myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

जब हम फिटनेस की बात करते हैं तो ज्यादातर लोग सिर्फ मसल्स बनाना और शारीरिक तंदरुस्ती के बारे में ही सोचते हैं। हम में ज्यादातर लोग अक्सर अपने ब्रेन यानी मस्तिष्क की सेहत को नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन हमें ये नहीं भूलना चाहिए कि ब्रेन हमारे शरीर का सबसे अहम हिस्सा है और ब्रेन के अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने और इसके दीर्घकालिक विकास के लिए इसका बेहतर तरीके से ध्यान रखना भी अतिआवश्यक है।

मस्तिष्क हमारे जीवन के हर क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। नई-नई चीजें सीखने से लेकर व्यक्तित्व के विकास तक, मस्तिष्क हमें चीजों को याद रखने और हमारे कौशल और योग्यता के विकास में भी मदद करता है। हर साल 22 जुलाई को दुनियाभर में वर्ल्ड ब्रेन डे मनाया जाता है, ऐसे में ब्रेन डे के मौके पर मस्तिष्क की अच्छी सेहत को बनाए रखने के लिए हम आपको कुछ जरूरी सुझाव दे रहे हैं:

(और पढ़ें : कमजोर याददाश्त, कारण, लक्षण, बचाव)

1. अपनी डायट में फल और सब्जियां शामिल करें : हमें अपनी डेली डायट में ढेर सारे फल और सब्जियां शामिल करने चाहिए, क्योंकि इनमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं जिससे मस्तिष्क की कार्य प्रणाली बेहतर होती है। कम नमक वाला खाना भी बेहतर ब्रेन हेल्थ को बनाए रखने में मदद करता है।

2. कम फैट वाले आहार का सेवन करें : कम फैट यानी कम वसा वाला भोजन मस्तिष्क में कोलेस्ट्रॉल को जमने से रोकता है। अपनी डायट में विटामिन बी से भरपूर चीजों को शामिल करना भी आपके लिए अच्छा है, क्योंकि यह आपको डिमेंशिया बीमारी के खतरे से बचाता है।

3. उत्तेजक दवाओं की लत और शौकिया तौर पर ड्रग्स लेने से बचें : उत्तेजक दवाओं की लत और शौकिया तौर पर लिए जाने वाले ड्रग्स में मस्तिष्क को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाने की क्षमता होती है। लिहाजा इनके सेवन से हर हाल में बचना चाहिए।

(और पढ़ें : चॉकलेट का दिमाग पर असर, अच्छा या बुरा)

4. बहुत ज्यादा अल्कोहल के सेवन से बचें : अल्कोहल आपके मस्तिष्क (ब्रेन) के लिए टॉक्सिन यानी जहर की तरह है और इसलिए बहुत ज्यादा अल्कोहल का सेवन करने से मस्तिष्क की कोशिकाओं को गंभीर रूप से नुकसान पहुंच सकता है।

5. शारीरिक रूप से सक्रिय रहें : रोजाना कम से कम 30 मिनट तक नियमित रूप से व्यायाम करने से मस्तिष्क के रक्त परिसंचरण (ब्लड सर्कुलेशन) और मेटाबॉलिज्म में सुधार होता है और यह ब्रेन को बेहतर कार्य करने में भी मदद करता है। डिमेंशिया से बचने का यह सबसे बेहतर तरीका है।

6. स्ट्रेस और तनाव से बचें : तनाव और स्ट्रेस मस्तिष्क के ट्रांसमीटर का उपभोग करता है और याददाश्त और ध्यान केंद्रित करने की क्षमता को बाधित करता है। लिहाजा जहां तक संभव हो आपको तनाव लेने से बचना चाहिए। युवाओं में मेमोरी लॉस की प्रमुख वजहों में से एक बहुत ज्यादा तनाव लेना है।

(और पढ़ें : उम्र बढ़ने पर याददाश्त खोना)

7. मानसिक रूप से सक्रिय बने रहें : मस्तिष्क हमारे पूरे जीवन में नए-नए कौशल और तथ्यों को सीखने में और फिर उन्हें जीवनभर याद रखने में मदद करता है। लिहाजा हमें नियमित तौर पर बौद्धिक रूप से उत्तेजित करने वाली गतिविधियों में भाग लेना चाहिए, इन गतिविधियों से मस्तिष्क की कार्यप्रणाली में सुधार होता है और ब्रेन के न्यूरॉन्स सक्रिय बने रहते हैं। ब्रेन ट्रेनिंग एक्सरसाइज और शिक्षा का विस्तार करने से भी मदद मिलती है। यह समग्र रूप से हमारे मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में भी मदद करता है। 

8. सामाजिक अनुबंध : परिवार के सदस्य और दोस्त आपको एक खुशहाल जीवनशैली बनाए रखने में मदद करते हैं और मस्तिष्क के स्वास्थ्य के मामले में भी यह बात पूरी तरह से सच है। रिसर्च में भी यह बात साबित हो चुकी है कि नियमित सामाजिक गतिविधियां मस्तिष्क की कोशिकाओं (ब्रेन सेल्स) को बनाने में मदद करती हैं और मस्तिष्क की मरम्मत को भी बढ़ावा देती हैं।

मस्तिष्क हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण और अभिन्न अंग है और इसकी उत्पत्ति और विकास मुख्य रूप से नवजात शिशु के जन्म के बाद पहले पांच वर्षों में ही होता है। लिहाजा इन शुरुआती वर्षों में बेहद जरूरी है कि माता-पिता बच्चे को बौद्धिक रूप से उत्तेजित करने वाले खेलों में शामिल करें। यह बच्चे के मस्तिष्क के दीर्घकालिक विकास, बुद्धि और बेहतर तरीके से कार्य करने में मदद करेगा।

(और पढ़ें : बच्चों का दिमाग तेज करने के लिए उन्हें क्या खिलाएं)

हमें हमेशा ये याद रखना चाहिए कि वयस्क होने के नाते हमें खुद पर अधिक बोझ नहीं डालना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से हमारा ब्रेन स्लो हो सकता है। साथ ही में मल्टीटास्किंग यानी एक साथ बहुत सारे काम करने से भी बचना चाहिए क्योंकि इससे ध्यान और याददाश्त की कमी हो सकती है। लिहाजा, सभी पहलुओं में एक स्वस्थ जीवनशैली को बनाए रखना बेहद जरूरी है ताकि मस्तिष्क का अच्छा स्वास्थ्य भी बना रहे।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें