आप किसके लिए हेल्थ इन्शुरन्स लेना चाहते हैं?
सबसे बड़े सदस्य की उम्र बताएं (वर्ष में):
इन्शुरन्स राशि चुनें:
ऑनलाइन ओ.पी.डी myUpchar के डॉक्टर से सलाह
₹ 4110.0

बीमा प्लस की विशेषताएं और लाभ

कोरोनावायरस ट्रीटमेंट इसमें कोरोनावायरस का इलाज भी कवर किया जाता है, जिसमें बीमा राशि तक का खर्च मान्य होता है।
मरीज के भर्ती होने का खर्च मरीज को भर्ती करने पर कमरे, आईसीयू, डॉक्टर की फीस इसमें शामिल है। इमरजेंसी या पहले से योजनाबद्ध चिकित्सा शामिल है। बीमा राशि की सीमा तक का खर्च मान्य है।
डे-केयर प्रोसीजर myUpchar बीमा प्लस अस्पताल में भर्ती किए बिना ही किए जाने वाले प्रोसीजर को भी शामिल करता है। इसमें बीमा राशि तक का खर्च मान्य होता है।
अस्पताल में भर्ती होने से पहले और डिस्चार्ज होने के बाद का मेडिकल खर्च अस्पताल में भर्ती होने के 30 दिन पहले तक और डिस्चार्ज होने के 60 दिन बाद तक के मेडिकल खर्चों को कवर किया जाता है।
पहले से मौजूद रोग और नामित बीमारियां myUpchar बीमा प्लस इन्हें 24 महीने बाद कवर करता है।
प्रारंभिक प्रतीक्षा अवधि यदि कोई दुर्घटना या चोट नहीं है, तो 30 दिन का वेटिंग पीरियड है। इस अवधि के बाद आप सर्विस के लिए क्लेम कर सकते हैं।
कमरे का किराया इसमें बीमा राशि का 1 प्रतिशत और आसीयू में भर्ती होने पर बीमा राशि का 2 प्रतिशत खर्च मान्य है।
रोड एम्बुलेंस इसमें myUpchar बीमा प्लस 1500 रुपये तक का खर्च कवर करता है।
प्री-पॉलिसी हेल्थ चेकअप इसमें स्वास्थ्य बीमा लेने से पहले स्वास्थ्य जांच करवाने की आवश्यकता नहीं पड़ती है।

जानें अन्य कंपनियों की तुलना में कितना किफायती है बीमा प्लस

आपको बीमा प्लस क्यों खरीदना चाहिए??

अस्पताल के खर्च को कवर करने के लिए यह आपको अस्पताल में भर्ती होने, एम्बुलेंस, डे केयर प्रोसीजर और घरेलू देखभाल आदि के खर्च से सुरक्षित रखता है।
कैशलेस क्लेम हमारे नेटवर्क में आने वाले अस्पतालों में कैशलेस ट्रीटमेंट का लाभ उठाएं और आपके अस्पताल का बिल इन्शुरन्स कंपनी भरेगी।
गंभीर बीमारियों की कवरेज myUpchar बीमा प्लस जानलेवा बीमारियों के इलाज को भी कवर करता है, जो एक अलग कवरेज के रूप में उपलब्ध है।
कर लाभ प्रीमियम का भुगतान करने पर आपको टैक्स में छूट भी मिलती है।
ऑनलाइन-ओपीडी आप 24x7 फोन पर या ऑनलाइन डॉक्टर से कंसल्टेशन ले सकते हैं।

आसानी से हेल्थ इन्शुरन्स क्लेम करने का तरीका

स्वास्थ्य बीमा दावों (क्लेम) को दर्ज करने के लिए आपके पास दो विकल्प मौजूद हैं - पहला है प्रतिपूर्ति दावे यानी रिम्बर्समेंट क्लेम, जिसमें पॉलिसीधारक को शुरू में अस्पताल के बिलों का भुगतान स्वयं करना होता है, इस राशि को बाद में बीमाकर्ता पॉलिसी धारक को लौटाता है। दूसरा विकल्प कैशलेस की सुविधा है, जहां आपको अस्पताल को कोई सीधा भुगतान करने की आवश्यकता नहीं होती।

