अगर कोई महिला गर्भधारण का प्रयास कर रही हो और उसके पीरियड्स मिस होते हैं, तो इसे प्रेगनेंसी का सबसे पहला लक्षण माना जा सकता है. ऐसे में होम प्रेगनेंसी किट के जरिए इसका पता लगाया जा सकता है. इसके लिए किट में सुबह के पहले यूरिन की कुछ बूंदें डालकर पता किया जाता है कि महिला गर्भवती है या नहीं.

आज इस लेख में हम प्रेगनेंसी टेस्ट किट में उभरने वाली लाइनों के बारे में विस्तार से जानने का प्रयास करेंगे -

प्रेगनेंसी से जुड़ी कोई समस्या है, तो उसका समाधान है आयुर्वेदिक फर्टिलिटी बूस्टर. देर न करें जल्दी खरीदें.

  1. प्रेगनेंसी टेस्ट किट के परिणाम
  2. सारांश
प्रेगनेंसी टेस्ट किट की लाइनों का मतलब क्या है? के डॉक्टर

प्रेगनेंसी होने पर यूरिन में ह्यूमन कोरियोनिक गोनाडोट्रोपिन (एचसीजी) हार्मोन पाया जाता है.

यहां दिए लिंक पर क्लिक करें और जानिए महिला बांझपन का इलाज.

इसलिए, जब कोई महिला प्रेगनेंसी होम किट से प्रेगनेंसी टेस्ट करती है, तो किट पर कुछ लाइन उभरकर आती हैं. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि महिला गर्भवती है या नहीं. इन लाइनों के मतलब को हम यहां क्रमवार तरीके से समझने का प्रयास करेंगे -

गर्भावस्था की पुष्टि

जब रिजल्ट में एक हल्की पॉजिटिव लाइन दिखे, तो यह प्रेग्नेंट होने की संभावना को दर्शाती है. दरअसल, कुछ होम प्रेगनेंसी टेस्ट इतने अधिक सेंसेटिव होते हैं कि पीरियड मिस होने से पहले ही प्रेगनेंसी हार्मोन का पता लगाने में सक्षम होते हैं. ऐसे में प्रेग्नेंट होने पर प्रेगनेंसी टेस्ट किट में पॉजिटिव लाइन स्पष्ट रूप से दिखाई दे सकती है.

वहीं, कुछ मामलों में पॉजिटिव लाइन फीकी यानी हल्की दिखाई देती है. इनका कारण शरीर में प्रेगनेंसी हार्मोन के स्तर कम होना होता है.

किसी भी महिला के प्रेग्नेंट होते ही शरीर में एचसीजी का उत्पादन शुरू हो जाता है. प्रेगनेंसी की अवस्था जैसे-जैसे बढ़ती है, वैसे-वैसे शरीर में प्रेगनेंसी हार्मोन का स्तर भी बढ़ता है. शरीर में इसी हार्मोन का पता लगाने के लिए प्रेगनेंसी टेस्ट किया जाता है.

इससे स्पष्ट होता है कि शरीर में जितना अधिक एचसीजी होता है, उतना ही सटीक प्रेगनेंसी रिजल्ट आता है यानी होम प्रेगनेंसी किट में पॉजिटिव लाइन उतनी ही जल्दी और गहरी देखी जा सकती है.

(और पढ़ें - घर में नींबू से प्रेगनेंसी टेस्ट)

Women health supplements
₹719  ₹799  10% छूट
खरीदें

गर्भावस्था न होने की पुष्टि

प्रेगनेंसी टेस्ट किट में एक हल्की पॉजिटिव लाइन नजर आना हमेशा प्रेगनेंसी की ओर इशारा नहीं करता है. कुछ मामलों में एक पॉजिटिव हल्की रेखा के साथ-साथ हल्की गुलाबी लाइन भी नजर आ सकती है. ये लाइन स्टिक से यूरिन के वाष्पित होने के कारण नजर आ सकती है. ऐसे में यह कहना मुश्किल हो जाता है कि महिला गर्भवती है या नहीं.

प्रजनन क्षमता को बेहतर बनाने के लिए आज ही नहीं बल्कि अभी खरीदें अशोकारिष्ठ.

प्रेगनेंसी किट से प्रेगनेंसी टेस्ट करने पर अगर पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की आए, तो यह प्रेग्नेंट होने की ओर इशारा करता है. इसके साथ ही ये रिजल्ट बताता है कि महिला को प्रेग्नेंट हुए अधिक समय नहीं हुआ है. बस ध्यान रखें कि होम प्रेगनेंसी टेस्ट पर पूरी तरह विश्वास करना गलत है. सही और सटीक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करके टेस्ट जरूर करवाएं.

अगर पीसीओएस के चलते गर्भधारण करना मुश्किल हो रहा है, तो ब्लू लिंक पर क्लिक करें और पीसीओडी का इलाज समझें.

Dr. Pratik Shikare

Dr. Pratik Shikare

प्रसूति एवं स्त्री रोग
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Payal Bajaj

Dr. Payal Bajaj

प्रसूति एवं स्त्री रोग
20 वर्षों का अनुभव

Dr Amita

Dr Amita

प्रसूति एवं स्त्री रोग
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Sheetal Chandorkar

Dr. Sheetal Chandorkar

प्रसूति एवं स्त्री रोग
6 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें