myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

अमरीका की सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी कम्पनीज के अफसर अपने बच्चों को ऐसे स्कूलों में भेजने लगे है जहाँ कंप्यूटर का इस्तेमाल वर्जित है। जी हाँ आपने सही सुना, बड़ी बड़ी कंपनियों के मालिक और अफसर अपने बच्चों को इस तरह के स्कूल में भेजते हैं जहां कंप्यूटर की जगह क्रिएटिविटी का पाठ सिखाया जाता हो। स्कूल में ही नहीं ऐसी मॉडर्न तकनीक वो अपने घर में भी नहीं रखते हैं। इसमें ईबे (ebay) के चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर, गूगल, याहू (yahoo) आदि क अफसरों के बच्चे शामिल हैं।

इन बच्चों के लिए घर और स्कूल दोनों जगह ही कंप्यूटर का इस्तेमाल बैन है। स्कूल का मानना है कि इस तरह की मॉडर्न तकनीक से बच्चों की क्रिएटिव सोच और मानसिक चुस्ती पर गलत प्रभाव पड़ता है। 

तो आइये आज हम आपको इस 15 मिनट के वीडियो के ज़रिये बताएंगे कि कैसे आप भी अपने बच्चों को कंप्यूटर के बगैर क्रिएटिव थिंकिंग वाला बना सकते हैं -

  1. इस वीडियो में आप अपने बच्चे को क्रिएटिव ड्रोइंग (drawing) बनाना सिखा सकते हैं। एक पेज को फोल्ड करके उस पर कार्टून इसी तरह बनाएं जैसे इसमें दिखाया गया है। फिर पेज को सब तरफ से खोलते जाएँ और और अपने कार्टून बनाने की क्रिएटिविटी को बढ़ाते जाएँ।
  2. अगर आप बौल (ball) के साथ एक नया खेल खेलना चाहते हैं या अपने बच्चों को इस तरह का खेल सीखाना चाहते हैं तो 2 मिनट 39 सेकेंड्स के वीडियो में आप देखेंगे कि कैसे एक टी कप को नीचे से काट दिया है। इस तरह आप भी कर सकते हैं। टी कप काटने के बाद बलून को लेकर उसे बाँध दें। बांधने के बाद आगे के छोर से उसे काट दें जिससे उसका मुँह खुल जाए। फिर खुले को मुँह से कटे हुए कप को ढक दें। ये लीजिये, अब इसमें छोटी बौल डालें और पीछे से बलून की पूँछ को खीचें। ये बौल सीधा आपके दोस्त को जाकर लगेगी। क्यों है न मज़ेदार।
  3. अगर आपका बच्चा फुटबॉल का शौक़ीन हैं तो 5 मिनट 41 सेकेण्ड की वीडियो में आप देखेंगे कि कैसे कुछ ही मिनट में फुटबॉल का कोर्ट बना दिया। आप भी इस तरह बना सकते हैं एक छोटा कार्डबोर्ड लें और उसपर हरा रंग का ग्लेस पेपर (glace) चिपकाएं और फिर इसी तरह कोर्ट को बना लें। अब इसमें खेलने वाले लोग भी तो होने चाहिए तो उन्होंने बनाने के लिए आप एक पेपर से लड़के या लड़की के आकर की फोटो को काटकर अपने हाथों में फसकर छोटी बौल से फुटबॉल मज़े से खेल सकते हैं।
  4. अपने बच्चे को रात में सोते समय या अँधेरे में ज़रा सी रौशनी में जानवरों की पहचान करवाना सीखा सकते हैं। 15 मिनट 11 सेकेंड में आप देखेंगे कि कैसे एक रौशनी में खरगोश, कुत्ता, हाथी आदि बनाकर दिखाया जा रहा है।

तो इस 15 मिनट की वीडियो में ऐसे ही और गेम्स मौजूद हैं जो आप अपने बच्चे को बेहद क्रिएटिव तरीके से सीखा सकते हैं। इससे उनका दिमाग तेज़ होगा और आधी जानकारियों के लिए वो किसी भी तकनीक पर निर्भर नहीं रहेगा।

  1. 10 गेम्स जो बच्चो के लिए फ़ोन के गेम्स से हैं ज़्यादा बेहतर के डॉक्टर
Dr. Giri Prasath

Dr. Giri Prasath

सामान्य चिकित्सा

Dr. Piyush Gupta

Dr. Piyush Gupta

सामान्य चिकित्सा

Dr. Sumesh Nair

Dr. Sumesh Nair

सामान्य चिकित्सा

और पढ़ें ...