इसके इन गुणों का कारण इसमें मौजूद मैग्नीशियम सल्फेट है जो हड्डियों, जोड़ों और गठिया आदि का इलाज करने में मदद करता है।

आवश्यक सामग्री

  • ½ कप सेंधा नमक
  • 1 टब या बाल्टी गर्म पानी

इस्तेमाल का तरीका

  1. एक टब या बाल्टी में पानी भर लें और उसमें सेंधा नमक मिलाएं
  2. अब टब में अपने प्रभावित हिस्से को 15 मिनट के लिए डाले रखें
  3. इसके अलावा आप चाहें तो अपने नहाने के पानी में भी 1 कप सेंधा नमक मिला सकते हैं

सावधानी : वैसे तो सेंधा नमक के कोई नुकसान नहीं होते हैं, लेकिन फिर भी एक साथ अधिक नमक का इस्तेमाल न करें।

कब इस्तेमाल करें 

इस उपाय को दिन में 2 से 3 बार अपनाएं। यदि आप स्नान करना चाहते हैं तो सुबह और शाम का समय सबसे बेहतर रहेगा।

जैतून के तेल के कई फायदे हैं। इसमें दर्द से छुटकारा दिलाना भी शामिल है। ऑलिव ऑयल एक दर्दनिवारक औषधि है जो अंगूठे और उंगलियों के जोड़ों, हड्डियों और मांसपेशियों के इलाज में मदद करती है। इस तेल में सूजन और दर्द को कम करने के गुणों के साथ-साथ ऐंटीसेप्टिक गुण भी हैं।

आवश्यक सामग्री

  • 2 बड़े चम्मच ऑलिव ऑयल

इस्तेमाल का तरीका

  1. ऑलिव ऑयल से अपने अंगूठे व अन्य प्रभावित हिस्से की 5 से 10 मिनट तक मसाज करें
  2. आप चाहें तो ऑलिव ऑयल के साथ पुदीने के तेल का इस्तेमाल भी कर सकते हैं
  3. ऐसा करने के लिए 2 छोटे चम्मच ऑलिव में 2 बड़े चम्मच पुदीने का तेल मिलाएं
  4. अब स्टेप 1 को फॉलो करें

सावधान : बेहतर परिणामों के लिए तेल की मात्रा का ध्यान रखें।

कब इस्तेमाल करें

हाथों में दर्द के दौरान ऑलिव ऑयल से दिन में 2 बार मसाज करें।

कई मामलों में अंगूठे में दर्द का कारण मोच, सूजन या मांसपेशियों में जलन हो सकती है। हालांकि, इन लक्षणों के बारे में अधिकतर लोगों को कोई जानकारी नहीं होती है। अगर आपको अपने अंगूठे या उसके आसपास के हिस्से में ऐसे संकेत दिखाई दें तो हल्दी के देसी नुस्खे का इस्तेमाल करें। हल्दी एक जलन, सूजन और दर्द निवारक औषधि है, जिसे आयुर्वेद के कई उपचार में संजीवनी बूटी के बराबर माना जाता है। इसके इन गुणों का कारण इसके एंटीइंफ्लामेट्री (सूजन व दर्द को कम करने वाले) और एंटीऑक्सीडेंट (प्रतिऑक्सीकारक) प्रभाव हैं।

आवश्यक सामग्री

  • कपड़ा
  • 2 बड़े चम्मच हल्दी पाउडर
  • 1 नींबू
  • आधा गिलास पानी

इस्तेमाल करने का तरीका

  1. गर्म पानी में 2 बड़े चम्मच हल्दी मिलाएं और एक पेस्ट तैयार कर लें
  2. अगर घर में नींबू उपलब्ध है तो उसका रस मिलाना ज्यादा कारगर साबित हो सकता है
  3. तैयार हुए मिश्रण को अपने प्रभावित अंगूठे पर लगाएं और इस पर कोई बैंडेज या साफ कपड़ा बांध लें
  4. हल्दी को अपना असर दिखाने के लिए कपड़े को 10 घंटे या एक रात के लिए बंधा रहने दें
  5. इसके अलावा रोज रात सोने से पहले 2 चम्मच हल्दी का गर्म दूध के साथ सेवन करें

सावधानी : हल्दी एक बेहतरीन औषधि है जिसे बिना किसी सावधानी के इस्तेमाल किया जा सकता है। 

कब इस्तेमाल करें

बेहतर परिणाम पाने के लिए हल्दी के इलाज को दिन में 2 से 3 बार इस्तेमाल करें।

और पढ़ें ...

References

  1. NHS [Internet]. National Health Services; Thumb pain
  2. Mayo Clinic [Internet]. Mayo Foundation for Medical Education and Research (MFMER). Rochester, MN; Thumb arthritis
  3. Richard Dias, et al. Basal thumb arthritis. Postgrad Med J. 2007 Jan; 83(975): 40–43. PMID: 17267677.
  4. Harvard Health Publishing [Internet]. Harvard University. Boston, MA; Top 5 ways to reduce crippling hand pain
  5. Valdes K, et al. An exercise program for carpometacarpal osteoarthritis based on biomechanical principles.. J Hand Ther. 2012 Jul-Sep;25(3):251-62. PMID: 32080199. PMID: 22794499
  6. Daily J.W., Yang M. and Park S. Efficacy of turmeric extracts and curcumin for alleviating the symptoms of joint arthritis: A systematic review and meta-analysis of randomized clinical trials. Journal of Medicinal Food, 1 August 2016; 19(8).
ऐप पर पढ़ें