myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

रोटावायरस एंटीजन टेस्ट क्या है?

रोटावायरस एंटीजन टेस्ट की मदद से आपके मल के सैंपल में रोटावायरस की उपस्थिति का पता लगाया जाता है।

रोटावायरस एक संक्रामक वायरस है जो आंत की आंतरिक दीवारों को प्रभावित करता है। अधिकतर बच्चों को इस वायरस के लिए रोटावायरस वैक्सीन दी जाती है। हालांकि यह अनवेक्सीनेटेड (जिनका टीकाकरण नहीं किया गया) बच्चों जिनकी आयु 3 से 35 महीने के बीच है, उनमें संक्रामक दस्त या डायरिया का कारण बनता है। रोटावायरस वयस्कों को भी प्रभावित कर सकता है और यह गैस्ट्रोएंटेराइटिस (पेट व आंतों में सूजन) का मुख्य कारण हो सकता है।

यह संक्रमण आमतौर पर सर्दी और वसंत ऋतू में फैलता है। यह वायरस संक्रमित व्यक्ति के मल से निकलता है जो कि बाद में वातावरण के जरिए स्वस्थ लोगों में फैल सकता है। एक व्यक्ति निम्न तरीकों से संक्रमित हो सकता है:

  • गंदे और संक्रमित हाथों से भोजन करना
  • किसी संक्रमित जगह को छूना और फिर हाथ से मुंह को छूना
  • वायरस से दूषित भोजन खाना
  1. रोटावायरस एंटीजन टेस्ट क्यों किया जाता है - Rotavirus Antigen Test Kyu Kiya Jata Hai
  2. रोटावायरस एंटीजन टेस्ट से पहले - Rotavirus Antigen Test Se Pahle
  3. रोटावायरस एंटीजन टेस्ट के दौरान - Rotavirus Antigen Test Ke Dauran
  4. रोटावायरस एंटीजन टेस्ट के परिणाम का क्या मतलब है - Rotavirus Antigen Test Ke Parinam Ka Kya Matlab Hai

रोटावायरस एंटीजन टेस्ट किसलिए किया जाता है?

यदि आपके शरीर में रोटावायरस संक्रमण के लक्षण दिखाई दे रहे हैं, तो डॉक्टर रोटावायरस एंटीजन टेस्ट करने के लिए कह सकते हैं। वायरस के संपर्क में आने के दो दिन बाद ही लक्षण दिखाई देने लगते हैं। उल्टी और दस्त इसके सबसे सामान्य लक्षण होते हैं। अन्य लक्षणों में निम्न शामिल हो सकते हैं:

कुछ मामलों में दस्त लगने से पानी की कमी हो सकती है, जिसमें निम्न लक्षण दिखाई दे सकते हैं:

बच्चों में पानी की कमी से जुड़े निम्न लक्षण दिखाई दे सकते हैं:

रोटावायरस एंटीजन टेस्ट की तैयारी कैसे करें?

इस टेस्ट के लिए आपको किसी भी तरह की विशेष तैयारी करने की जरूरत नहीं है। यदि आप किसी भी तरह की दवा, विटामिन या सप्लीमेंट ले रहे हैं तो इसके बारे में डॉक्टर को बताएं।

रोटावायरस एंटीजन टेस्ट कैसे किया जाता है?

रोटावायरस की पहचान करने के लिए मल का सैंपल लिया जाता है। डॉक्टर आपको सैंपल लेने के लिए प्लास्टिक का कंटेनर देंगे। सैंपल निम्न तरीके से लिया जा सकता है:

  • कंटेनर पर अपने नाम, जन्म की तारिख और सैंपल लेने की तारिख लिख कर एक लेबल लगाएं
  • टॉयलेट सीट पर प्लास्टिक का डिब्बा रखें। आप टॉयलेट सीट के बैठने के स्थान पर अखबार या प्लास्टिक रैप लगा सकते हैं
  • ध्यान रहे कि टॉयलेट पॉट से स्टूल सैंपल का संपर्क न हो
  • अब किसी चम्मच या स्पैटुला की मदद से स्टूल को कंटेनर में रख कर ढक्कन बंद कर दें
  • स्टूल सैंपल से कंटेनर एक तिहाई भरा होना चाहिए
  • सैंपल लेने के लिए प्रयुक्त पदार्थों को एक थैली में रख कर कूड़ेदान में डाल दें
  • इसके बाद अपने हाथ ठीक तरह से पानी और साबुन से धोएं

जब व्यक्ति को दस्त हो रहे हैं तब उससे सैंपल लेने के लिए कहा जा सकता है। यदि बच्चों के लिए टेस्ट की सलाह दी गई है तो प्लास्टिक रैप को डायपर में लगाएं। प्लास्टिक रैप को कुछ इस तरह से लगाएं कि स्टूल सैंपल में यूरिन न मिले।

रोटावायरस एंटीजन टेस्ट के परिणाम क्या बताते हैं?

सामान्य परिणाम -

सामान्य परिणाम का मतलब है कि स्टूल सैंपल में रोटावायरस नहीं पाया गया है।

असामान्य परिणाम -

असामान्य परिणाम को पॉजिटिव लिखा जाता है। इसका मतलब है कि आपके मल में रोटावायरस मौजूद है और आपको संक्रमण हो सकता है।

और पढ़ें ...

References

  1. Haines CF, Sears CL. Infectious enteritis and proctocolitis. In: Feldman M, Friedman LS, Brandt LJ, eds. Sleisenger and Fordtran's Gastrointestinal and Liver Disease. 10th ed. Philadelphia, PA: Elsevier Saunders; 2016:chap 110.
  2. Bass DM. Rotaviruses, calciviruses, and astroviruses. In: Kliegman RM, Stanton BF, St. Geme JW, Schor NF, eds. Nelson Textbook of Pediatrics. 20th ed. Philadelphia, PA: Elsevier; 2016:chap 265, 340.
  3. Semrad CE. Approach to the patient with diarrhea and malabsorption. In: Goldman L, Schafer AI, eds. Goldman-Cecil Medicine. 25th ed. Philadelphia, PA: Elsevier Saunders; 2016:chap 140.
  4. Center for Disease Control and Prevention [internet], Atlanta (GA): US Department of Health and Human Services; Rotavirus
  5. University of Rochester Medical Center [Internet]. Rochester (NY): University of Rochester Medical Center; Rotavirus (Stool)
  6. National Health Service [internet]. UK; How should I collect and store a poo (stool) sample?
ऐप पर पढ़ें