बहुत सी महिलाएं ये जानना चाहती हैं कि आखिर गर्भावस्था का पता लगाने के लिए प्रेगनेंसी टेस्ट करने का सबसे सही समय कौन सा होता है यानी मासिक धर्म आने से पहले या बाद में कौन सा समय प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए सबसे सही माना जाता है। कई बार गर्भनिरोधक गोली या कंडोम का इस्तेमाल करने के बाद भी कई महिलाओं के मन में यह सवाल होता है और खासकर वैसी महिलाएं जिन्होंने असुरक्षित सेक्स संबंध बनाया हो, उनके मन में तो यह सवाल अक्सर आता है कि आखिर प्रेगनेंसी टेस्ट करने का सबसे सही समय क्या है?

बहुत सी महिलाओं के लिए यह फैसला लेना कि प्रेगनेंसी टेस्ट कब करना चाहिए, बेहद मुश्किल और चिंता से भरा अनुभव हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि कई बार महिला प्रेगनेंट होने की लंबे समय से कोशिश कर रही है, इसलिए उसे तनाव होता है। तो वहीं कई महिलाएं ऐसी भी हैं जो गर्भवती नहीं होना चाहतीं, लेकिन शारीरिक संबंध बना लेने की वजह से उनके मन में प्रेगनेंसी का डर होता है। परिस्थिति चाहे जो हो सही समय पर प्रेगनेंसी टेस्ट करना जरूरी है, ताकि आपको बिलकुल सही-सही परिणाम मिल सकें। 

(और पढ़ें : प्रेगनेंसी (गर्भधारण) रोकने के उपाय)

  1. पीरियड्स मिस होने से पहले प्रेगनेंसी टेस्ट क्यों करना चाहिए?
  2. पीरियड मिस होने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करें?
  3. पीरियड्स मिस होने से पहले प्रेगनेंसी टेस्ट क्यों करें?
  4. पीरियड्स मिस होने से पहले घर पर प्रेगनेंसी टेस्ट करना कितना सही?
  5. पीरियड्स मिस होने से पहले प्रेगनेंसी टेस्ट कब और कैसे करें के डॉक्टर

कई बार सबसे असरदार गर्भनिरोध का तरीका इस्तेमाल करने के बाद भी गलती हो सकती है या प्रेगनेंसी की आशंका बनी रहती है। क्योंकि गर्भनिरोध का कोई भी तरीका प्रेगनेंसी रोकने का 100 फीसदी आश्वासन नहीं देता। लिहाजा यह जानने के लिए कि कहीं आप गर्भवती तो नहीं हैं, सबसे आसान तरीका है- दवाई की दुकान पर आसानी से मिलने वाले ओटीसी प्रेगनेंसी टेस्ट किट। इस तरह की टेस्ट किट, आपके पेशाब में एचसीजी हार्मोन की मौजूदगी की जांच करती है। जब कोई महिला गर्भवती होती है तभी उसके पेशाब में एचसीजी होता है, क्योंकि यह हार्मोन सिर्फ तभी रिलीज होता है जब निषेचित अंडा गर्भाशय की दीवार से खुद को अटैच कर लेता है।

ये ओटीसी होम प्रेगनेंसी टेस्ट 99 प्रतिशत सही नतीजे देते हैं। अगर इन्हें पीरियड्स मिस होने के बाद इस्तेमाल किया जाए। यही वजह है कि सही और विशुद्ध नतीजे पाने के लिए पीरियड्स मिस होने के एक सप्ताह बाद ही प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए। लेकिन अगर आप प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए पीरियड्स मिस होने तक का इंतजार नहीं करना चाहतीं तो आपको सेक्स करने के बाद कम से कम 1 या 2 हफ्ते का इंतजार जरूर करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि निषेचित अंडे के गर्भाशय में सफल प्रत्यारोपण के बाद जब महिला गर्भवती हो जाती है तो उसके 14 दिनों के बाद ही महिला के शरीर में इतना एचसीजी हार्मोन बनता है कि प्रेगनेंसी टेस्ट किट के जरिए उसका पता लगाया जा सके। अगर आप अपने मासिक धर्म चक्र के दौरान या पीरियड्स मिस होने से पहले ही जल्दी प्रेगनेंसी टेस्ट कर लेंगी तो आपको सही नतीजे नहीं मिलेंगे।

डॉक्टरों की मानें तो अगर आप अपने पीरियड्स को नियमित रूप से ट्रैक करती हैं तो ऐसे में पीरियड्स मिस होने के बाद का पहला दिन प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए सबसे सही माना जाता है क्योंकि इस वक्त प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए महिला के शरीर में पर्याप्त मात्रा में एचसीजी हार्मोन मौजूद होते हैं। इसका मतलब है कि अगर आपका पीरियड्स लेट हो जाए या मिस हो जाए तभी प्रेगनेंसी टेस्ट करना सही रहता है, क्योंकि तभी आपको सही परिणाम मिल सकता है।  

(और पढ़ें : प्रेगनेंसी में होने वाली समस्याएं और उनका समाधान)

पीरियड्स मिस होने के अलावा भी कई संकेत हैं जिसके आधार पर आपको प्रेगनेंसी टेस्ट करने के बारे में विचार करना चाहिए :

सेक्सुअली एक्टिव महिलाओं के अपने प्रजनन के सालों में गर्भवती होने की संभावना हर महीने होती है, फिर चाहे वे गर्भनिरोध का कोई भी तरीका क्यों न अपनाएं। इस दौरान आपका शरीर भी कई तरह के संकेत देता है जो आपको प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए प्रोत्साहित कर सकता है। लेकिन बेहतर यही होगा कि सही नतीजों के लिए आप पीरियड्स मिस होने के बाद ही प्रेगनेंसी टेस्ट करें और उसमें भी सुबह उठने के बाद पहले पेशाब से ही प्रेगनेंसी टेस्ट करना सबसे बेहतर माना जाता है।

वैसे तो घर पर किया जाने वाला होम प्रेगनेंसी यूरिट टेस्ट आमतौर पर सही और शुद्ध नतीजे देता है। क्योंकि इस टेस्ट में यूरिन में मौजूद एचसीजी हार्मोन की मौजूदगी का पता लगाया जाता है, जो सिर्फ गर्भावस्था में ही रिलीज होता है। अगर आप बहुत जल्दी टेस्ट कर लें या फिर प्रेगनेंसी की बिल्कुल शुरुआत हो तो एचसीजी का लेवल कम होने की वजह से कई बार फॉल्स नेगेटिव नतीजे भी मिल सकते हैं। इसलिए अगर आपको प्रेगनेंसी टेस्ट करने पर परिणाम नेगेटिव आता है और फिर भी आपके पीरियड्स नहीं आ रहे तो आपको दोबारा से टेस्ट करना चाहिए।

Dr. Deepika Manocha

Dr. Deepika Manocha

प्रसूति एवं स्त्री रोग
9 वर्षों का अनुभव

Dr. Prachi Tandon

Dr. Prachi Tandon

प्रसूति एवं स्त्री रोग
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Sravanthi Sadhu

Dr. Sravanthi Sadhu

प्रसूति एवं स्त्री रोग
7 वर्षों का अनुभव

Dr. Satish Chandra  Saroj

Dr. Satish Chandra Saroj

प्रसूति एवं स्त्री रोग
2 वर्षों का अनुभव

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