myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

हाथ, पैर, पीठ, बगल के बालों को निकालने के लिए वैक्स सबसे उपयुक्त विकल्प होता है। ज्यादातर महिलाएं बाल निकालने के लिए इसी तरीके को अपनाती हैं। लेकिन जब बात चेहरे के बालों को निकालने की आती है, तो इसके लिए कई अलग-अलग तरीके मौजूद हैं। जिन महिलाओं के चेहरे पर बाल कम होते हैं वे शुगरिंग या थ्रेडिंग की मदद से चेहरे के बाल निकलवाती हैं। जिन महिलाओं के चेहरे पर काफी ज्यादा बाल हैं, उन्हें चेहरे पर वैक्स कराना पड़ता है। लेकिन चेहरे पर वैक्स करवाते वक्त सावधान रहना जरूरी है। अगर जरा भी लापरवाही बरती गई तो ताउम्र के लिए चेहरे पर दाग बन सकता है। यही नहीं वैक्सिंग के और भी कई नुकसान झेलने पड़ सकते हैं। अतः वैक्सिंग करने से पहले कुछ बातों का जानना जरूरी है।

(और पढ़ें - चेहरे से बाल हटाने के घरेलू उपाय)

त्वचा में चोट लगना

ज्यादातर महिलाओं या लड़कियों को वैक्सिंग कराते वक्त चोट नहीं लगती। इसके बावजूद चेहरे पर वैक्सिंग के दौरान चोट लगने का खतरा हमेशा बना रहता है। इसीलिए वैक्सिंग से पहले ब्यूटी पार्लर में यह सुनिश्चित करें कि वे किस तरह चेहरे की वैक्सिंग करते हैं। इसमें चोट लगने का खतरा कितना होता है। इसी तरह जो महिलाएं या लड़कियां पहले से चेहरे पर वैक्स करवा रही हैं, उनसे भी इस संबंध में सलाह मशविरा करके वैक्स करने के विकल्प को चुन सकती हैं।

चेहरे के बालों का मोटा होना

कहते हैं चेहरे की वैक्सिंग से चेहरे के बाल मोटे हो जाते हैं। इस वजह से बार-बार चेहरे की वैक्सिंग करवानी पड़ती है वरना चेहरा बुरा नजर आ सकता है। इस तरह की समस्या बहुत कम महिलाओं के साथ होती है। तथ्य यह कहते हैं कि अगर आप नियमित लंबे समय तक चेहरे के बालों की वैक्सिंग कराती हैं तो बालों की ग्रोथ कम हो जाती है। हां, अगर चेहरे की वैक्सिंग के दौरान बाल जड़ से निकाल दिए जाए तो बाल मोटे निकल सकते हैं।

चेहरे में दर्द होना

वैक्सिंग प्रक्रिया से हर कोई वाकिफ है। जिस तरह हाथ या पैरों के बाल निकालते वक्त दर्द का अहसास होता है, ठीक इसी तरह चेहरे की वैक्सिंग के दौरान भी दर्द होता है। इससे बचा नहीं जा सकता। दरअसल वैक्सिंग के दौरान झटके से वैक्सिंग स्ट्रिप को खींचने की वजह से दर्द होता है। कुछ महिलाओं को वैक्सिंग के दौरान कम दर्द तो कुछ महिलाओं को ज्यादा होता है। त्वचा की संवेदनशीलता पर निर्भर करता है कि आपको ज्यादा या कम दर्द होगा। उदाहरण के तौर पर समझें कि ठुड्डी की तुलना में अपर लिप्स में वैक्सिंग करवाने से ज्यादा दर्द होता है। इसके अलावा हर महिला और लड़की की त्वचा अलग-अलग होती है। यह बात भी मायने रखती है।

