myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

मेथम्फेटामाइन (एमईटी) यूरिन टेस्ट क्या है?

मेथम्फेटामाइन सामान्य तौर पर नशे के रूप में दुरुपयोग की जाने वाली दवा है, जिसे क्रैंक, स्पीड और मेथ आदि नामों से भी जाना जाता है। यह एक शक्तिशाली उत्तेजक है, जो केंद्रीय तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करता है। यह अत्यधिक नशीला होता है। एमईटी यूरिन टेस्ट आपके पेशाब में इस ड्रग की उपस्थिति की जांच करने के लिए किया जाता है।

मेथम्फेटामाइन को सामान्य तौर पर सूंघा जाता है, खाया जाता है, धूम्रपान द्वारा या फिर इंजेक्शन से नस द्वारा लिया जाता है। इसके प्रभाव छह से आठ घंटे तक रह सकते हैं, लेकिन यह 24 घंटे तक भी हो सकते हैं। एम्फेटामाइन (पेटेंट ड्रग) की तरह मेथ से व्यक्ति को अच्छा और ऊर्जावान महसूस होता है। इसे लेने से व्यक्ति को यूफोरिया अर्थात अत्यंत ख़ुशी महसूस होती है। लोग इसके प्रभावों और मनोरंजक अनुभूतियों के कारण नशे में हो जाते हैं। हालांकि, मेथम्फेटामाइन से मतिभ्रम, भ्रम, गुस्सा और हिंसा की स्थितियां भी पैदा कर सकते हैं।

मेथम्फेटामाइन मस्तिष्क के जिस भाग को निशाना बनाता है, वहां यह डोपामाइन नामक केमिकल के उत्पादन को बढ़ा देता है। डोपामाइन ख़ुशी, प्रेरणा और उत्साह जैसी अनुभूतियों से जुड़ा रसायन है। चूंकि इस ड्रग के प्रयोग से व्यक्ति को अस्थायी रूप से अत्यंत ख़ुशी महसूस होती है और इसे बार-बार प्रयोग करने की तीव्र इच्छा महसूस होती है। इसे लगातार प्रयोग करने से स्वास्थ्य संबंधित दीर्घकालिक समस्याएं हो सकती हैं जैसे हृदय व मस्तिष्क की क्षति से संबंधित समस्याएं। इसकी अत्यधिक खुराक स्वास्थ्य के लिए प्राणघातक भी हो सकती है।

  1. मेथम्फेटामाइन (एमईटी) यूरिन टेस्ट क्यों किया जाता है - Methamphetamine urine test Kyu Kiya Jata Hai
  2. मेथम्फेटामाइन (एमईटी) यूरिन टेस्ट से पहले - Methamphetamine urine test Se Pahle
  3. मेथम्फेटामाइन (एमईटी) यूरिन टेस्ट के दौरान - Methamphetamine urine test Ke Dauran
  4. मेथम्फेटामाइन (एमईटी) यूरिन टेस्ट के परिणाम का क्या मतलब है - Methamphetamine urine test Ke Parinam Ka Kya Matlab Hai

यदि डॉक्टर को इस बात का संदेह होता है कि आपने पिछले दो से चार दिनों में मेथम्फेटामाइन का सेवन किया है या फिर आपके शरीर में मेथम्फेटामाइन की अधिक खुराक लेने से जुड़े लक्षण दिखाई देते हैं तो इस टेस्ट को करवाने के लिए कहा जा सकता है -

अत्यधिक खुराक या फिर ओवरडोज के निम्न लक्षण हैं -

मेथम्फेटामाइन के लंबे समय से दुरुपयोग के निम्न संकेत होते हैं -

  • दांतों में सड़न
  • शरीर का गंभीर रूप से वजन कम होना
  • चिंता
  • याददाश्त खोना
  • सोने में समस्याएं
  • अधिक खुजली होना (खुजली करने से त्वचा पर चकत्ते हो जाना)

इसके अलावा कुछ जगहों पर नौकरी देने से पहले भी यह टेस्ट किया जाता है।

यदि किसी टेस्ट के दौरान आप में पहले ही इस नशे की लत पाई गई है, तो फिर डॉक्टर नियमित रूप से यह टेस्ट करवाने के लिए कह सकते हैं। ऐसा इसलिए किया जाता है, ताकि डॉक्टर यह सुनिश्चित कर सकें कि कहीं आप फिर से तो यह नशा नहीं कर रहे हैं।

