महिलाएं के सामने कई बार ऐसी स्थिति आ जाती है, जब उनको कोई कार्य अपनी सर्वोत्तम क्षमता में करना होता है। इस समय उन्हें शांत और एकाग्र मन की आवश्यकता होती है, लेकिन पीरियड्स होने से शरीर में होने वाले हार्मोन बदलाव से वह खुद को स्वस्थ महसूस नहीं कर पाती हैं।

पीरियड्स में पेट में दर्द होना और हर समय पीरियड्स होने की टेंशन से उनका मन किसी भी काम में सही तरह से नहीं लग पाता है। इसलिए किसी उपयोगी व विशेष काम के दौरान महिलाएं अक्सर अपने पीरियड्स को आगे बढ़ाने के विकल्पों के बारे में विचार करने लगती है। पीरियड्स को आगे बढ़ाने से वह घर के किसी समारोह या ऑफिस के किसी जरूरी काम में अपना पूरा सहयोग दे पाती हैं। महिलाओं के मन की इसी दुविधा को समझते हुए आपको पीरियड्स को आगे करने के उपाय, दवा और घरेलू नुस्खों के बारे में बताया जा रहा है।

(और पढ़ें - मासिक धर्म में दर्द)

  1. पीरियड आगे करने की दवा - Periods aage karne ki dawa
  2. पीरियड्स आगे बढ़ाने के घरेलू उपाय - Periods aage badhane ke gharelu upay in hindi

पीरियड्स आगे करने के विकल्पों में महिलाओं के द्वारा दवा का सेवन करना बेहतर उपाय माना जाता है। कई तरह की दवाओं के प्रभाव से आप अपने पीरियड्स डेट को करीब 17 दिनों तक आगे बढ़ा सकती हैं। इन दवाओं का इस्तेमाल करके महिलाएं सामान्य दिनों की तरह ही अपने सभी कार्यों को आसानी से कर सकती हैं। पीरिड्स को आगे बढ़ाने की दवा आपको खुद नहीं लेनी चाहिए।

आपको बता दें कि बाजार में पीरियड्स को आगे बढ़ाने वाली कई तरह की दवाएं मौजूद हैं। इसकी अधिकतर दवाएं नोरथिस्टेरॉन (Norethisterone) नामक केमिकल पर आधारित होती हैं। लेकिन ध्यान रहे कि इस तरह की दवाओं को लेने से पहले आपको अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए। इन दवाइयों के साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं जिनके बारे में नीचे बताया गया है।

(और पढ़ें - पीरियड का ज्यादा आना)

पीरियड्स को आगे बढ़ाने की दवा कब लें - Periods ko aage badhane ki dawa kab le

नोरथिस्टेरॉन महिलाओं में बनने वाला हार्मोन प्रोजेस्टीन का ही रूप है। यह गर्भाशय में मासिक धर्म बनने वाली लाइननिंग से छुटकारा दिलाता है। नोरथिस्टेरॉन दवाओं के रूप में भी उपलब्ध होता है। विशेषज्ञों के अनुसार इस दवा का करीब 5 मिलीग्राम दिन में तीन बार में लेना चाहिए। जानकारों के मुताबिक इस दवा को आपको अपने पीरियड्स की निर्धारित तारिख से तीन दिन पहले से लेना शुरू करना चाहिए और आपको जब तक अपने पीरियड्स को आगे बढ़ाना हो, तब तक इस दवा को लेना चाहिए।

लेकिन आपको फिर से बता दें कि बिना डॉक्टर की सलाह के इस दवा को बिलकुल भी न लें।

(और पढ़ें - अनियमित मासिक धर्म के उपाय)

पीरियड आगे बढ़ाने की मेडिसिन कब तक काम करती है - Period aage badhane ki medicine kab tak kaam karti hai

डॉक्टर बताते हैं कि पीरियड्स को आगे बढ़ाने की दवा में मौजूद नोरथिस्टेरॉन अधिकतम 17 दिनों तक आपके पीरियड्स को आगे बढ़ा सकता है। इस समय अवधि तक पीरियड्स को आगे बढ़ाने का यह एक सुरक्षित तरीका माना जाता है। इस दवा का सेवन बंद करने के दो से तीन दिनों के बाद आपको पीरियड्स शुरू हो जाएंगे। हालांकि दवा को बंद करने के बाद पीरियड्स आने का समय हर महिला में अलग हो सकता है। इस तरह की दवा के वितरीत प्रभावों व हार्मोनल असंतुलन की वजह से इसको लंबे समय तक इस्तेमाल करने की सलाह नहीं दी जाती है।