पहला चरण

  1. आपातकालीन स्थिति में अस्पताल में भर्ती होने पर 24 घंटे के भीतर हमें इस बारे में 1800-102-4488 पर कॉल करके सूचित करें। हालांकि, यदि आप पूर्व योजना के तहत अस्पताल में भर्ती होने जा रहे हैं, तो कृपया भर्ती होने से 48 घंटे पहले हमें इसी नंबर पर कॉल करके या [email protected] पर ई-मेल भेजकर सूचित करें।

दूसरा चरण

  1. अस्पताल के बीमा या टीपीए डेस्क पर एक प्री-ऑथराइजेशन फॉर्म उपलब्ध होगा, या आप उसे यहां से भी डाउनलोड कर सकते हैं।
  2. कृपया फॉर्म के पहले खंड में अपना व्यक्तिगत विवरण भरें और दस्तखत करके शेष विवरण भरने के लिए अस्पताल के बीमा या टीपीए डेस्क को सौंप दें।
  3. अस्पताल भरे हुए प्री-ऑथराइजेशन फॉर्म को केयर इंश्योरेंस को 1800-200-6677 पर फैक्स कर देगा।

तीसरा चरण

  1. केयर इंश्योरेंस की अपनी मेडिकल टीम अस्पताल द्वारा जमा किए गए आपके मामले और सभी दस्तावेजों की जांच करेगी।
  2. यदि प्री-ऑथराइजेशन के लिए आपका अनुरोध स्वीकृत हो जाता है तो हम आपको और अस्पताल को सूचित करेंगे।
  3. यदि हम तक पूरी जानकारी नहीं पहुंचती है या कुछ अन्य जानकारी की आवश्यकता महसूस होती है तो केयर इंश्योरेंस की टीम आपको और अस्पताल को नियमित रूप से सूचित करेगी, ताकि आपके मामले का समाधान जल्द से जल्द सुनिश्चित किया जाए।
  4. यदि प्री-ऑथराइजेशन के लिए आपके अनुरोध को अस्वीकार कर लिया जाता है तो इसका सिर्फ यही मतलब है कि इस समय हमारे पास उपलब्ध जानकारी के आधार पर हम आपके अनुरोध को आगे नहीं बढ़ा सकते। ऐसे मामलों में, आप अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद रिम्बर्समेंट ले सकते हैं।

कैशलेस अस्पतालों का नेटवर्क

Care Health Insurance - strong association with over 7000+ hospitals in India will ensure hassle free cashless treatment to our customers

See List of Network Hospitals

पोलिसी का विवरण और बाकी शर्तें

स्वास्थ्य बीमा क्या कवर नहीं करता है?

आपकी आवश्यकताओं के अनुसार सही स्वास्थ्य बीमा को चुनने से पहले पॉलिसी दस्तावेजों में अपवादों को अच्छे से पढ़ लें। ऐसा करने पर आप अप्रत्याशित परिस्थितियों के लिए तैयार हो जाएंगे। यदि किसी खर्च या परिस्थिति को बीमा पॉलिसी से हटाया गया है, तो आप उसे क्लेम नहीं कर सकते हैं। इसमें निम्न को शामिल नहीं किया जाता है -

  1. शराब व अन्य नशीले पदार्थों के सेवन, लत या दुरुपयोग से होने वाली बीमारियों के इलाज पर होने वाला खर्च।
  2. दुर्घटना को छोड़कर कोई भी इलाज या अन्य मेडिकल खर्च जो पॉलिसी अवधि के शुरुआती 30 दिनों के भीतर किया गया हो।
  3. जन्मजात रोगों के इलाज पर होने वाला मेडिकल खर्च।
  4. खुद को चोट पहुंचाने, खुदकुशी करने या उसकी कोशिश करने पर होने वाला मेडिकल खर्च।
  5. एबॉर्शन या मिसकैरेज पर होने वाला मेडिकल खर्च।

आपके लिए स्वास्थ्य बीमा क्यों जरूरी है?

