मूंगफली को भारत में कई नामों से जाना जाता है। इसे हिंदी में 'मुंगफली', तेलुगू में 'पलेलेलू', तमिल में 'कडालाई', मलयालम में 'निलाक्कडाला', कन्नड़ में 'कदले कायी', गुजराती में सिंगानाना और मराठी में 'शेंगाडेन' भी कहा जाता है। मूंगफली मूल रूप से दक्षिण अमेरिका में उगाई जाती है। यह कई तरह के स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती है। मूंगफली डायबिटीज, गैल्स्टोन का विकास, याददाश्त बढ़ाना, अवसाद, वजन कम करना, त्वचा को स्वस्थ बनाना, पेट के कैंसर आदि समस्याओं को रोकने में मदद करती है।

(और पढ़ें- याददाश्त कमजोर होने का कारण)

मूंगफली (पीनट) सेहत का खजाना है। इसमें प्रोटीन की मात्रा बहुत ज्यादा पाई जाती है। 100 ग्राम कच्ची मूंगफली में 1 लीटर दूध के बराबर प्रोटीन पाया जाता है। मूंगफली में प्रोटीन की मात्रा 25% से ज्यादा होती है। साथ ही यह पाचन शक्ति बढ़ाने में भी उपयोगी है। 250 ग्राम भूनी मूंगफली की जितनी मात्रा में खनिज और विटामिन पाए जाते हैं, वो 250 ग्राम मीट से भी नहीं मिलते हैं। इसके अलावा, मूंगफली का तेल खाने में उपयोग करने से आपके शरीर के कीटाणु कम होते हैं और आपके शरीर को अच्छा पोषण मिलता है। पीनट में पोषक तत्व, मिनरल, एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन जैसे पदार्थ पाए जाते हैं जो कि आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होते हैं।

  1. मूंगफली खाने के फायदे - Mungfali ke fayde in Hindi
  2. मूंगफली के अन्य फायदे - Other Mungfali Benefits in Hindi
  3. मूंगफली खाने के नुकसान - Mungfali ke Nuksan in Hindi
  4. मूंगफली की तासीर - Peanut ki taseer in Hindi

मूंगफली खाने के फायदे रखें ब्लड शुगर को संतुलित - Peanuts for Blood Sugar in Hindi

मूंगफली में मौजूद मैंगनीज रक्त में कैल्शियम के अवशोषण, फैट और कार्बोहाइड्रेट चयापचय और शर्करा के स्तर को संतुलित रखने में मदद करता है। रोज खाना खाने के बाद 50 ग्राम मूंगफली खाने से आपकी बॉडी का ब्लड रेशो इनक्रीज हो सकता है। मैंगनीज, फैट और कार्बोहाइड्रेट के चयापचय को बढ़ाता है, जिसकी मदद से यह मांसपेशियों और लिवर की कोशिकाओं में ग्लूकोज प्रवेश करता है, और रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है। एक अध्ययन के अनुसार, मूंगफली का सेवन मधुमेह के जोखिम को 21% तक कम कर सकता है।

(और पढ़ें – शुगर कम करने के घरेलू उपाय​)

मूंगफली के लाभ हैं सर्दी जुकाम में उपयोगी - Peanuts for Cough in Hindi

मूंगफली सर्दी जुकाम के लिए बहुत लाभदायक है। अगर आप सर्दी के मौसम में मूंगफली खाएंगे तो आपका शरीर गर्म रहेगा। यह खाँसी में उपयोगी है व फेफड़े को मजबूत करती है।

(और पढ़ें – खांसी के लिए घरेलू उपचार)

मूंगफली के फायदे खराब कोलेस्ट्रॉल के लिए - Mungfali ke Fayde for Cholesterol in Hindi

मूंगफली में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड पाए जाते हैं। जो कि खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करके गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं।

(और पढ़ें – कोलेस्ट्रॉल​ कम करने के लिए डाइट चार्ट)