(और पढ़ें - पीरियड्स से जुड़े मिथक और तथ्य)

पीरियड डिले टेबलेट सुरक्षित है क्या - Masik dharm aage karne ki dawa surakshit hai kya

इस तरह की दवा का इस्तेमाल कई महिलाओं के लिए सुरक्षित नहीं होता है। खासकर जिन महिलाओं के परिवार में किसी को पहेल कभी थ्रोम्बोसिस (नस में खून का थक्का जमना) हुआ हो तो उनको इसके विपरीत प्रभाव हो सकते हैं। इस कारण इस दवा को लेने से पहले महिलाओं को अपने डॉक्टर से सलाह ले लेनी चाहिए।

(और पढ़ें - मासिक धर्म में देरी)

पीरियड बढ़ाने का इलाज कैसे शुरू करें - Period badhane ka ilaj kaise shuru kare

इसके लिए आपको नोरथिस्टेरॉन की दवा को दिन में तीन बार लेना शुरू करना होगा। अगर आप किसी दिन दवा लेना भूल जाएं तो आपको आगे के दिनों में इसको नियमित रूप से ही लेनी चाहिए। इस दवा की दो खुराक एक साथ खाने से बचें। इसके अलावा पीरियड्स को आगे बढ़ाने की किसी भी दवा का सेवन करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

(और पढ़ें - पीरियड को रोकने के उपाय)

पीरियड टाइम बढ़ाने की टेबलेट के साइड इफेक्ट - Periods aage karne ki dawa ke side effect

पीरियड्स को आगे करने की दवाएं कम समय अवधि के लिए ली जाती हैं। इस तरह की दवाओं का सेवन करने से सामान्यतः किसी प्रकार का कोई भी विपरीत प्रभाव नहीं होता है। लेकिन कई मामलों में इन दवाओं से महिलाओं को निम्न परशानियाँ होने की संभावनाएं हो सकती हैं -

इन दवाओं के गंभीर साइड इफेक्ट में निम्न शामिल हैं -

(और पढ़ें - मासिक धर्म का बंद हो जाना)

क्या पीरियड्स आगे करने की दवा से प्रेग्नेंट होने से बचा जा सकता है - Mahavari aage badhane ki dawa pregnant hone se bachati hai kya

आपको बता दें कि पीरियड्स को आगे बढ़ाने वाली दवाएं गर्भनिरोधक गोलियों से अलग होती हैं। इनको लेने के बाद भी आप प्रेग्नेंट हो सकती हैं। यदि आप इन्हे लेते समय प्रेग्नेंट नहीं होना चाहती हैं तो आपको इन पीरियड्स को कुछ समय के लिए रोकने या आगे बढ़ाने वाली दवाओं के साथ ही गर्भनिरोधक गोलियों या अन्य किसी प्रेग्नेंसी रोकने के उपाय का भी इस्तेमाल करना होगा।

(और पढ़ें - pregnancy in hindi)

माहवारी आगे बढ़ाने की दवा बंद करने के बाद मासिक धर्म सामान्य न होने पर क्या करें - Dawa band karne ke baad periods samanya na ho to kya kare

पीरियड्स आगे बढ़ाने की दवा को लेना बंद करने के बाद मासिक धर्म सामान्य न हो पाने की स्थिति में आप घबराएं नहीं।

इस दवा को लेना रोकने के बाद आपके शरीर के हार्मोन को सामान्य अवस्था में आने में थोड़ा समय लगता है। सामान्यतः दवा को बंद करने के तीन से चार दिनों के बाद महिलाओं को पीरियड्स आ जाते हैं। लेकिन इसके बाद भी पीरियड्स नहीं आते तो आप प्रेगनेंसी टेस्ट करके इस बात की पुष्टि कर लें कि आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं। यदि आप प्रेग्नेंट न हो तो इस समस्या के चलते डॉकटर से मिलें।

(और पढ़ें - pregnancy ke lakshan)

