myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

एमएमए यूरिन टेस्ट का उपयोग पेशाब में मिथाइल मेलोनिक एसिड के स्तर की जांच करने के लिए किया जाता है।

मिथाइल मेलोनिक एसिड एक पदार्थ है, जिसे शरीर द्वारा वसा और प्रोटीन का मेटाबॉलिज्म करने के दौरान थोड़ी-थोड़ी मात्रा में बनाया जाता है। हालांकि, मेटाबॉलिज्म प्रक्रिया में किसी प्रकार की खराबी के कारण एमएमए अधिक मात्रा में बनने लग जाता है, जिससे पेशाब में भी इसकी मात्रा बढ़ जाती है।

यदि यूरिन में सामान्य से अधिक मात्रा में मिथाइल मेलोनिक एसिड है, तो यह विटामिन बी12 की कमी से संबंधित हो सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि मिथाइल मेलोनिक एसिड को अवशोषित करने के लिए विटामिन बी12 की आवश्यकता पड़ती है। यदि शरीर में पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी12 नहीं है, तो मिथाइल मेलोनिक एसिड अवशोषित न हीं हो पाता और यह जमा होने लगता है।

विटामिन बी12 शरीर में कई महत्वपूर्ण कार्यों के लिए बहुत जरूरी होता है, जैसे :

  • रक्त कोशिकाएं बनाना
  • नसों को स्वस्थ रखना
  • डीएनए बनाना

विटामिन बी12 जानवरों से प्राप्त होने वाले खाद्य पदार्थों में प्राकृतिक रूप से पाया जाता है। इन खाद्य पदार्थों में मुख्य रूप से अंडे, मछली, मीट और डेयरी उत्पाद आदि शामिल हैं। शाकाहारी उत्पादों में विटामिन बी12 नहीं पाया जाता है या बहुत ही कम मात्रा में पाया जाता है। हालांकि, मार्केट में कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ भी मिल जाते हैं, जिनमें कृत्रिम रूप से विटामिन बी12 व अन्य पोषक तत्व मिला दिए जाते हैं जैसे सेरियल्स आदि, इन्हें “फोर्टिफाइड फूड्स” कहा जाता है। जो लोग जानवरों से प्राप्त खाद्य पदार्थ नहीं खाते हैं, वे हेल्थ सप्लीमेंट्स व फोर्टिफाइड फूड्स की मदद से भी इस पोषक तत्व को प्राप्त कर सकते हैं।

  1. एमएमए यूरिन टेस्ट क्यों किया जाता है - MMA urine test kyon kiya jata hai
  2. मिथाइल मेलोनिक एसिड यूरिन टेस्ट से पहले - Methylmalonic Acid urine test se pahle
  3. मिथाइल मेलोनिक एसिड यूरिन टेस्ट के दौरान - Methylmalonic Acid urine test ke dauran
  4. एमएमए यूरिन टेस्ट के रिजल्ट का क्या मतलब है - MMA urine test ke result ka kya matlab hai

यदि डॉक्टर को नसें क्षतिग्रस्त होने (न्यूरोपैथी) या मिथाइलमेलोनिक एसिडेमिया के लक्षण दिखाई देते हैं, ते वे एमएमए यूरिन टेस्ट करवाने की सलाह दे सकते हैं।

मिथाइलमेलोनिक एसिडेमिया एक दुर्लभ रोग है, जिसमें शरीर कुछ प्रकार के प्रोटीन और फैट का मेटाबॉलिज्म करने में असमर्थ हो जाता है। मिथाइलमेलोनिक एसिडेमिया के लक्षण आमतौर पर शिशु अवस्था की शुरुआत में देखे जाते है, इनमें निम्न शामिल हैं:

जिन लोगों में विटामिन बी12 की कमी के लक्षण दिखाई दे रहे हैं, उनके लिए भी यह टेस्ट किया जा सकता है। ऐसा इसलिए पेशाब में मिथाइल मेलोनिक एसिड की मात्रा बढ़ना विटामिन बी12 की कमी का शुरुआती संकेत हो सकता है। शरीर में विटामिन बी12 की कमी होने पर विशेष तौर पर निम्न लक्षण देखे जा सकते हैं :

एमएमए ब्लड टेस्ट की तुलना में एमएमए यूरिन टेस्ट को अधिक प्राथमिकता दी जाती है, ऐसा इसलिए क्योंकि मिथाइल मेलोनिक एसिड का स्तर यूरिन में अधिक स्थायी होता है। इतना ही नहीं ब्लड टेस्ट में सुई लगाने की आवश्यकता पड़ती है, जबकि यूरिन टेस्ट पूरी तरह से दर्द रहित होता है।

यह एक सामान्य यूरिन टेस्ट प्रक्रिया है। डॉक्टर एमएमए यूरिन टेस्ट करने से कम से कम 24 घंटे पहले तक शराब पीने या अल्कोहल संबंधी कोई भी पदार्थ लेने से मना कर देते हैं। क्योंकि अल्कोहल एमएमए यूरिन टेस्ट के रिजल्ट को प्रभावित कर सकती है।

इसके अलावा यदि आप किसी प्रकार की दवा, हर्बल प्रोडक्ट या फिर कोई हेल्थ सप्लीमेंट ले रहे हैं, तो टेस्ट से पहले ही इस बारे में डॉक्टर को बता दें।