मूंगफली के तेल के फायदे रखें बालों को स्वस्थ - Peanut Oil for Hair in Hindi

मूँगफली में कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो बालों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए फायदेमंद हैं। इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड का अधिक स्तर शामिल है जो स्कैल्प को मजबूत और बालों के विकास को बढ़ावा देने के लिए मदद करता है। मूंगफली एल आर्जिनाइन (L-Arginine) का बहुत अच्छा स्रोत है, यह एक अमीनो एसिड है जो पुरुषों में गंजेपन के इलाज के लिए बहुत उपयोगी है और स्वस्थ बालों के विकास को प्रोत्साहित करता है।

(और पढ़ें – बाल के झड़ने के लिए आहार )

मूंगफली खाने के लाभ हैं त्वचा के लिए बेहतर - Peanuts for Skin in Hindi

मूंगफली के सूजन कम करने वाले गुण सोरायसिस और एक्जिमा जैसे त्वचा रोगों का इलाज करते हैं। मूंगफली में मौजूद फैटी एसिड भी सूजन और त्वचा की लालिमा को कम करता है। मूंगफली में मौजूद फाइबर विषाक्त पदार्थों और कचरे को बाहर निकालने के लिए आवश्यक है। शरीर के अंदर विषाक्त पदार्थ त्वचा पर डल्नस और अतिरिक्त तेल का कारण होते हैं। नियमित रूप से मूंगफली का भोजन के रूप में सेवन आपको एक स्वस्थ त्वचा देने में मदद करता है।

(और पढ़ें- तैलीय त्वचा की देखभाल)

मैग्नीशियम से भरपूर मूंगफली हमारे तंत्रिका तंत्र, मांसपेशियों और रक्त वाहिकाओं को शांत करके त्वचा के लिए बेहतर रक्त प्रवाह प्रदान करती है। जिससे आपको एक युवा और स्वस्थ त्वचा मिलती है। मूंगफली में पाया जाने वाला  बीटा कैरोटीन एक एंटीऑक्सीडेंट है जो त्वचा के स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। 

(और पढ़ें – झाइयां हटाने के घरेलू उपाय)

पीनट के फायदे वजन कम करने के लिए - Peanuts for Weight Loss in Hindi

मूँगफली वजन कम करने के लिए भी बहुत उपयोगी है। मूंगफली में प्रोटीन और फाइबर होते हैं। ये दोनों पोषक तत्व भूख को कम करने में प्रभावित हैं। इसलिए भोजन के बीच में कुछ मूंगफली खाने से आपकी भूक कम हो सकती है जिससे वजन कम करने में मदद मिल सकती है। रोजाना मूँगफली का सेवन करने से जल्दी ही वजन कम होने लगता है। 

(और पढ़ें – एक्यूप्रेशर से वजन घटाने के तरीके)

पीनट बटर के फायदे करें अवसाद को दूर - Peanut Butter for Depression in Hindi

शरीर में सेरोटोनिन का कम स्तर अवसाद जैसी समस्या उत्पन्न कर सकता है। मूंगफली में मौजूद ट्रिप्टोफेन इस रसायन को निकालने में मदद करता है और इस प्रकार यह आपको अवसाद से लड़ने में मदद करता है। मूंगफली के स्वास्थ्य लाभ आप कई प्रकार से उठा सकते हैं। खतरनाक बीमारियों को दूर रखने और स्वस्थ रहने के लिए प्रत्येक सप्ताह दो बड़े चम्मच मूंगफली के मक्खन का सेवन करें।

(और पढ़ें – अवसाद के घरेलू उपाय)

मूंगफली के फायदे करें कैंसर के जोखिम को कम - Moongfali ke Fayde for Cancer in Hindi

मूंगफली में पॉलिफीनॉलिक नामक एंटीऑक्सीडेंट की अधिक मात्रा मौजूद होती है। पी-कौमरिक एसिड में पेट के कैंसर के जोखिम को कम करने की क्षमता होती है। मूँगफली विशेष रूप से महिलाओं में पेट के कैंसर को कम कर सकती है। 2 चम्मच मूंगफली के मक्खन का कम से कम सप्ताह में दो बार सेवन करने से महिलाओं और पुरुषों में पेट के कैंसर के खतरे को कम कर सकते हैं। यह महिलाओं के लिए मूंगफली के सबसे अच्छे लाभों में से एक है।