जीवन की प्रकृति अप्रत्याशित होती है इसलिए मेडिकल इमरजेंसी तब भी हो सकती है, जब हमें उनके होने का अंदाजा भी न हो। लगातार बढ़ते आधुनिकीकरण से हमारी जीवनशैली प्रभावित हो गई है और हम काम की चिंता, समय पर भोजन न खाने और देर से सोने व जागने के आदी हो गए हैं। जबकि हमारे शरीर को काम, भोजन व नींद सभी चीजें एक संतुलन में चाहिए होती हैं।

कई युवा वयस्क जीवनशैली से संबंधित बीमारियों से जूझते हैं और साथ ही पारिवारिक स्वास्थ्य समस्याएं भी विभिन्न रोग होने का खतरा बढ़ाती हैं। ऐसी स्थितियों में मेडिकल इमरजेंसी होने की आशंका बढ़ जाती है। इसलिए आपकी आवश्यकता के अनुसार सबसे अच्छा स्वास्थ्य बीमा लेना आपको अधिकतर कवरेज प्रदान करता है।

निम्न कुछ कारण हैं, जो स्वास्थ्य बीमा को आपके वित्तीय निवेश के लिए फायदेमंद बनाते हैं -

  1. मेडिकल इन्फ्लेशन यानि चिकित्सा मुद्रास्फीति एक वास्तविकता है, जिसका सामना कई परिवारों को करना पड़ रहा है। आजकल स्वास्थ्य देखभाल व मेडिकल ट्रीटमेंट हमारी वित्तीय क्षमता से कहीं अधिक महंगे हैं।
  2. उम्र बढ़ने के साथ-साथ बीमारियां होने का खतरा भी बढ़ जाता है। बढ़ती स्वास्थ्य समस्याओं को देखते हुए आपके मेडिकल खर्च भविष्य में और भी अधिक बढ़ सकते हैं।
  3. आप आयकर अधिनियम के अनुसार धारा 80डी टैक्स में लाभ प्राप्त कर सकते हैं और अधिकतम 1 लाख रुपये की कटौती के लिए क्लेम कर सकते हैं। हालांकि, यह कटौती प्रस्तावक और बीमित व्यक्ति की उम्र पर निर्भर करता है।
  4. स्वास्थ्य बीमा योजनाओं में निवेश करके वित्तीय रूप से सुरक्षित रहें और अस्पताल के बिलों के साथ-साथ आधुनिक तकनीक वाली इलाज प्रक्रियाओं के खर्च से भी बचें।

    अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

  1. मुझे अपने परिवार के लिए स्वास्थ्य बीमा क्यों खरीदना चाहिए?
  2. आज पहले की अपेक्षा अधिक चिकित्सा सुविधाएं मौजूद हैं, लेकिन यह सुविधाएं महंगी होती जा रही हैं। दूसरी तरफ, मेडिकल इमरजेंसी पड़ने पर घर पर परिवार और बुजुर्गों की देखभाल करना आसान नहीं होता है। इसलिए परिवार स्वास्थ्य बीमा लेना अच्छा रहता है। यदि आप अपने परिवार के लिए स्वास्थ्य बीमा लेते हैं तो चाहे आपके सामने आपातकालीन स्थिति हो या पूर्व योजना के तहत इलाज करवाना हो, दोनों में बीमा कंपनी की तरफ से किफायती कवरेज मिलेगी, जिसमें कई लाभ होंगे जैसे कैशलेस (नकद के बिना) अस्पताल में भर्ती, सालाना स्वास्थ्य जांच इत्यादि।
  3. परिवार स्वास्थ्य बीमा योजना कैसे काम करती है?
  4. पारिवारिक स्वास्थ्य बीमा योजना एक ऐसी स्वास्थ्य योजना है, जिसमें न सिर्फ आप ​बल्कि आपका परिवार (आपका जीवनसाथी, बच्चे और माता-पिता) भी कवर होता है। यानी इसमें मिलने वाले लाभ के हकदार आपके साथ-साथ परिवार के सदस्य भी होंगे। इसके लिए आपको बीमा कंपनी को प्रति माह/वर्ष कुछ निश्चित रकम अदा करनी होती है। बदले में, कंपनी आपको स्वास्थ्य से जुड़े खर्चों में पूर्णतया या कुछ मात्रा में मदद करती है, जिससे व्यक्ति पर अचानक से खर्चों का बोझ नहीं आता और उसे आर्थिक समस्याएं नहीं झेलनी पड़ती हैं। आपातकालीन या पूर्व योजना के अनुसार अस्पताल में भर्ती होने के दौरान, बीमित व्यक्ति उन अस्पतालों में कैशलेस उपचार के लिए जा सकते हैं, जो बीमा कंपनी के नियमों के तहत आते हैं। 'केयर इंश्योरेंस' सीधे अस्पताल के साथ खर्चों का निपटारा करेगा, इसमें आपकी कोई भूमिका नहीं होगी। यदि आप किसी ऐसे अस्पताल में जाते हैं, जो कि बीमा कंपनी के नेटवर्क में नहीं आता है, तो ऐसे में आप भरपाई (मेडिकल क्लेम) के लिए आवेदन कर सकते हैं। केयर इंश्योरेंस अपने नियम व शर्तों के तहत प्रक्रिया को आगे बढ़ाएंगे।
  5. क्या मैं एक से ज्यादा स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी ले सकता हूं?
  6. हां, आप एक से ज्यादा स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी ले सकते हैं। यदि आपने कई बीमाकर्ता से स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी ली है तो आप दावे (मेडिकल क्लेम) के निपटान के लिए इनमें से किसी एक पॉलिसी का चयन कर सकते हैं। यदि किसी पॉलिसी के तहत दावे की राशि बीमा राशि से अधिक है, तो आप दावे के निपटान के लिए किसी अन्य बीमाकर्ता का भी चुनाव कर सकते हैं। यदि आपने केयर हेल्थ इंश्योरेंस (सीएचआई) का चयन किया है, तो यह कंपनी अपने नियम व शर्तों के तहत प्रक्रिया को आगे बढ़ाएंगी और चिकित्सा खर्चों का निपटान करेगी।
  7. क्या मैं पॉलिसी अवधि के दौरान बीमा की राशि को बढ़ा सकता हूं?
  8. हां, आप पॉलिसी नवीनीकरण (रिन्युअल) के समय बीमा राशि को बढ़ा सकते हैं।
  9. क्या नियोक्ता स्वास्थ्य योजना (एम्प्लॉयर हेल्थ प्लान) के दौरान मुझे एक अलग स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी की आवश्यकता है?
