myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

हेम्प सीड्स यानी भांग के बीज। ये कैनबिस सैटिवा पौधे के बीज होते हैं जो कि कैनबिस (मारिजुआना) की एक अलग किस्म की प्रजाति है। भांग के बीज को 'हेम्प हार्ट्स' के नाम से भी जाना जाता है। 

भांग के बीज के पोषक तत्व

भांग के बीज पोषक तत्वों से युक्त होते हैं। इनका स्वाद अखरोट से मिलता-जुलता है। भांग के बीज में 30% से अधिक वसा होता है। इसमें दो महत्वपूर्ण फैटी एसिड 'लिनोलिक एसिड (ओमेगा -6)' और 'अल्फा-लिनोलेनिक एसिड (ओमेगा 3)' पाया जाता है। इनमें गामा-लिनोलेनिक एसिड (जीएलए-मुख्य रूप से वनस्पति तेलों में पाया जाने वाला फैटी एसिड) भी होता है, जोकि कई तरह से स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है।

प्रोटीन से होते हैं भरपूर 

भांग के बीज प्रोटीन के बेहतरीन स्रोत होते हैं। इसके अलावा भांग के बीज विटामिन ई और खनिज पदार्थों जैसे कि फास्फोरस, पोटेशियम, सोडियम, मैग्नीशियम, सल्फर, कैल्शियम और जिंक से भी युक्त होते हैं। भांग के बीज को कच्चा, पकाकर या भून कर खा सकते हैं।

भांग के बीज से बना तेल स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है और आपको यह जानकर हैरानी होगी कि चीन में कम से कम 3,000 वर्षों से भोजन और दवा के रूप में भांग के बीजों का उपयोग किया जा रहा है।

हृदय रोग का खतरा कम होता है 

दुनिया भर में होने वाली मौतों का सबसे बड़ा कारण हृदय रोग है। दिलचस्प बात यह है कि भांग के बीज का सेवन करने से दिल की बीमारी होने का खतरा कम हो सकता है। इन बीजों में एमिनो एसिड आर्गिनिन की मात्रा अधिक होती है, जो आपके शरीर में नाइट्रिक ऑक्साइड का उत्पादन करता है। नाइट्रिक ऑक्साइड रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करता है, जिससे हाई बीपी कंट्रोल होता है और हृदय रोग का खतरा भी कम रहता है। 

(और पढ़ें - हृदय रोग से बचने के उपाय)

त्वचा के लिए लाभदायक है 

अध्ययन बताते हैं कि प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) ओमेगा-6 और ओमेगा-3 फैटी एसिड के संतुलन पर निर्भर करती है। भांग के बीज शरीर के लिए आवश्यक फैटी एसिड का अच्छा स्रोत हैं। इनमें ओमेगा-3 और ओमेगा-6 लगभग 3:1 के अनुपात में मिलता है। अध्ययनों से यह पता चला है कि एक्जिमा में भांग के बीज के तेल का इस्तेमाल करने से फैटी एसिड के ब्लड लेवल में सुधार आ सकता है। इसका तेल रूखी त्वचा को ठीक करने के साथ-साथ खुजली को भी दूर कर सकता है।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा की देखभाल)

पाचन में हैं मददगार 

फाइबर आपके आहार का एक अनिवार्य हिस्सा है और यह पाचन शक्ति को बेहतर बनाता है। भांग के साबुत बीज घुलनशील और अघुलनशील फाइबर (क्रमशः 20 फीसदी और 80 फीसदी) के अच्छे स्रोत माने जाते हैं। घुलनशील फाइबर पेट में एक जैल जैसा पदार्थ बनाता है। यह पाचन के लिए बेहद फायदेमंद है और ब्लड शुगर को बढ़ने से रोकने के साथ-साथ कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करता है।

(और पढ़ें - कोलेस्ट्रॉल कम करने के घरेलू उपाय)

भांग के बीजों के इस्तेमाल से आप कई रोगों से छुटकारा पा सकते हैं। अपने औषधीय गुणों के कारण भांग के बीजों की बहुत मांग है।

और पढ़ें ...