पीरियड्स को आगे बढ़ाने के लिए न सिर्फ दवाएं उपलब्ध हैं, बल्कि इसको आगे बढ़ाने के घरेलू उपायों की भी लंबी लिस्ट मौजूद है। कई महिलाएं मासिक धर्म को आगे बढ़ाने के लिए दवाओं का सेवन करने से डरती हैं। उनको लगता है कि दवाओं के सेवन से वह किसी अन्य तरह की समस्या से ग्रसित हो सकती हैं। इसीलिए वह महिलाएं पीरियड्स को आगे बढ़ाने के लिए घरेलू उपायों को आजमाना ही बेहतर समझती हैं। आगे जानते हैं पीरियड बढ़ाने के घरेलू उपाय।

पीरियड की डेट बढ़ाने के उपाय के लिए करें एक्सरसाइज - Periods ko aage badhane ke liye excercise

मासिक धर्म को आगे बढ़ाने के उपायों में यह एक महत्वपूर्ण उपाय माना जाता है। अधिक शारीरिक परिश्रम वाली एक्सरसाइज को दिन में करीब आधा घंटा करने से आपको अपने पीरियड्स को आगे बढ़ाने में सहायता मिलती है। लेकिन इस दौरान आपको अपनी क्षमता के अनुसार ही एक्सरसाइज या शारीरिक श्रम करना चाहिए। कई बार क्षमता से ज्यादा एक्सरसाइज करने से मांसपेशियों में दर्द होना शुरू हो जाता है। इसके लिए बेहतर यह होगा कि आप शुरूआत में मांसपेशियों में खिंचाव वाली हल्की एक्सरसाइज करें। जब आपका शरीर हल्की एक्सरसाइज करने के लिए तैयार हो जाए तो धीरे-धीरे आप अपनी एक्सरसाइज को बढ़ा सकती हैं।

शारीरिक बल वाली एक्सरसाइज को करने के बाद आपको अपने आहार में भी बदलाव करना होगा। कठोर परिश्रम वाली एक्सरसाइज के बाद आपको अधिक कैलोरी की आवश्यकता पड़ती है। नियमित एक्सरसाइज करके आप खुद को स्वास्थ रख सकती है। इससे आपका मासिक धर्म चक्र भी नियमित हो जाता है।

(और पढ़ें - पीरियड्स में एक्सरसाइज)

पीरियड आगे बढ़ाने के उपाय हैं भावनात्मक या मानसिक तनाव - Mahavari badh sakte hain aage bhavnatmak ya manshik tanav se

भावनात्मक और मानसिक तनाव के कारण महिलाओं के मासिक धर्म चक्र में असंतुलन होता है। कई बार तनाव के कारण महिलाओं के पीरियड्स आगे बढ़ जाते हैं। इसलिए अगर आप अपनेमाहवारी को आगे बढ़ाना चाहती हैं तो आपको खुद को ऐसे कामों में लगना होगा जिसमें दिमागी श्रम करना पड़े। इसके बाद आप इस काम को पूरा करने पर अपना ध्यान लगाएं। इस उपाय का असर हर महिला में अलग-अलग होता है, इसलिए आपको इसके प्रतिकूल प्रभावों के लिए भी तैयार रहना चाहिए। कई महिलाओं में तनाव के कारण शरीर में हार्मोन के स्तर में असंतुलन होने पर पीरियड्स जल्दी भी हो जाते हैं। कोई अन्य विकल्प मौजूद न होने की स्थिति में आपको इस उपाय को आजमा सकती हैं।

(और पढ़ें - तनाव दूर करने के घरेलू उपाय)

पीरियड आगे करने का उपाय है मसालेदार भोजन से दूरी - Period aage karne ka upay hai masaledar bhojan se doori

कई तरह के अध्ययन इस बात को साबित करते है कि मासलेदार भोजन का सीधा असर महिलाओं के मासिक धर्म चक्र पर पड़ता है। लेकिन इस सिद्धांत पर कोई वैज्ञानिक तथ्य मौजूद नहीं है। इन सब के बावजूद लोगों की प्रतिक्रियाओं के अनुसार कहा जाता है कि अधिक मसालेदार आहार खाने से शरीर में गर्मी के स्तर में वृद्धि होती है, जिससे पीरियड्स जल्दी हो जाते हैं।