  10. यदि आपके पास एम्प्लॉयर हेल्थ प्लान के अलावा अलग से हेल्थ इंश्योरेंस नहीं है, तो ज़्यादातर लोग अलग से हेल्थ इंश्योरेंस लेने को ही बेहतर मानते हैं, क्योंकि सिर्फ एम्प्लॉयर हेल्थ प्लान पर भरोसा करके रहना बुद्धिमानी भरा फैसला नहीं है। ध्यान रखिए, जिस दिन आप अपनी कंपनी को छोड़ते हैं या नौकरी बदलने का फैसला करते है, उस दिन से नियोक्ता द्वारा स्वास्थ्य योजना कवरेज की तरफ से दी जाने वाली सुविधाएं रोक दी जाएंगी। इसके बाद जब आप कोई दूसरा रोजगार ढूंढते हैं, तब तक आप इसका लाभ नहीं उठा सकते हैं। जबकि अलग से लिया गया हेल्थ इंश्योरेंस प्लान जारी रहेगा, पारिवारिक स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत आप अपने प्लान को अपने अनुसार डिजाइन कर सकते हैं, अपनी पसंद की बीमा राशि का चुनाव करने के साथ ही अन्य सुविधाएं भी ले सकते हैं, लेकिन यह कॉर्पोरेट मेडिक्लेम पॉलिसी में आपको ऐसी सुविधाएं नहीं मिलती हैं।
  11. क्या सीएचआई यानी केयर हेल्थ इंश्योरेंस में कोविड-19 (कोरोना वायरस संक्रमण) का उपचार शामिल है?
  12. हां, केयर हेल्थ इंश्योरेंस के अंतर्गत कोरोना वायरस उपचार को कवर किया गया है। यदि बीमित व्यक्ति में कोरोना का निदान होता है तो यह पॉलिसी विभिन्न चिकित्सा खर्चों को कवर करके पर्याप्त सुरक्षा प्रदान करती है। इसके अलावा यह बीमा पॉलिसी आईसीयू में होने वाला खर्च, कमरे का खर्च, देखभाल से जुड़े खर्च और अस्पताल में भर्ती से पहले व बाद के खर्चों को भी कवर करती है।
  13. क्या केयर-फैमिली प्लान में कैशलेस सुविधा है?
  14. हां, केयर-फैमिली प्लान में कैशलेस सुविधा शामिल है, बशर्ते बीमित व्यक्ति सूचीबद्ध अस्पताल में चिकित्सा प्राप्त करे। कैशलेस फीचर तब और भी ज्यादा मददगार साबित होता है, जब मेडिकल इमरजेंसी आ जाती है और अस्पताल के बिलों का भुगतान करने के लिए बीमित व्यक्ति के पास पर्याप्त राशि नहीं होती है। इस सुविधा का लाभ लेने के लिए बीमाधारक को कंपनी के नेटवर्क में आने वाले अस्पताल का चुनाव करना होगा, अस्पताल के बीमा डेस्क पर जाना होगा, आईडी और हेल्थ कार्ड दिखाना होगा और विधिवत प्री-ऑथराइजेशन फॉर्म जमा करना होगा। केयर इन्शुरन्स दस्तावेजों के सत्यापन के बाद नियम व शर्तों के अधीन सीधे अस्पताल के साथ खर्चों का निपटान करते हैं।
  15. कम उम्र में स्वास्थ्य बीमा खरीदने के क्या फायदे हैं?
  16. कम उम्र में स्वास्थ्य बीमा लेना, एक नहीं कई तरह से फायदेमंद साबित हो सकता है। सबसे पहले, बिना किसी प्री-पॉलिसी मेडिकल चेक-अप के भी पॉलिसी जारी की जा सकती है। आप ऑनलाइन व आसान प्रक्रिया के माध्यम से स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी प्राप्त कर सकते हैं। दूसरा, प्रतीक्षा अवधि (वेटिंग पीरियड) के जल्दी समाप्त होने के कारण आप उम्र बढ़ने पर बिना किसी देरी के निर्धारित उपचारों के लिए कवरेज प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा, आपकी उम्र जितनी कम है, उतनी ही संभावना है कि आपका स्वास्थ्य अच्छा होगा। इसलिए, आपको कोई अतिरिक्त भुगतान नहीं करना होगा।
  17. अपने परिवार के सदस्यों को मौजूदा पॉलिसी में कैसे जोड़ें?
  18. आप नवीनीकरण (रिन्युअल) के समय अपने परिवार के सदस्यों को मौजूदा पॉलिसी में जोड़ सकते हैं।
  19. क्या मुझे पहले से मौजूद बीमारियों के लिए कवर मिलेगा?
  20. यह बीमारी के प्रकार और गंभीरता पर निर्भर करता है। उदाहरण के तौर पर यदि किसी को पहले से कैंसर, एचआईवी, पार्किंसंस रोग, थैलेसीमिया, न्यूरोपैथी, लीवर और किडनी रोग, डाउन सिंड्रोम और अल्जाइमर रोग सहित कई अन्य बीमारियां हैं, तो ऐसे में केयर हेल्थ इंश्योरेंस पहले से मौजूद इन बीमारियों को कवर नहीं करता है।
  21. दावा (क्लेम) करते समय मुझे किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी?
  22. यह आपके द्वारा किए गए दावे के प्रकार पर निर्भर करेगा। कैशलेस क्लेम के मामले में, आपको अस्पताल में टीपीए द्वारा दिए गए आवश्यक फॉर्म को भरना होगा, जबकि प्रतिपूर्ति (रिम्बर्समेंट) या भरपाई के मामले में आपको अपने हेल्थ इनवॉइस अपलोड/सबमिट करना होगा।
  23. क्या मैं गैर-नेटवर्क अस्पताल में भर्ती हो सकता हूं?
  24. हां, आप ऐसा कर सकते हैं। हालांकि, इस मामले में आपको प्रतिपूर्ति (रिम्बर्समेंट) या भरपाई के लिए दावा करना होगा, क्योंकि कैशलेस सुविधा हमारे नेटवर्क में आने वाले अस्पतालों में ही उपलब्ध है।
  25. स्वास्थ्य बीमा खरीदने के लिए सबसे अच्छी उम्र क्या है?
  26. बड़ा सीधा सा उत्तर है। आप जितनी कम उम्र में इस तरह का बीमा लेंगे, उतना ही आपका शुरुआती और बाद का प्रीमियम कम होगा। इसके अलावा, यदि आपकी उम्र कम है, तो प्रतीक्षा अवधि (वेटिंग पीरियड) पूरी कर लेने के बाद आप जल्द विभिन्न कवर का फायदा उठाने के योग्य हो जाएंगे। युवाओं को इसलिए भी हेल्थ बीमा लेना चाहिए. क्योंकि उनमें भी बीमारियां या दुर्घटनाओं का जोखिम हमेशा बना रहता है। इसके अलावा कई युवा आर्थिक रूप से सुरक्षित नहीं होते हैं और अस्पताल में भर्ती होने व अन्य चिकित्सा खर्चों को पूरा करना उनके लिए मुश्किल हो सकता है।
  27. आपात स्थिति में अस्पताल में भर्ती होने के समय मुझे किसे फोन करना चाहिए?
  28. हम हर समय व हर दिन आपकी सेवा में रहेंगे। आप हमें 1800-258-4242 पर कॉल करें और हम आपकी हर संभव मदद करेंगे।
  29. जीवन बीमा और स्वास्थ्य बीमा में क्या अंतर है?
  30. जीवन बीमा एक लंबी अवधि की पॉलिसी है, जो बीमित व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसके परिवार को क्लेम की राशि का भुगतान करने में मदद करती है। जबकि स्वास्थ्य बीमा बीमित व्यक्ति के स्वास्थ्य और चिकित्सा खर्चों के भुगतान में मदद करती है।
  31. क्या मेरी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी पूरे भारत में मान्य होगी?
  32. हां, केयर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी पूरे भारत में मान्य है।
  33. क्या कोई स्वास्थ्य बीमा दावा खारिज या अस्वीकार किया जा सकता है?
  34. हां, यदि स्वास्थ्य बीमा दावा आपकी पॉलिसी के नियमों और शर्तों का पालन नहीं करता है तो उसे अस्वीकार किया जा सकता है। उदाहरण के लिए - यदि आप प्रतीक्षा अवधि पूरी करने से पहले ही मौजूदा बीमारी के उपचार के लिए दावा करते हैं, तो आपका दावा अस्वीकार किया जा सकता है।
  35. क्या मैं एक से अधिक स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी ले सकता हूं?
  36. हां, आप एक से अधिक स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी ले सकते हैं।
  37. यदि मैं 24 घंटे से कम समय के लिए भर्ती हुआ हूं तो क्या मैं क्लेम के लिए आवेदन कर सकता हूं?
  38. यदि यह एक डे-केयर प्रक्रिया है तो हां, आप ऐसा कर सकते हैं।
  39. अगर मैं समय पर अपने नवीनीकरण प्रीमियम का भुगतान करने से चूक जाता हूं तो क्या होगा?
  40. यदि आप समय पर अपने नवीनीकरण प्रीमियम का भुगतान करने से चूक जाते हैं, तो आपकी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी समाप्त हो जाएगी और आपको अपने स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी को फिर से खरीदने की प्रक्रिया शुरू करनी होगी।
  41. क्या मैं अपनी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी का उपयोग पहले दिन से शुरू कर सकता हूं?
  42. नहीं, 30 दिनों की प्रारंभिक प्रतीक्षा अवधि है। हालांकि, किसी अस्पताल में अचानक से भर्ती होने से संबंधित दावों के मामले में, कोई प्रारंभिक प्रतीक्षा अवधि नहीं होती है और आप पॉलिसी खरीदने के बाद किसी भी समय हमारी सुविधाओं का लाभ ले सकते हैं।