मेथम्फेटामाइन (एमईटी) यूरिन टेस्ट के लिए किसी भी तैयारी की जरूरत नहीं होती। हालांकि, अगर आप किसी भी तरह की रूटीन दवाएं, विटामिन या अन्य कोई सप्लीमेंट ले रहे हैं तो इसके बारे में डॉक्टर को बता दें। ऐसा इसलिए क्योंकि कुछ दवाओं के प्रयोग से टेस्ट के परिणाम प्रभावित हो सकते हैं।

इस टेस्ट के लिए दिन के किसी भी समय का यूरिन सैंपल लिया जा सकता है। जिसे या तो घर पर या फिर लैब में जमा किया सकता है। यह प्रक्रिया बेहद सामान्य है -

  • यदि आप घर पर सैंपल ले रहे हैं, तो आपको यूरिन को पर्याप्त मात्रा में एक कंटेनर में लेना होगा।
  • यूरिन लेने से पहले अपने जननांगों को ठीक तरह से साफ कर लें, ताकि सैंपल को दूषिक होने से बचाया जा सके।
  • यह सलाह दी जाती है कि सुबह के समय सैंपल इकट्ठा करें और साथ ही पेशाब की शुरूआती व अंतिम बूंदें सैंपल में न लें। ध्यान रहे कि कंटेनर साफ और सूखा हो।
  • कंटेनर पर लेबल लगाकर उस पर अपना नाम, समय और तारीख लिख दें।
  • सैंपल को जल्दी से जल्दी लैब में टेस्टिंग के लिए भेज दें।

यदि आप लैब में सैंपल दे रहे हैं तो आपको सैंपल लेने के लिए एक कंटेनर दिया जाएगा और डॉक्टर आपको प्रक्रिया समझा देंगे।

सामान्य परिणाम -

यूरिन में मेथम्फेटामाइन (एमईटी) का स्तर 500 नैनोग्राम प्रति मिलीलीटर (ng/mL) या उससे कम है, तो रिजल्ट को नेगेटिव अथार्त् सामान्य माना जाता है।

असामान्य परिणाम -

यदि पेशाब में मेथम्फेटामाइन के स्तर 500 नैनोग्राम प्रति मिलीलीटर से ज्यादा होते हैं तो उसे असामान्य या पॉजिटिव परिणाम माना जाता है, जिसका मतलब है कि आपके पेशाब में मेथम्फेटामाइन के स्तर पाए गए हैं। इसका मतलब है कि आपने पिछले एक से चार दिनों में इस ड्रग का प्रयोग किया है। यदि आप इस ड्रग का लगातार प्रयोग कर रहे हैं तो यह बात आप डॉक्टर को बता दें, ताकि वे आपको इलाज की दृष्टि से सही ट्रीटमेंट सुझा सकें।

यह ध्यान रखें इस टेस्ट के परिणाम गलत तरह से पॉजिटिव भी आ सकते हैं। इसका मतलब है कि हो सकता है कि आपने यह दवा न ली हो, फिर भी परिणाम पॉजिटिव आएं। सर्दी-जुकाम की कुछ सामान्य नेज़ल इनहेलर और कुछ एंटीहिस्टामिन के प्रयोग से परिणाम गलत तरह से पॉजिटिव आ सकते हैं। कुछ एंटी डिप्रेसेंट से भी टेस्ट के परिणाम गलत तरह से पॉजिटिव आ सकते हैं। यदि आपने इनमे से कोई दवा ली है तो इसके बारे में डॉक्टर को जरूर बता दें।

और पढ़ें ...

References

  1. University of Rochester Medical Center [Internet]. Rochester (NY): University of Rochester Medical Center; Amphetamine Screen (Urine)
  2. Center for Substance Abuse Treatment. Substance Abuse: Clinical Issues in Intensive Outpatient Treatment. Rockville (MD): Substance Abuse and Mental Health Services Administration (US); 2006. (Treatment Improvement Protocol (TIP) Series, No. 47.) Appendix B. Urine Collection and Testing Procedures and Alternative Methods for Monitoring Drug Use
  3. MidMichigan Health [Internet]. University of Michigan Health System. University of Michigan. US; Random Urine Collection for Urinalysis
  4. RC Baselt. Disposition of toxic drugs and chemicals in man. 10th Edition. Seal Beach, CA: Biomedical Publications; 2014.
  5. Langman LJ et al. Clinical toxicology. In: Nader Rifai. Teitz textbook of Clinical Chemistry and Molecular Diagnostics. 6th Edition. St Louis, MO, Elsevier pp 832-887.
  6. Huestis MA, Cone EJ. Methamphetamine disposition in oral fluid, plasma, and urine. Ann N Y Acad Sci. 2007;1098:104–121. PMID: 17332086.
ऐप पर पढ़ें