myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

दांत शरीर के सबसे महत्वपूर्ण हिस्सों में से एक है। बिना दांत के आप स्वादिष्ट भोजन नहीं खा सकते। लेकिन इन दिनों ज्यादातर लोगों में खानपान और साफ-सफाई की बुरी आदतें देखने को मिल रही हैं। इस वजह से दांत में पीलेपन की समस्या पनप रही है। इस समस्या से निजात पाने के लिए सरसों के तेल का उपयोग किया जा सकता है। आयुर्वेद भी मानता है कि पीले दांतों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए सरसों का तेल उपयोग में लाना चाहिए। इससे दांत सफेद और चमकदार भी बनते हैं।

(और पढ़ें - दांत साफ करने का घरेलू उपाय)

इस तरह करें इस्तेमाल

  • सरसों के तेल संग मिलाएं हल्दी: 
    आधे चम्मच हल्दी पाउडर में एक चम्मच सरसों का तेल अच्छी तरह मिला लें। इस पेस्ट का उपयोग करें और धीरे-धीरे अंगुली की मदद से दांतों पर रगड़ें। इस मिश्रण का नियमित इस्तेमाल करें। कुछ ही दिनों में आपको फर्क नजर आने लगेगा। यह पेस्ट आपके दांतों पर चमत्कारिक रूप से काम करता है। (और पढ़ें - दांत खराब होने के कारण)
     
  • सरसों का तेल और नमक का मिश्रण: 
    आधा चम्मच सरसों का तेल लें और इसमें एक चुटकी नमक मिलाएं। इस मिश्रण को अच्छी तरह मिला लें। इसके बाद पेस्ट बनाकर दांतों को ब्रश करें। इससे भी आपके दांतों का पीलापन गायब हो जाएगा। 
     
  • सरसों का तेल, समुद्री नमक और हल्दी पाउडर: 
    जैसा कि आप जानते हैं कि सरसों का तेल, नमक और हल्दी पाउडर दांतों के लिए उपयोगी है। अगर आप इन तीनों को मिलकर दांत के लिए पेस्ट तैयार करते हैं तो यह एक बेहतरीन प्राकृतिक टूथ पेस्ट बनेगा। इसी तरह सरसों के तेल और हल्दी पाउडर में समुद्री नमक भी मिला सकते हैं। इस मिश्रण से दांतों को रगड़ें। इससे दांतों के दाग निकल जाएंगे। (और पढ़ें- सरसों के बीज के फायदे
     
  • सरसों का तेल और सेंधा नमक: 
    इस मिश्रण को बनाने के लिए महज एक चुटकी सेंधा नमक, जिसे रॉक साॅल्ट भी कहा जाता है, और थोड़ा सा सरसों का तेल मिलाएं। अगर आप सरसों के तेल में सामान्य नमक का इस्तेमाल करते हैं, तो इस मिश्रण को 2 से 3 घंटों के लिए धूप में रखना पड़ेगा ताकि यह आयोडीन मुक्त हो सके। मिश्रण तैयार होने पर इससे दो से तीन मिनट तक अपने दांतों को रगड़ें। इसके बाद गुनगुने पानी से मुंह धो लें। इस मिश्रण का नियमित इस्तेमाल करें। (और पढ़ें- दांत मजबूत कैसे बनाएं)
     
  • सिर्फ सरसों के तेल का करें उपयोग: 
    सबसे पहले आधा चम्मच शुद्ध सरसों का तेल अपनी हथेली पर लें। इसके बाद अपनी किसी एक साफ अंगुली की मदद से तेल को मसूड़ों में लगाएं। अंगुली को हल्के से पूरे मुंह में गोल-गोल घुमाते हुए मसाज करें। तेल को दो से तीन मिनट तक लगाकर छोड़ दें। इसके बाद गुनगुने पानी से मुँह धो लें। इससे रक्त प्रवाह बेहतर होता और मसूड़ों की सूजन या दर्द की समस्या कम होती है। इसके नियमित इस्तेमाल से दांत मजबूत और स्वस्थ बनते हैं।

यहां बताए गए तरीकों से सरसों के तेल का इस्तेमाल कर आप दांतों के पीलपेन से तो छुटकारा पा सकते हैं, साथ ही दांतों और मसूड़ों की समस्या भी कम हो सकती है। अतः सरसों के तेल से बने पेस्ट को नियमित इस्तेमाल करें।

(और पढ़ें - दांतों का पीलापन दूर करने के उपाय)

और पढ़ें ...