दमा यानी अस्थमा का इलाज संभव है अगर आप अपने खानपान में बदलाव लाएं और कुछ महत्वपूर्ण प्राणायाम अपनाएं। खानपान पर नियंत्रण रखें, ठंडी चीज़ें ना खाएँ, गर्म पानी पिएं, गर्म पानी में सोंठ और तुलसी डालकर पिएं, दही बंद कर दें, दूध में सोंठ, तुलसी और हल्दी डालकर पिएं, च्यवनप्राश के साथ दूध ना लें, च्यवनप्राश लेने के आधे-एक घंटे बाद ही दूध पिएं। प्राणायाम में कपालभाती, बाह्य, अग्रिसार, अनुलोम विलोम आदि प्राणायाम आदि काफ़ी लाभदायक हैं।

इसके बारे में और जानकारी के लिए अवश्य देखें यह वीडियो -

और पढ़ें ...