(और पढ़ें – कैंसर के लिए आहार)

मूंगफली खाने के फायदे बढ़ाएं प्रजनन शक्ति - Peanuts for Fertility in Hindi

मूंगफली महिलाओं में प्रजनन शक्ति को बेहतर बनाती है। मूंगफली में फोलिक एसिड होता है। फोलिक एसिड, गर्भावस्था के दौरान, भ्रूण में 70% तक गंभीर न्यूरल ट्यूब दोष के जोखिम को कम कर देती है।

(और पढ़ें - गर्भावस्था में पेट में दर्द और प्रेग्नेंट होने के लिए क्या करें)

मूंगफली का फायदा अल्जाइमर रोग के लिए - Peanut for Alzheimer in Hindi

किसी भी प्रकार से मूंगफली का सेवन करना अल्जाइमर जैसी बीमारियों से लड़ने में मदद कर सकता है। इनमें रेसवेरट्रोल (resveratrol) नामक एक यौगिक होता है जो मृत्यु कोशिकाओं को कम करने, डीएनए की रक्षा करने और अल्जाइमर रोगियों में तंत्रिका संबंधी क्षति को रोकने के लिए फायदेमंद है। उबाली हुई या भुनी हुई मूंगफली ज्यादा लाभदायक होती है क्यूंकि ये रेसवेरट्रोल के स्तर को बढ़ा देती हैं। अध्ययनों से पता चला है कि नियासिन (niacin) में समृद्ध खाद्य पदार्थ जैसे की मूंगफली, अल्जाइमर रोग के खतरे को 70% तक कम कर सकते हैं।

(और पढ़ें- अल्जाइमर रोग को रोकने के लिए क्या खाएं)

 

मूंगफली के अन्य फायदे इस प्रकार हैं -

  • जिन लोगों में ट्राइग्लिसराइड्स का स्तर अधिक होता है, वो अगर मूँगफली खाएं, तो उनके ब्लड के लिपिड स्तर में ट्राइग्लिसराइड्स का स्तर 10.2% कम हो जाता है।
  • भोजन के बाद यदि आप 50 या 100 ग्राम मूँगफली प्रतिदिन खाते हैं तो आपकी सेहत बनी रहती है, यह भोजन को पचाने में मदद करता है, जिससे शरीर में खून की कमी पूरी होती है। (और पढ़ें- खून की कमी के घरेलू उपाय)
  • यह पाचन शक्ति को बढ़ाती है, लेकिन गरम प्रकृति के व्यक्तियों के लिए हानिकारक भी है। मूँगफली ज़्यादा खाने से पित्त भी बढ़ता है। (और पढ़ें- पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए उपाय)
  • रोजाना एक मुट्ठी मूँगफली का सेवन करने से आपको कई रोगों से छुटकारा मिलेगा और आपका वजन भी कम होगा।

मूंगफली के नुकसान निम्न हैं -

इसलिए किसी भी प्रकार के दुष्प्रभाव होने पर अपने डॉक्‍टर से सलाह लें और जब तक ठीक नहीं हो जाते हैं तब तक किसी भी प्रकार के सूखे मेवे का सेवन ना करें।

मूंगफली की तासीर गर्म होती है। इसलिए इसका सेवन ज्यादातर सर्दियों के मौसम में ही किया जाता है। पर ध्यान रखें की नियमित रूप से ही इसका सेवन करें। मूंगफली का अधिक मात्रा में सेवन आपके शरीर में अन्य प्रकार की समस्या उत्पन कर सकता है। 

(और पढ़ें- सर्दी के मौसम में क्या खाना चाहिए)


मूंगफली के हैं कई लाभ, क्या इन्हें जानते हैं आप सम्बंधित चित्र

और पढ़ें ...