myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

वजन घटाने के लिए सिर्फ खानपान में बदलाव और एक्सरसाइज करना ही काफी नहीं होता। इसके साथ ही रात को सोने से अपनी कुछ आदतों में भी बदलाव करना जरूरी है। वैज्ञानिक रूप से यह साबित हो चुका है कि वजन कम करने के लिए रात को गहरी नींद की जरूरत है और बुरी आदतों में बदलाव करना आवश्यक है। नींद की कमी की वजह से तनाव बढ़ता है, भूख से संबंधित हार्मोन का स्तर प्रभावित होता है और मेटाबाॅल्जिम का स्तर घटता है। ये सब वजहें वजन बढ़ाने के लिए जिम्मेदार हैं। मतलब यह कि रात को सोने से पहले कुछ आदतों में बदलाव कर मोटापे को कम कर सकते हैं।

(और पढ़ें - वजन कम करने के उपाय)

मोबाइल, टीवी और लैपटाॅप बंद कर लें

टेक्नोलाॅजी का जमाना है। हर कोई देर रात तक मोबाइल से चिपका रहता है। सोशल मीडिया साइट्स में अपना समय जाया करता है। इसके साथ ही मोटापा भी बढ़ाता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि मोबाइल का नशा किसी भी दूसरे ड्रग के नशे की तरह खतरनाक है। इसलिए रात को सोने से पहले मोबाइल या टीवी में समय बिताने वाली अपनी आदत से तौबा करें। एक रूटीन बनाएं। रूटीन में टीवी, इंटरनेट आदि के लिए महज 30 मिनट रखें। इलेक्ट्राॅनिक गैजेट को इससे ज्यादा समय न दें।

संतुलित आहार लें

अक्सर लोग पतले होने के लिए रात को कम खाते हैं या फिर नहीं खाते। जबकि अच्छी नींद के लिए जरूरी है कि प्रोटीन, कार्ब्स, वसा से भरपूर आहार लें। इससे आपको रात को सोने के दौरान भूख का अहसास नहीं होगा। आप अपनी डाइट में उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन जैसे मछली, चिकन, दाल शामिल करें। इनसे मेटाबाॅलिज्म और मांसपेशियां बेहतर होती हैं। इतना ही नहीं रात भर में आप कई कैलोरी भी बर्न कर लेते हैं। कहने का मतलब है कि रात को न खाने या कम खाने की अपनी आदत में सुधार करें और मोटापा घटाएं।

(और पढ़ें - मोटापा कम करने के लिए क्या खाना)

डिनर जल्दी करें

आमतौर पर आप क्या करते हैं? रात को खाना खाते हैं और सो जाते हैं। जबकि मोटापा कम करने के लिए यह आदत सही नहीं है। विशेषज्ञों के अनुसार रात सोने से कुछ देर पहले डिनर करें। अध्ययनों के अनुसार शरीर में इंसुलिन सुबह के समय सबसे ज्यादा स्रावित होता है। इंसुलिन एक हार्मोन है जो शरीर की मांसपेशियों और वसा कोशिकाओां को रक्त शर्करा को अवशोषित करने के लिए प्रेरित करता है, जो कि बाद में ऊर्जा या वसा के रूप में स्टोर होता है। चूंकि रात के समय इंसुलिन का स्राव कम होता है, इसलिए रात को कार्बोहाइड्रेट या शुगर को भारी मात्रा में लेना सही नहीं है। कहने का मतलब है कि आप शाम के समय जितनी जल्दी खाना खा लेंगे, मोटापा उतना कम होगा।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए कितना पानी पीना चाहिए)

सोने से पहले शरीर को रिलैक्स करें

आमतौर पर लोग यही सोचते हैं कि सोने से शरीर रिलैक्स हो जाता है। जबकि सोने से पहले शरीर को रिलैक्स करना जरूरी है। इसके लिए बिस्तर पर सोने से हल्की-फुल्की स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज या योगा करें। इसके अलावा गहरी सांस लेने की एक्सरसाइज भी सोने से पहले किया जाना बेहतर होता है। ध्यान रखें कि गहरी सांस लेते वक्त सांस पर नियंत्रण रखें। हर बार सांस लेते और छोड़ते वक्त सांस की गति पर ध्यान रखें। कुछ देर ऐसा करने के बाद सोएं। अच्छी नींद आएगी और वजन भी संतुलित रहेगा। 

गहरी नींद लें

हालांकि इन दिनों देर रात सोना एक चलन बन गया है। लेकिन देर से सोना और सुबह देर से उठने की वजह से भी वजन में बढ़ोत्तरी होती है। विशेषज्ञों के अनुसार गहरी नींद न लेने की वजह से हार्मोन में बदलाव होते हैं, जिससे तनाव बढ़ता है, मेटाबाॅलिक स्तर बदलता है, भूख बढ़ती है। अच्छी नींद न लेने की वजह से मोटापे के साथ-साथ डायबिटीज, हाई बीपी जैसी गंभीर बीमारियां भी होने की आशंका रहती है। इसका मतलब यह है कि अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो गहरी नींद लें।

और पढ़ें ...