इमली के पत्ते के फायदे - Tamarind Leaves (Imli ke Patte) Benefits in Hindi

सम्पादकीय विभाग के द्वारा


Posted on August 09, 2017 कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!


इमली के पत्ते के फायदे - Tamarind Leaves (Imli ke Patte) Benefits in Hindi

इमली एक ऐसा पौधा है जिसके असंख्य स्वास्थ्य लाभ होते हैं। इस फल के गूदे से लेकर पत्तियों और छाल तक प्रत्येक भाग से सैकड़ों लाभ मिलते हैं। आमतौर पर भारतीय व्यंजनों में इमली का उपयोग खट्टा स्वाद प्रदान करने के लिए किया जाता है। लेकिन इमली के पत्ते सिर्फ खट्टा स्वाद ही नहीं बल्कि और भी कई अन्य लाभ भी देते हैं। तो आइये जानते हैं इमली के पत्तों के लाभों के बारे में -

  1. इमली के पत्ते के फायदे मलेरिया के लिए - Tamarind Leaves Benefits for Malaria in Hindi
  2. इमली के पत्ते के लाभ रखें शुगर की बीमारी (मधुमेह) को नियंत्रित - Tamarind Leaves for Diabetes in Hindi
  3. इमली के पत्ते का उपयोग करें स्कर्वी का इलाज - Tamarind Leaves Cures Scurvy in Hindi
  4. इमली की पत्तियां हैं घाव के लिए लाभकारी - Tamarind Leaf Benefits for Wound in Hindi
  5. इमली के पत्तों का सेवन करें स्तनपान में मदद - Tamarind Leaves Improves Lactation in Hindi
  6. संक्रमण में लाभकारी है इमली के पत्ते - Imli ke Patte for Infections in Hindi
  7. इमली की पत्तियों का अर्क दिलाएं मासिक धर्म में पेट दर्द से छुटकारा - Tamarind Leaves Good for Menstrual Cramps in Hindi
  8. इमली के पत्तों में हैं सूजन को कम करने वाले गुण - Tamarind Leaves Have Anti Inflammatory Properties in Hindi
  9. मौखिक स्वच्छता के लिए इमली की पत्तियां - Imali ke Patte For Oral Health in Hindi
  10. इमली के पत्ते बढ़ाएं एंटीऑक्सीडेंट क्षमता - Tamarind Leaves Increase Antioxidant Capacity in Hindi
  11. इमली के पत्तों का रस करें अल्सर को ठीक - Tamarind Leaf Treats Ulcer in Hindi
  12. हाई बीपी का इलाज है इमली के पत्तों का पाउडर - Tamarind Leaves Powder for Hyper Tension in Hindi

इमली के पत्ते के फायदे मलेरिया के लिए - Tamarind Leaves Benefits for Malaria in Hindi

इमली के पत्ते के फायदे मलेरिया के लिए - Tamarind Leaves Benefits for Malaria in Hindi

मलेरिया मादा एनोफ़ेलीज़ मच्छर के कारण होता है। एक शोध के मुताबिक, इमली की पत्तियों का अर्क प्लास्मिडियम फाल्सीपेरम के विकास को रोकता है, जो मच्छर द्वारा किया जाता है और मलेरिया का कारण बनता है।

इमली के पत्ते के लाभ रखें शुगर की बीमारी (मधुमेह) को नियंत्रित - Tamarind Leaves for Diabetes in Hindi

इमली की पत्तियों का सेवन करने से शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है और इंसुलिन संवेदनशीलता भी बढ़ जाती है। इससे शुगर की बीमारी (मधुमेह) में राहत मिलती है। यह पीलिया को ठीक करने में भी मदद करती है।

इमली के पत्ते का उपयोग करें स्कर्वी का इलाज - Tamarind Leaves Cures Scurvy in Hindi

इमली के पत्ते का उपयोग करें स्कर्वी का इलाज - Tamarind Leaves Cures Scurvy in Hindi

स्कर्वी विटामिन सी की कमी के कारण होता है। यह नाविक की बीमारी के रूप में भी जाना जाता है, आमतौर पर स्कर्वी मसूड़ों और नाखूनों, थकान आदि जैसे लक्षणों के साथ होता है। इमली के पत्तों में उच्च एस्कॉर्बिक एसिड सामग्री होती है, जो एंटी-स्कर्वी विटामिन के रूप में कार्य करती है। (और पढ़ें – थकान से बचने के उपाय)

इमली की पत्तियां हैं घाव के लिए लाभकारी - Tamarind Leaf Benefits for Wound in Hindi

इमली के पत्तों में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं। जब इमली के पत्तों का रस निकाला जाता है और घावों पर लगाया जाता है, तो वे घाव को तेजी से ठीक करते हैं। इसके पत्तों का रस किसी भी अन्य संक्रमण और परजीवी विकास को रोकता है। इसके अलावा यह नई कोशिकाओं का निर्माण भी तेजी से करता है। (और पढ़ें – घाव के लिए हिना के गुण)

इमली के पत्तों का सेवन करें स्तनपान में मदद - Tamarind Leaves Improves Lactation in Hindi

इमली के पत्तों का सेवन करें स्तनपान में मदद - Tamarind Leaves Improves Lactation in Hindi

