myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

25 साल की निशा ने अपना वेट लॉस करते समय बहुत मेहनत की और उन्होंने सभी को यह साबित करके दिखाया कि छः महीनों के अंदर-अंदर 14 किलो तक वजन कम किया जा सकता है। वो अपने बढ़ते वजन से पूरी तरह अनजान थी लेकिन उन्होंने सिर्फ जिम को ही अपना सहारा नहीं बनाया। निशा ने अपनी जीवनशैली में बदलाव किए जिसकी मदद से वो अपना वजन कम कर पाई।

(और पढ़ें - वजन कम करने के उपाय)

आइए इस लेख के जरिए जानते हैं कि निशा कैसे अपने वजन को कम कर पाई:

आपने वजन घटाने का फैसला कब लिया?

मुझे हमेशा लगता था कि मेरा वजन अधिक है, इसलिए मैं अपने वजन से छुटकारा पाने के लिए कोई न कोई कोशिश करती रहती थी। मैंने जीएम डाइट के बारे में काफी सुना था, इसलिए इसका भी पालन किया लेकिन फिर भी मुझे वजन कम करने में सफलता नहीं मिल रही थी। मेरे कपड़े बहुत टाइट होते थे, जिससे मुझे कई बार शर्मिंदगी का भी सामना करना पड़ता था। इसी वजह से मैंने फैसला लिया कि मुझे अपने वजन को कम करने के बारे में गंभीर होना पड़ेगा, क्योंकि मेरी आदतों में आमूलचूल बदलाव के बिना वजन कम करना संभव नहीं है। इस तरह मैंने अपनी जीवनशैली में बदलाव लाकर अपना 14 किलो वजन कम किया। 

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए क्या नहीं खाना चाहिए)

आप क्या खाती थी?

  • मेरा नाश्ता: 
    मैं अपने दिन की शुरुआत खाली पेट लगभग एक लीटर पानी पीकर करती थी। आधे घंटे बाद, मैं मुट्ठीभर ड्राई फ्रूट्स (जैसे अखरोट), एक पीस ब्राउन ब्रेड, दो बिस्किट और पराठे जैसा कुछ भारी खाना खाती थी।
     
  • मेरा दोपहर का खाना: 
    एक कप दाल, एक कप ब्राउन राइस, दो रोटी और कुछ सब्जियों का सालन खाती थी।
     
  • मेरा रात का खाना: 
    मैं रात में जल्दी भोजन करती थी और भोजन हल्का होता था। शाम के वक्त, मैं सूप पीती थी और मुरमुरे खाती थी। इसके अलावा सलाद या कुछ सब्जियों के सालन को भी अपनी डाइट में शामिल करती थी।
     
  • चीट डेज के समय
    मैं अपने चीट डेज मासिक धर्म के दौरान रखा करती थी। इन दिनों में मुझे अजीब तरह की भूख महसूस होती थी। इसलिए मैं इस दौरान चीज़केक, जलेबी और वाइट सॉस पास्ता जैसी मेरी मनपसंद चीजे खाती थी।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए कितनी कैलोरी खाएं)

क्या आप वर्कआउट करती थीं?

मैं जिम नहीं जाती थी, वजन घटाने के लिए जो भी वर्कआउट करती थी वो घर या ऑफिस में ही करती थी। मैं लिफ्ट का प्रयोग न करते हुए सीढ़ियों से चढ़ती और उतरती थी। इसके अलावा नियमित सूर्य नमस्कार, प्लैंक एक्सरसाइज तथा डंबल से व्यायाम करती थी।

(और पढ़ें - मोटापा कम करने के घरेलू उपाय)

आप इस दौरान कैसे प्रेरित रहीं?

इसमें मेरी मां का बहुत योगदान रहा। वे हमेशा घर में अलग-अलग तरह का खाना बनाती थी जो कि स्वास्थ्य के लिए बेहद अच्छा होता है, इससे मुझे अपने प्रण को पूरा करने की प्रेरणा मिलती रहती थी। इसके अलावा, मैं अधिक वजन के कारण स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं का फिर से सामना किसी भी कीमत पर नहीं करना चाहती थी, इस निश्चय से भी मुझे बड़ी प्रेरणा मिली।

(और पढ़ें - कमर पतली करने के उपाय)

आपने ये कैसे सुनिश्चित किया कि आप कभी अपने लक्ष्य से भटकेंगी नहीं?

