myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

यह हैरानी से कम नहीं है कि हिमाचल प्रदेश स्थित श्री लाल बहादुर शास्त्री गवर्नमेंट मेडिकल काॅलेज एंड हाॅस्पीटल के डाॅक्टरों ने बीते गुरुवार एक मरीज के पेट से चाकू, चम्मच, स्क्रूड्राइवर, टूथब्रश और स्टील की पट्टी निकाली।

क्या है मामला?
आपने कभी ऐसी घटना के बारे में सुना नहीं होगा कि किसी व्यक्ति के पेट के अंदर से चाकू की नोक बाहर आ रही हो लेकिन यह कोरी कल्पना नहीं बल्कि हकीकत है। हिमाचल प्रदेश स्थित मंडी के सुंदरनगर में रहने वाले 35 वर्षीय व्यक्ति के साथ ऐसा ही कुछ हुआ। खबरों की मानें तो इस शख्स के पेट से स्टील के चाकू चम्मच निकल रहे थे। इस स्थिति में उसके घर वाले उसे नजदीकी क्लीनिक पर ले गए जहां डॉक्टर ने मामले की गंभीरता को देखते हुए मरीज को श्री लाल बहादुर शास्त्री गवर्नमेंट मेडिकल काॅलेज एंड हाॅस्पीटल भेज दिया।

पेट में कैसे पहुंचे चाकू चम्मच?
युवक के परिवार के सदस्यों ने बताया कि तीन दिन पहले उसने एक चाकू निगल लिया था। परिवार वालों का कहना है कि मरीज़ मानसिक रूप से पीड़ित है और लम्बे समय से उसका इलाज चल रहा था। उन्होंने बताया कि उसे जब भी भूख लगती थी तो वो कुछ भी खा लेता था। उसे ये पता ही नहीं होता था कि वो चाकू खा रहा है या खाना। 

वह घर के कामों में अपने परिवार वालों की मदद करता था। कुछ दिनों पहले मरीज ने पेट दर्द की शिकायत की। तभी उसे सुंदरनगर के एक प्राइवेट कलीनिक में ले जाया गया था।

कैसे पहुंचा अस्पताल? 
दरअसल, कई दिनों से पेट दर्द की शिकायत करने की वजह से मरीज के घर वाले उसे सुंदरनगर के एक स्थानीय निजी क्लीनिक ले गए थे। डाॅक्टर ने मरीज के पेट में बाहर की ओर उभार महसूस किया। ट्रीटमेंट के दौरान मरीज के पेट से चाकू की नोक बाहर निकल आई। ये देखकर डाॅक्टर चौंक उठे और तुरंत मरीज को मंडी के नई चौक स्थित श्री लाल बहादुर शास्त्री गवर्नमेंट मेडिकल काॅलेज एंड हाॅस्पीटल में रेफर कर दिया।

अस्पताल में क्या हुआ?
अस्पताल में भी डाॅक्टरों के लिए यह सामान्य केस नहीं था। उनका कहना है कि हमने इससे पहले कभी इस तरह के केस के बारे में न सुना, न देखा। डाॅक्टरों के अनुसार मरीज को उसके घर वाले तुरंत अस्पताल लाए थे क्योंकि उसके पेट से तेज धार वाले चाकू की नोक नजर आ रही थी।

उसकी हालत से लग रहा था कि मरीज एक मनोरोगी है। डॉक्टरों की टीम ने पहले मरीज का एक्स-रे करवाया और फिर उसे ऑपरेशन थिएटर ले गए। एक्स-रे की रिपोर्ट देखकर डाॅक्टर हैरान रह गए। रिपोर्ट में साफ पता चल रहा था कि मरीज के पेट में कई धातु और चम्मच मौजूद हैं।

कितना लम्बा चला ऑपरेशन?

डाॅक्टरों की टीम ने मरीज का लगभग 4 घंटे तक ऑपरेशन किया। ऑपरेशन के बाद मरीज के पेट से 8 चम्मच, 2 स्क्रूड्राइवर, 2 टूथपेस्ट और एक स्टील की छोटी पट्टी निकली। डाॅक्टरों का कहना है कि मरीज को उसका परिवार दोपहर तीन बजे अस्पताल लाया था। परिवार के सदस्यों ने बताया कि तीन दिन पहले उन्होंने मरीज को एक चाकू निगलते हुए देखा था।

डाॅक्टर आगे कहते हैं कि उसके पेट से निकली चाकू की नोक हम साफ-साफ देख पा रहे थे। जब हमने उसका ऑपरेशन किया तो ऐसी-ऐसी चीजें उसके पेट से निकलीं, जो सामान्य व्यक्ति के पेट से नहीं निकल सकतीं। यह हैरानी की बात कि इस तरह की चीजें खाकर भी यह व्यक्ति आम लोगों की तरह सामान्य जीवन जी रहा था। उसके पेट से निकली चीजें यह साबित करती हैं कि मरीज को मानसिक रोग है।

ऑपरेशन के बाद मरीज अब खतरे से बाहर है और उसका स्वास्थ्य बेहतर है।

और पढ़ें ...