यह टेस्ट करने के लिए 24 घंटे का पेशाब जमा किया जा सकता है या फिर किसी भी समय यूरिन सैंपल लेकर यह टेस्ट किया जा सकता है। यदि चौबीस घंटे तक यूरिन सैंपल जमा करना है, तो आपको एक विशेष कंटेनर दिया जा सकता है। यदि चौबीस घंटे के यूरिन सैंपल का परीक्षण नहीं करना है, तो फिर किसी भी समय के पेशाब का सैंपल लेकर यह टेस्ट किया जा सकता है।

चौबीस घंटे के यूरिन सैंपल में दिन-भर के दौरान किए गए पेशाब को एक बड़े बर्तन में जमा किया जाता है। सैंपल जमा करने के लिए निम्न प्रक्रिया का पालन करना जरूरी होता है :

  • सुबह के पहले यूरिन को सैंपल में जमा न करें, लेकिन इसके समय को प्रक्रिया के शुरुआती समय के रूप में लिख लें।
  • उसके बाद आप जितनी बार भी पेशाब करने जाएं, उसे कंटेनर में जमा करते रहें।
  • लिखे गए शुरुआती समय के अनुसार चौबीस घंटे होने पर कंटेनर को बंद कर दें और उस पर मरीज का नाम, समय व तारीख लिख कर उसे लैब में भेज दें।

इन चौबीस घंटों के दौरान सैंपल को किसी ठंडे स्थान या फ्रिज में रखें। चौबीस घंटे पूरे होने के बाद जितना जल्दी हो सके इसे लैब में पहुंचा दें और सैंपल को किसी भी प्रकार से गंदा न होने दें।

यदि किसी शिशु का यूरिन सैंपल लिया जाना है, तो उसके मूत्रमार्ग के आस-पास की त्वचा को अच्छे से साफ कर लें। सैंपल को जमा करने के लिए एक विशेष बैग दिया जाता है, जिसे शिशु के जननांग पर सही तरीके से लगा दिया जाता है। कलेक्शन बैग को अच्छे से लगाएं और ध्यान रखें कि कहीं पेशाब का बाहर रिसाव तो नहीं हो रहा है।

मिथाइल मेलोनिक एसिड यूरिन टेस्ट के रिजल्ट को एमएमए-क्रिएटिनिन रेशो के रूप में प्रदर्शित किया जाता है। इस टेस्ट के साथ डॉक्टर क्रिएटिनिन यूरिन टेस्ट करवाने की सलाह भी दे सकते हैं।

सामान्य रिजल्ट

एमएमए यूरिन टेस्ट के लिए सामान्य रेंज 0.0 से 3.6 मिलीमोल प्रति क्रिएटिनिन मोल (mmol/mol CRT)

इस टेस्ट का सामान्य रिजल्ट संकेत देता है कि आपके शरीर में विटामिन बी12 की कमी नहीं है। यदि आपको संबंधित लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो हो सकता है कि वे स्वास्थ्य संबंधी किसी अन्य समस्या के कारण हो। ऐसे में समस्या के लक्षणों का पता लगाने के लिए डॉक्टर कुछ अन्य टेस्ट भी कर सकते हैं।

असामान्य रिजल्ट

पेशाब में मिथाइलमेलोनिक का बढ़ा हुआ स्तर विटामिन बी12 की कमी का संकेत दे सकता है। यह मिथाइलमेलोनिक एसिडेमिया का संकेत भी दे सकता है।

 

और पढ़ें ...

References

  1. South Tees Hospitals. NHS Foundation trust. National Health Service, U.K.; Methylmalonic Acid (Urine)
  2. University of Rochester Medical Center [Internet]. Rochester (NY): University of Rochester Medical Center; Methylmalonic Acid (Urine)
  3. National Institute of Health. Office of Dietary Supplements [internet]: Bethesda (MA), US. US Department of Health and Human Services Vitamin B12
  4. Genetic and Rare Diseases Information Center [Internet]. National Center for Advancing Translational Sciences. National Institute of Health. U.S. Department of Health and Human Services; Methylmalonic acidemia
  5. Sun Ai-li, et al. Urinary Methylmalonic Acid as an Indicator of Early Vitamin B12 Deficiency and Its Role in Polyneuropathy in Type 2 Diabetes. J Diabetes Res. 2014; 2014: 921616. PMID: 24719898.
  6. University of Rochester Medical Center [Internet]. Rochester (NY): University of Rochester Medical Center; 24-Hour Urine Collection
  7. Nemours Children’s Health System [Internet]. Jacksonville (FL): The Nemours Foundation; c2017. Urine Tests
  8. ARUP Labs [Internet]. University of Utah. Salt Lake city. Utah. US; Methylmalonic Acid (MMA) Quantitative, Urine
  9. University of Iowa. Department of Pathology. Laboratory Services Handbook [internet]; Methylmalonic Acid (Urine)
ऐप पर पढ़ें
कोरोना मामले - भारतx

कोरोना मामले - भारत

CoronaVirus
6412 भारत
348आंध्र प्रदेश
11अंडमान निकोबार
1अरुणाचल प्रदेश
29असम
39बिहार
18चंडीगढ़
10छत्तीसगढ़
720दिल्ली
7गोवा
241गुजरात
169हरियाणा
18हिमाचल प्रदेश
158जम्मू-कश्मीर
13झारखंड
181कर्नाटक
357केरल
15लद्दाख
259मध्य प्रदेश
1364महाराष्ट्र
2मणिपुर
1मिजोरम
44ओडिशा
5पुडुचेरी
101पंजाब
463राजस्थान
834तमिलनाडु
442तेलंगाना
1त्रिपुरा
35उत्तराखंड
410उत्तर प्रदेश
116पश्चिम बंगाल

मैप देखें