myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

कहते हैं उम्र बढ़ने के साथ-साथ सेक्स के प्रति रुचि कम हो जाती है। जरा सोचिये क्या सच में ऐसा है? अगर पार्टनर के साथ सेक्स का आनंद उठाते हैं तो कभी भी सेक्स के प्रति रुचि कम नहीं होती। इसके बावजूद देखने में आ रहा है कि युवा वैवाहिक दंपतियों में कामेच्छा की कमी हो रही है। वे सेक्स का उतना मजा नहीं ले रहे, जितना कि उन्हें लेना चाहिए। अगर आप भी इस तरह की परेशानी से गुजर रहे हैं तो यह जानने की कोशिश करें कि कामेच्छा में आखिर कमी क्यों आ रही है? वजह जानकर अपने सेक्सुअल रिलेशन को बेहतर बना सकते हैं।

(और पढ़ें - कामेच्छा बढ़ाने के उपाय)

बहुत ज्यादा एक्सरसाइज करना

एक्सरसाइज करना हमेशा अच्छा होता है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप अपना अतिरिक्त समय एक्सरसाइज करने में गुजारें। अगर आप ऐसा करते हैं तो इसके नकारात्मक परिणाम झेलने के लिए भी तैयार रहें। हाल में हुए एक रिसर्च के अनुसार एक्सरसाइज के दौरान अगर आप कठिन परीश्रम करते हैं तो इससे शरीर में तनाव बढ़ता है, जिससे एंड्रोक्राइन सिस्टम में गड़बड़ी होती है। परिणामस्वरूप अतिरिक्त एक्सरसाइज की वजह से टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम हो सकता है जिससे सेक्स के प्रति चाह में कमी आती है। यही नहीं अतिरिक्त एक्सरसाइज की वजह से एस्ट्रोजेन के स्तर में भी कमी हो सकती है जिससे कामेच्छा कम होने की आशंका होती है। इससे आपको हर समय थकान और सुस्ती भी महसूस होती है। यही वजह है कि आप सेक्स से दूर रहते हैं।

(और पढ़ें - सेक्स लाइफ में बाधा बनने वाली बीमारियां)

बहुत ज्यादा तनाव में रहना

ऑफिस का तनाव, घर का तनाव, यार-दोस्तों का तनाव। कहने का मतलब है कि तनाव की सूचि इन दिनों बढ़ गई है। लेकिन तनाव से निपटने का समाधान किसी को नहीं मिल रहा। जो लोग हर समय तनाव से ग्रस्त रहते हैं, उनकी भी कामेच्छा में कमी आती है। विशेषज्ञों के अनुसार तनाव की वजह से कार्टिसोल नाम का स्ट्रेस हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है। इससे टेस्टोस्टेरोन और लिबिडो कम हो जाते हैं। यही वजह है कि सेक्स की चाह कम हो जाती है। अगर अपनी जिंदगी में सेक्स की गर्मजोशी बरकरार रखनी है तो तनाव से दूर रहना जरूरी है।

(और पढ़ें - टेस्टोस्टेरोन की कमी के कारण)

पर्याप्त नींद न लेना

अक्सर दिनभर के कामकाज के बाद जब आप घर लौटते हैं तो थकान से चूर होते हैं। ऐसे में सेक्स की चाह में कमी आना लाजिमी है। लेकिन इसके पीछे वजह सिर्फ काम का अतिरिक्त दबाव ही नहीं है। इसके साथ ही अगर आप रात को पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं तो भी आप थकान से भरे रहते हैं, जिससे सेक्स की चाह में कमी आ सकती है। विशेषज्ञों के अनुसार पर्याप्त आराम न करने से भी लिबिडो कम हो सकता है, जिससे आपको अवसाद, वजन बढ़ने जैसी समस्या हो सकती है। ये भी कामेच्छा की कमी के लिए जिम्मेदार कारक हैं। एक अध्ययन के अनुसार जो पुरूष सप्ताह के हर दिन महज 5 घंटे की नींद लेते हैं, वे 15 साल के बच्चों की तरह ही कमजोर होते हैं। कुल मिलाकर कहने की बात ये है कि कामेच्छा बढ़ानी है पर्याप्त आराम करें।

टेक्नोलाॅजी के साथ समय जाया करना

फोन, कंप्यूटर, टीवी आदि जिंदगी के अभिन्न हिस्से बन गए हैं। सोने से पहले, सुबह नींद से उठने के बाद, नाश्ता करने के दौरान यानी हर समय, हर कोई इंटरनेट से ही चिपका रहता है। क्या आपको लगता है कि जिंदगी जीने का यह तरीका सही है? नहीं। आपको टेक्नोलाॅजी से कुछ समय के लिए दूरी अवश्य बनानी चाहिए। ऐसा न करने की वजह से आपकी कामेच्छा दिनों दिन घट रही है। अगर आप प्रकृति के इस सुख को भोगना चाहते हैं तो कृत्रिम सुख से दूर रहें। मोबाइल स्क्रीन में सीमित समय गुजारें। अपने पार्टनर के जितना संभव हो, समय दें। उसके साथ सेक्स की बातें करें। यकीन मानिए इस तरह सेक्स के प्रति चाह अपने आप बढ़ जाएगी।

और पढ़ें ...