इमली के पत्तों के अर्क से स्तनपान कराने वाली माताओं में स्तन के दूध की गुणवत्ता में सुधार होता है। (और पढ़ें - माँ का दूध (ब्रेस्ट मिल्क) बढ़ाने के लिए क्या खाएं)

संक्रमण में लाभकारी है इमली के पत्ते - Imli ke Patte for Infections in Hindi

इमली के पत्तों का अर्क जननांग संक्रमण रोकता है और इसके लक्षणों से राहत प्रदान करने में उपयोगी है। इसके अलावा इमली के पत्ते विटामिन सी का भंडार होते हैं, जो कि किसी भी सूक्ष्मजीव संक्रमण से शरीर की रक्षा करता है जिससे शरीर स्वस्थ रहता है।

इमली की पत्तियों का अर्क दिलाएं मासिक धर्म में पेट दर्द से छुटकारा - Tamarind Leaves Good for Menstrual Cramps in Hindi

इमली की पत्तियों का अर्क दिलाएं मासिक धर्म में पेट दर्द से छुटकारा - Tamarind Leaves Good for Menstrual Cramps in Hindi

हम सभी जानते हैं कि मासिक धर्म में ऐंठन कितनी भयानक हो सकती है। मासिक धर्म में पेट दर्द के उपाय के लिए और मासिक धर्म को अधिक प्रबंधनीय बनाने के लिए, आप इमली की पत्तियों और छाल के अर्क का उपयोग कर सकते हैं क्योंकि इसके पत्ते एनाल्जेसिक होते हैं। पत्तियों की प्रभावशीलता बढ़ाने के लिए पपीता, नमक और पानी को पत्तियों में मिलाया जा सकता है। लेकिन, सुनिश्चित करें कि आप बहुत अधिक नमक का उपयोग नहीं करते हैं। (और पढ़ें – धनिया के औषधीय गुण मासिक धर्म के लिए)

इमली के पत्तों में हैं सूजन को कम करने वाले गुण - Tamarind Leaves Have Anti Inflammatory Properties in Hindi

इमली के पत्तों में सूजन को कम करने वाले गुण होते हैं और जोड़ों के दर्द और अन्य सूजन के इलाज के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

मौखिक स्वच्छता के लिए इमली की पत्तियां - Imali ke Patte For Oral Health in Hindi

मौखिक स्वच्छता के लिए इमली की पत्तियां - Imali ke Patte For Oral Health in Hindi

मौखिक स्वच्छता अत्यंत महत्वपूर्ण होती है। मौखिक समस्याओं से पीड़ित मुख्य शिकायतों में से है साँसों में बदबू होना। दांत दर्द भी इस चार्ट में सबसे ऊपर है। इन दोनों समस्याओं के लिए, इमली पत्तियों को एक आदर्श उपचार के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। (और पढ़ें – पाइनएप्पल के फायदे लाएं मौखिक स्वास्थ्य में सुधार)

इमली के पत्ते बढ़ाएं एंटीऑक्सीडेंट क्षमता - Tamarind Leaves Increase Antioxidant Capacity in Hindi

मुक्त कणों से छुटकारा पाने के लिए एंटीऑक्सिडेंट महत्वपूर्ण होते हैं। मुक्त कण पुरानी त्वचा, कैंसर और कई अन्य समस्याओं के पीछे के कारण होते हैं। इमली के पत्तों के रस से इन समस्याओं को रोकने में मदद मिल सकती है क्योंकि इसमें एंटीऑक्सिडेंट्स की उच्च खुराक होती है।

इमली के पत्तों का रस करें अल्सर को ठीक - Tamarind Leaf Treats Ulcer in Hindi

इमली के पत्तों का रस करें अल्सर को ठीक - Tamarind Leaf Treats Ulcer in Hindi

अल्सर में बहुत असहनीय दर्द हो सकता है। इमली के पत्तों का रस अल्सर को ठीक करने और लक्षणों से राहत देने के लिए उपयोग किया जा सकता है। (और पढ़ें - कीवी फल खाने के फायदे अलसर में)

हाई बीपी का इलाज है इमली के पत्तों का पाउडर - Tamarind Leaves Powder for Hyper Tension in Hindi

आज की जीवन शैली में, जहां हाई बीपी (उच्च रक्तचाप) बहुत आम है, वहीँ इमली के पत्ते आपको इसे कम करने में मदद कर सकते हैं। निम्न रक्तचाप का मतलब स्ट्रोक, हृदय रोगों और कम जोखिम है। (और पढ़ें - स्ट्रोक का इलाज)

इन बातों का भी ध्यान रखें

आप अपनी आवश्यकता के अनुसार अर्क का सेवन कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें कि इससे पहले कि आप किसी भी दवा को स्वयं से लेते हैं, उससे पहले अपने डॉक्टर से बात करें।
इसके सेवन से कुछ लोगों संक्रमण और एलर्जी हो सकती है जो कुछ एंजाइमों के कारण हो सकती है।


इमली के पत्ते के फ़ायदे

और पढ़ें ...
डॉक्टर, हमसे जुड़ें मुफ्त में अपना प्रश्न पूछें