myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

ज्यादातर लोगों के दिमाग में वहम होता है कि यदि वे जिम में एक्सरसाइज करते वक्त ज्यादा पसीना बहाएंगे, तो उनका मोटापा या फैट कम होगा। यह कोई नया तथ्य नहीं है। अक्सर आप सुनी सुनाई बातों की सच्चाई जाने बगैर उन्हें ज्यों का त्यों ही स्वीकार कर लेते हैं।

इसके पीछे लोगों में फिटनेस की जानकारी का अभाव सबसे बड़ा कारण है। यहां तक कि कुछ लोग तो गर्मियों में भी जिम में ज्यादा पसीना निकालने के लिए ट्रेक सूट तक पहनकर चले जाते हैं।

यदि वैज्ञानिक तथ्यों की बारीकी से पड़ताल करें तो सच्चाई इसके विपरीत है। अगर आप भी बॉडी बनाने की चाह में या फिर मोटापा कम करने के लिए जिम में ज्यादा से ज्यादा पसीना निकालने की कोशिश करते हैं, तो आपको सावधान होने की जरूरत है। जिम में एक्सरसाइज करते वक्त ज्यादा पसीना आना कई बार आपके लिए जानलेवा भी साबित हो सकता है।

(और पढ़ें - ज्यादा पसीना आना रोकने के घरेलू उपाय)

एक्सरसाइज के दौरान इस वजह से आता है पसीना
जिम में एक्सरसाइज करते वक्त आपके शरीर का तापमान बढ़ने लगता है। इस दौरान मस्तिष्क प्रतिक्रिया करता है और 25 लाख से भी ज्यादा एक्राइन ग्लेंड्स यानि स्वेद-ग्रन्थि/पसीना ग्रंथियां पूरे शरीर में पसीना छोड़ती हैं। ऐसे में हजारों छिद्रों से आपके शरीर के बढ़े तापमान को कम करने के लिए पसीना बाहर आता है।

सामान्य भाषा में कहें तो एक्सरसाइज के दौरान आपके शरीर में रक्त का संचार तेज हो जाता है और आपके दिल की धड़कन तेज हो जाती है। इसकी वजह से शरीर का तापमान बढ़ने लगता है, जिसे कम करने के लिए हमें पसीना आता है। हमारा शरीर 60 प्रतिशत पानी से बना होता है। ऐसे में यदि आपको ज्यादा पसीना आ रहा है तो इसका मतलब यह नहीं है कि आपके शरीर से मोटापा कम हो रहा है।

संभव है कि आपके शरीर में पानी की मात्रा कम हो रही है, जिसके चलते वजन में गिरावट दिखाई दे। ऐसे में यह ध्यान रखना जरूरी है कि आपके शरीर में पानी की मात्रा कम हो रही है या फिर मोटापे की, जिसके कारण वजन में कमी आ रही है। इस पर एक फिटनेस एक्सपर्ट का कहना है कि, ‘कठिन एक्सरसाइज करते  वक्त आपको सतर्क रहने की जरूरत है। इस में ही आपका वजन कम होगा लेकिन इससे मोटापा कम नहीं होगा।’

मोटापा नहीं बल्कि घटता है पानी
कई लोगों का कहना है लंबे समय में शरीर का तापमान बढ़ने से वजन नहीं घटता है। शायद तत्काल आपके वजन में कमी आ जाए लेकिन वह मोटापे का वजन नहीं होगा बल्कि वह पानी का वजन होगा जो आपके शरीर से बाहर जा चुका है।

गर्मी आपके शरीर का तापमान बढ़ा देती है, जिससे पसीना आने लगता है लेकिन वह ‘कैलोरी बर्निंग’ को नहीं बढ़ाती है। जिम में एक्सरसाइज करते वक्त ज्यादा पसीना आने से असल में वर्कआउट करने की क्षमता कम होती है, जिससे आपके शरीर में पानी की कमी हो सकती है

ज्यादा पसीना आना हो सकता है घातक
पसीना, पानी और इलेक्ट्रोलाइट से मिलकर बना होता है। जब आपके शरीर से अधिक मात्रा में इलेक्ट्रोलाइट बाहर निकल जाते हैं, तब इससे आसानी से गुर्दों को नुकसान, दिल से जुड़ी हुई परेशानियां या मौत तक हो सकती है। कुछ मामलों में तो एक्राइन ग्लेंड्स आपकी शरीर की मांग को पूरा भी नहीं कर पाती है। ऐसा होने पर शायद आपके शरीर में हीट स्ट्रोक या गर्मी निकलने की समस्या हो सकती है, जो बेहद ही हानिकारक या घातक साबित हो सकती है।

(और पढ़ें - गर्मी में लू से बचने के आसान उपाय)

गलतफहमियों के चक्कर में न पड़ें
इस वहम में न पड़ें कि पसीना आने से आपका वजन कम होगा। बाहर की गर्मी आपके शरीर में पसीना आने का कारण बनती है और आपको गलतफहमी होती है कि यह कठिन एक्सरसाइज से हो रहा है। इस पूरी प्रक्रिया में न्यूनतम कैलोरी खर्च होती हैं।

इस दौरान कम होने वाला वजन पानी पीने से दोबारा बढ़ जाता है। एक्सरसाइज करते वक्त निकलने वाला पसीना ऊर्जा का उत्पादन करता है, जिससे शरीर ठंडा रहता है। इससे शरीर की फिटनेस, ताकत और कैलोरी खर्च करने की क्षमता बढ़ती है। 

एक्सरसाइज के बाद पानी पीना जरूरी
जिम में एक्सरसाइज के दौरान पानी पीने का मतलब यह नहीं कि आपने दिनभर के लिए पानी पी लिया। एक्सरसाइज के दौरान आप पसीने के जरिए जितना पानी शरीर से बाहर निकालते हैं शायद उतना पसीना आपको पूरे दिनभर में आता हो।

इस पर एक्सपर्ट्स का कहना है कि शरीर में दोबारा पानी की मात्रा का संतुलन बनाना बेहद ही जरूरी है और इसको लेकर जारी दिशानिर्देशों के मुताबिक जितना पसीना आप एक्सरसाइज के दौरान बहाते हैं उससे ज्यादा पानी आपको एक्सरसाइज के बाद पीना चाहिए। इस क्षेत्र में काम करने वाली संस्थाओं के मुताबिक, एक्सरसाइज के दौरान स्पोर्ट्स ड्रिंक पीने से आपको ज्यादा प्यास लगती है क्योंकि इनका फ्लेवर ज्यादा पानी पीने के लिए प्रोत्साहित करता है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए कितना पानी पीना चाहिए)

और पढ़ें ...