Terms & Conditions

नियम एवं शर्तें


सहमति

मैं घोषणा करता हूं कि :

पॉलिसी में शामिल करते समय ऐसे बीमित सदस्य जिनमें कोविड-19 संक्रमण का निदान हुआ है और / या टेस्ट किया गया है और / या इलाज चल रहा है और / या लक्षण हैं और पॉलिसी में शामिल करते समय वह केयर - ग्रुप केयर इन्शुरन्स पॉलिसी, या अन्य किसी बीमाकर्ता कंपनी में कोविड-19 क्षतिपूर्ति के लिए कवर नहीं था तो उन्हें कवरेज नहीं दी जाएगी

पिछले 4 सप्ताह के दौरान मैं इन लक्षणों से पीड़ित नहीं हूं

मैं, डॉक्टरवाहिनी प्राइवेट लिमिटेड द्वारा व्यवस्थित केयर हेल्थ इन्शुरन्स लिमिटेड के केयर - ग्रुप केयर इन्शुरन्स के तहत कोविड-19 इंशुरन्स कवर लेने के लिए सहमत हूं। मैं एतद् द्वारा घोषणा करता हूं कि मैंने पॉलिसी के नियमों और शर्तों को ध्यानपूर्वक पढ़ लिया है।

मैं डॉक्टरवाहिनी प्राइवेट लिमिटेड को प्रीमियम इकट्ठा करने और मेरी तरफ से केयर हेल्थ इन्शुरन्स लिमिटेड में जमा करने के लिए अधिकृत करता हूं।

यह सूचना सिर्फ डॉक्टरवाहिनी प्राइवेट लिमिटेड (ग्रुप मैनेजर) के ग्राहकों के उपयोग के लिए है। इससे उन्हें केयर हेल्थ इन्शुरन्स लिमिटेड के माध्यम से बीमा कवर के तहत नामांकन में सुविधा मिलेगी।


अस्वीकरण

यह बीमा कवर केयर - ग्रुप केयर इंश्योरेंस UIN: RHIHLGP21404V022021 के तहत दिया जा रहा है।

डॉक्टरवाहिनी प्राइवेट लिमिटेड (ग्रुप मास्टर पॉलिसी धारक) के ग्राहक पॉलिसी के लिए अपना नामांकन करवा सकते हैं।

अपने विवेक के अनुसार इस पॉलिसी के लिए नामांकन करें, आपकी ओर से पुष्टि होने पर ही आपके खाते से प्रीमियम की राशि काटी जाएगी।

अधिक जानकारी के लिए कृपया नामांकन से पहले पॉलिसी के नियमों और शर्तों को ध्यानपूर्वक पढ़ें - केयर हेल्थ इंश्योरेंस लिमिटेड (पूर्व नाम - रेलिगेयर हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड )

पंजीकृत कार्यालय : 5वीं मंजिल, 19 चावला हाउस, नेहरू प्लेस, नई दिल्ली-110019

पत्राचार कार्यालय : यूनिट नंबर 604 - 607, छठी मंजिल, टॉवर सी, यूनिटेक साइबर पार्क, सेक्टर -39, गुरुग्राम - 122001 (हरियाणा)

सीआईएन : U66000DL2007PLC161503 यूआईएन : UIN:RHIHLGP21404V022021

आईआरडीएआई पंजीकरण संख्या - 148

एक बार पॉलिसी के लिए प्रीमियम चुकाने के बाद उसे रद्द नहीं किया जा सकता, फ्री लुकअप पीरियड में भी रद्द करने की अनुमति नहीं है।

हेल्थ इन्शुरन्स से संबंधित लेख

छत्तीसगढ़ डॉ खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना
छत्तीसगढ़ डॉ खूबचंद बघेल...
Mukesh Sharma
संपादकीय विभाग               
स्वास्थ्य साथी योजना
स्वास्थ्य साथी योजना
Mukesh Sharma
संपादकीय विभाग               
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन
Mukesh Sharma
संपादकीय विभाग               
और पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