इसमें लाल मिर्च, काली मिर्च, लहसुन और अदरक आदि मसालों को शामिल किया जाता है। यदि आप अपने पीरियड्स को आगे बढ़ाना चाहती है तो आपको इन मसालों से दूरी बनानी होगी।

(और पढ़े - मसालेदार खाने से होने वाले दर्द)

माहवारी को आगे करने के उपाय है सिरका - Mahawari ko aage karne ke liye karen sirke ka sevan

जहां आपको कई तरह के मसालों से दूरी बनानी होगी, वहीं कुछ चीजें ऐसी भी होती हैं जिनेक सेवन से माहवारी को आगे करने में सहायता मिलती है। आजकल सभी घर में मौजूद सिरके का सेवन करने से आप अपने मासिक धर्म की निश्चित तारीख को आगे बढ़ा सकती हैं। इसके लिए आपको एक गिलास पानी में तीन से चार चम्मच सिरका मिलाकर, इस मिश्रण को दिन में तीन से चार बार सेवन करना होगा। सिरका आपके मासिक धर्म के लक्षणों को कम कर देता है। इस तरह यदि आप नियमित तौर पर इस उपाय को आजमाती हैं तो अपने पीरियड्स को आसानी से आगे बढ़ा सकती हैं।

(और पढ़ें - सेब के सिरके के फायदे और नुकसान)

मासिक धर्म को आगे बढ़ाने का उपाय है चने की दाल - Masik dharm ko aage badhane ka upay hai chane ki dal in hindi

दालें प्रोटीन का मुख्य स्त्रोत मानी जाती हैं। मासिक धर्म को बढ़ाने के उपाय में आप चने की दाल का सेवन कर सकती हैं। माहवारी को आगे बढ़ाने के लिए किसी प्रकार की दवा का सेवन करने की जगह आप इस दाल का भी सेवन कर सकती हैं। इसके लिए आपको चने की दाल को नरम होने तक फ्राई करना होगा, इसके बाद आप इस दाल को पीस लें। पीसने के पश्चात आप इसमें हल्का सा गर्म पानी मिला लें और इसका सूप तैयार करें। माहवारी शुरु होने से सात दिन पहले इस सूप को नियमित पीना शुरू करें। बेहतर परिणाम पाने के लिए इस सूप को सुबह खाली पेट पीना चाहिए।

(और पढ़ें - चना दाल के फायदे)

पीरियड्स आगे बढ़ाने का घरेलू उपाय है अजवायन की पत्तियां - Periods aage badhane ka upay hain ajwain ki pattiya

अजवाइन की पत्तियों (Parsley leaves) में विटामिन सी, विटामिन बी12, विटामिन के और विटामिन ए आदि कई तरह के पौष्टिक तत्व मौजूद है। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता, रक्तवाहिनी व हड्डियां मजबूत बनती है। शरीर से निकलने वाले अनावश्यक तरल पदार्थ को भी यह कम करने का कार्य करती हैं। कई महिलाओं को अजवायन की पत्तियों के इन फायदों के बारे में मालूम ही नहीं होता है।

इसका उपाय करने के लिए आपको अजवाइन की पत्तियों को करीब आधा लीटर पानी में उबालना होगा। इसके बाद इस पानी को छानकर इसमें शहद मिला लें। जब पानी गुनगुना हो जाए तो इसको धीरे-धीरे पीएं। पीरियड्स को आगे बढ़ाने के लिए दिन में दो से तीन बार इसका सेवन करें।

पीरियड टाइम बढ़ाने के उपाय में है नींबू लाभकारी - Period ko aage badhane me labhkari hai nimboo in hindi

पीरियड को आगे बढ़ाने के लिए नींबू बेहद ही सरल उपाय माना जाता है। नींबू में सिट्रिक एसिड की प्रचुर मात्रा होती है। पीरियड्स को हल्का और बंद करने के लिए आप नींबू का किसी भी रूप से सेवन कर सकती हैं। नींबू पानी पीने से भी आपको सामान लाभ मिलते हैं। नींबू का प्रभाव हर महिला पर अलग-अलग हो सकता है। इससे आपके अगले मासिक धर्म में दर्द की तीव्रता में बढ़ोतरी भी हो सकती है। पीरियड्स को आगे बढ़ाने के लिए नींबू का सेवन करने से पहले आपको मानसिक रूप से तैयार होना बेहद जरूरी है।

(और पढ़ें - Periods in Hindi)

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