त्वचा का लाल हो जाना

चेहरे की वैक्सिंग करने से कई बार अस्थाई रूप से चेहरा लाल हो जाता है या फिर खुजली होने लगती है। वैक्सिंग करने के तुरंत बाद छूने से स्किन ज्यादा संवेदनशील भी महसूस होताी है। यह सामान्य है। इसको लेकर चिंता की कोई बात नहीं है। यदि आप रोजाना वैक्सिंग करती हैं तो थोड़ा सजग हो जाएं। आपके वैक्सिंग प्रोडक्ट में कई ऐसे तत्व मौजूद हो सकते हैं, जिनका रोजाना इस्तेमाल करना सही नहीं है। इससे त्वचा जल सकती है। विशेषज्ञ सलाह देते हैं कि वैक्सिंग के बाद अल्कोहोल आधारित स्किन टोनर का इस्तेमाल न करें। इसके बजाय बर्फ या ठंडी चीजें चेहरे पर वैक्सिंग के बाद लगाएं। इससे लालपन भी कम हो जाएगा। हालंकि वैक्सिंग की वजह से चेहरे पर आया लालपन अगले दिन अपने आप ठीक हो जाता है।

त्वचा पर चकत्ते पड़ना

चेहरे की वैक्सिंग के बाद चेहरे का लाल होना या फिर खुजली होना सामान्य है। यह कुछ ही घंटों में ठीक हो जाता है। जबकि त्वचा पर चकत्ते पड़ना इससे अलग है। त्वचा पर चकत्ते पड़ना चेहरे की वैक्सिंग का एक दुष्प्रभाव हो सकता है। यह पूरे दिन के लिए रह सकता है। अगर वैक्सिंग के बाद चेहरे पर पड़े चकत्ते लंबे समय तक रहते हैं या फैलते हैं तो अपने वैक्सिंग प्रोडक्ट को तुरंत बदल दें। साथ ही डाॅक्टर से संपर्क कर अपना इलाज कराएं।

अंदरूनी बाल का उगना

अंदरूनी बाल की समस्या शेविंग की वजह से होती है। लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि अंदरूनी बाल की समस्या वैक्सिंग की वजह से भी हो सकती है। वैक्सिंग के दौरान अंदरूनी बाल की समस्या न हो, इसके जरूरी वैक्स स्ट्रिप निकालते समय बालों की दिशा का ध्यान रखना चाहिए। वैक्स स्ट्रिप को हमेशा बालों की दिशा के उलटी दिशा में खींचनी चाहिए। असल में अगर वैक्सिंग के दौरान बाल का कुछ हिस्सा त्वचा के अंदर रह सकता है, जिससे अंदरूनी बाल की समस्या हो सकती है। इसलिए स्ट्रिप खींचते वक़्त सजग रहें। 

इन बातों का रखें ध्यान

  • चेहरे की वैक्सिंग कराने से पहले यह सुनिश्चित करें कि आप किसी तरह की दवा तो नहीं ले रहीं । दवा लेने की वजह से वैक्सिंग के दौरान चेहरे पर खुजली या रूखी त्वचा की समस्या हो सकती है। इसी तरह रूखी या फिर खारिश वाली त्वचा पर वैक्सिंग करने से गंभीर समस्या हो सकती है, त्वचा में जलन हो सकती है।
  • अगर आपकी त्वचा पर कील-मुंहासे या दाग-धब्बे हैं तो चेहरे की वैक्सिंग न करें। ऐसा करने से दाने में कट लग सकता है जिससे खून निकल सकता है।
  • चेहरे की वैक्सिंग के तुरंत बाद चेहरे को स्क्रब न करें। विशेषज्ञों के अनुसार चेहरे की वैक्सिंग के कम से कम दो दिन बाद स्क्रब करना सही रहता है।
  • स्क्रब की ही तरह चेहरे की वैक्सिंग के तुरंब बाद किसी तरह की क्रीम या माइस्चराइजर न लगाएं। चेहरे के स्क्रब के बाद चेहरे को धोना ही काफी होता है।

(और पढ़ें - घर पर बनाएं चीनी, नींबू और टी ट्री ऑयल से वैक्स)

चेहरे की वैक्सिंग कराने के फायदे

  • वैक्सिंग कराने की वजह से दोबारा जो बाल निकते हैं, वे मुलायम होते हैं।
  • वैक्सिंग से चेहरे के बालों की ग्रोथ कम होती है।
  • वैक्सिंग का असर दो से ज्यादा हफ्तों तक नजर आता है।
  • वैक्सिंग के सही तरीके को जानकर आप इसे घर पर भी कर सकती हैं।

(और पढ़ें - वैक्सिंग या शेविंग - दोनों में क्या है बाल हटाने के लिए बेहतर)

और पढ़ें ...