मैं इसके लिए अपने पुराने दिन याद करती थी, जब मुझे शर्मिंदा होना पड़ा था। मेरे पुराने कपड़े और फोटो को देख कर खुद को याद दिलाती थी कि मुझे क्यों अपने लक्ष्य से नहीं भटकना है। इससे मुझे एक नई ऊर्जा मिलती थी। मुझे ये भी डर था कि अगर मैं अपने लक्ष्य पर डटी नहीं रही तो फिर से वही हाल हो जायेगा, इस डर ने लक्ष्य प्राप्त करने से पीछे नहीं हटने दिया।

(और पढ़ें - चेहरे की चर्बी कम करने के उपाय)

अधिक वजन की वजह से आपके लिए सबसे मुश्किल बात क्या थी?

जब हमारा वजन अधिक बढ़ जाता हैं, तो सभी तरह की स्वास्थ्य समस्याएं सामने आने लगती हैं। आमतौर पर अधिक वजन का मतलब है कि हम उम्रभर किसी न किसी समस्या के लिए दवाइयों लेते रहें और लोगों से अपने मोटापे के बारें में सुनते रहें। साथ ही मोटापे के कारण कपड़ों को लेकर भी खासी परेशानियां बढ़ने लगती हैं। मेरे लिए इस स्थिति को स्वीकार करना संभव नहीं था इसलिए मैंने बदलाव की राह चुन ली और सफल भी हुई।

(और पढ़ें - कीटो डाइट प्लान)

आप खुद को कुछ सालों में किस आकार में देखना चाहती हैं?

मुझे लगता है कि अब मेरा वजन सामान्य है, इसलिए इसी को बनाए रखना है। मुझे साइज जीरो जैसा फिगर नहीं चाहिए मैं तो बस जितना हो सके उतना इसी स्वस्थ जीवनशैली को हमेशा बनाए रखना चाहती हूं।

(और पढ़ें - फाइबर युक्त आहार)

जीवनशैली में बदलाव लाने के लिए आपने क्या क्या किया?

मैंने अपनी पानी पीने की मात्रा को बढ़ा दिया था और अन्य स्वस्थ तरल पदार्थ भी अधिक लेने लगी। पहले, मैं हफ्ते में दो से तीन बार बाहर का खाना खा लेती थी इसको भी कम करके मैंने महीने में दो बार कर दिया। जब भी किचन का सामान लेने जाती थी तो कम कैलोरी वाले खाद्य पदार्थ खरीदने का ध्यान रखती थी। मैंने देर रात कुछ भी खाना बिल्कुल छोड़ दिया था।

(और पढ़ें - डिलीवरी के बाद वजन कम कैसे करें)  

आपके लिए सबसे निराशाजनक बात क्या थी?

जब मेरा ऑपरेशन हुआ तो उसके बाद, मैंने महसूस किया कि मैं बहुत ज्यादा सुस्त और आलसी हो गयी हूं। मैं लोगों से लगातर अपने मोटापे के बारें में ताने सुन-सुनकर भी परेशान हो चुकी थी। इसलिए मैं किसी भी तरह इस स्थिति से निकलना चाहती थी।

(और पढ़ें - वजन को कम करने के लिए नाश्ते)

वजन घटाने के बाद आपने क्या सीखा?

मुझे लगता है कि वजन कम करने के लिए हमें अत्यधिक धैर्य, इच्छाशक्ति और आत्म-नियंत्रण की आवश्यकता पड़ती है। वजन घटाते समय मैंने यह भी महसूस किया कि किसी को वजन घटाते हुए देखकर जितना प्रोत्साहन मिलता है, उतना किसी फिटनेस ट्रेनर की बातें सुनकर भी नहीं मिल पाता। इसलिए मैं इंटरनेट पर इस तरह के प्रेरणादायक लोगों को बारे में पड़ा करती थी जिन्होंने अपने दृढ़ निश्चय से वजन कम किया और मोटापे से मुक्त हो गए। 

(और पढ़ें - पेट कम करने के लिए डाइट चार्ट)

--------------

आशा करते हैं कि आपको निशा के बारे में पढ़ कर प्रेरणा मिली होगी और अब आप अपना वजन घटाने का सफर जरूर शुरू करेंगे।

अगर आपके पास भी अपनी या अपने किसी मित्र या परिवार के सदस्य की कोई ऐसी ही प्रेरणा देने वाली कहानी है तो हमसे जरूर शेयर करें। आप अपनी कहानी हमें [email protected] पर ईमेल कर सकते हैं।

और पढ़ें ...