भद्रासन ध्यानात्मक आसन है। इसका रोजाना अभ्यास करने से एकाग्रता को बढ़ाने में मदद मिलती है। भद्रासन करने के लिए वज्रासन का अभ्यास होना बेहद जरूरी है। भद्रासन करने से आंखों की रोशनी भी बढ़ती है।

इस लेख में भद्रासन करने के तरीके व उससे होने वाले लाभों के बारे में बताया गया है। साथ ही लेख में यह भी बतायाा गया है कि भद्रासन के दौरान क्या सावधानी बरतनी चाहिए। 

(और पढ़ें - आंखों में जलन का इलाज)

  1. भद्रासन के फायदे - Bhadrasana (Gracious Pose) ke fayde in Hindi
  2. भद्रासन करने का तरीका - Bhadrasana (Gracious Pose) ka tarika in Hindi
  3. भद्रासन करने में क्या सावधानी बरती जाए - Bhadrasana (Gracious Pose) me kya savdhani barte in Hindi
  4. भद्रासन का वीडियो - Bhadrasana (Gracious Pose) ka Video in HIndi

भद्रासन के लाभ कुछ इस प्रकार हैं –

  1. इस आसन से भूख बढ़ती है। (और पढ़ें - भूख बढ़ाने की दवा)
  2. फेफड़ों के लिए भी यह आसन फायदेमंद होता है।
  3. इससे घुटनों की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। (और पढ़ें - मांसपेशियों के दर्द का उपाय)
  4. इस योग का रोजाना अभ्यास करने से जांघ और घुटने अधिक मजबूत होते हैं। 

भद्रासन करने का तरीका हम यहाँ विस्तार से दे रहे हैं, इसे ध्यानपूर्वक पढ़ें –

  1. वज्रासन में बैठ जाएं। घुटनों को जितना संभव हो, दूर-दूर कर लें।
  2. पैरों की उंगलियों का सम्पर्क जमीन से बना रहे।
  3. अब पंजों को एक-दूसरे से इतना अलग कर लें कि नितम्ब और मूलाधार उनके बीचे जमीन पर टिक सकें।
  4. घुटनों को और अधिक दूर करने का प्रयास करें, लेकिन दूर करते समय अधिक जोर न लगाएं।
  5. हाथों को घुटनों पर रखें, हथेलियां नीचे की ओर रहें।
  6. जब शरीर आराम की स्थिति में आ जाए, तब नासिकाग्र दृष्टि (दृष्टि को नासिका के आगे वाले भाग पर ध्यान लगाना) का अभ्यास करें। जब आंखें थक जाएं, तब उन्हें कुछ देर के लिए बंद कर लें।
  7. आंखों को खोल लें और फिर से इस प्रक्रिया को दोहराएं। 
  8. इस प्रक्रिया को इसी प्रकार दस मिनट तक दोहराएं।

भद्रासन में बरतने वाली सावधानियां कुछ इस प्रकार हैं –

  1. गर्भवती महिलायें इस आसन को किसी ट्रेनर की मदद से करें।
  2. घुटने दर्द होने पर इस आसन को न करें।
  3. अगर इस आसन को करते समय कमर दर्द होती है तो इस आसन को न करें।
  4. पेट की समस्या में भी इस आसन को नहीं करना चाहिए।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें