जानें पीरियड्स में स्विमिंग करना सही है या नहीं?

by Editorial Team


Posted on August 24, 2017 कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!


जानें पीरियड्स में स्विमिंग करना सही है या नहीं?

महिलाओं को माहवारी के समय होने वाली समस्याओं से तो हर कोई वाकिफ है ही। लेकिन उनके मन में इससे जुड़े अनेकों सवाल उमड़ते रहते हैं और सही जवाब न मिलने के कारण वो आज भी सवाल ही बने हुए हैं, जैसे पीरियड्स के समय स्विमिंग को लेकर उन्हें बड़ी दुविधा रहती है। अगर आपको पिकनिक में वाटर पार्क जाना है और आप माहवारी के कारण अपना मन मारने की सोच रही हैं तो एक बार ये लेख ज़रूर पढ़ें और जानें मासिक धर्म के समय तैराकी करने से जुड़े ऐसे ही कुछ सवालों के जवाब जो आपकी दुविधा दूर करने में आपकी मदद करेंगे। (और पढ़ें - पीरियड (मासिक धर्म) से जुड़े मिथक और तथ्य)

क्या पीरियड्स में तैराकी करना अस्वास्थ्यकर (Unhygienic) होता है?

अगर आप माहवारी के समय टेम्पॉन या मेंस्ट्रुअल कप का उपयोग कर रही हैं तो स्विमिंग करना बिलकुल भी अस्वास्थ्यकर नहीं है क्योंकि इनके उपयोग से आपके पीरियड ब्लड के बाहर निकलने की सम्भावना खत्म हो जाती है। स्विमिंग पूल के पानी में क्लोरीन (Chlorine) घुला रहता है जो किसी भी प्रकार की बीमारी होने से बचाने में मदद करता है। सीधे शब्दों में आप मासिक धर्म के समय स्विमिंग कर सकती हैं। (और पढ़ें - स्विमिंग (तैराकी) के फायदे)

क्या पीरियड ब्लड का स्रावण पानी में हो सकता है?

पानी का दबाव (Water pressure) तैराकी करते समय रक्त प्रवाह को कम कर देता है लेकिन बलपूर्वक कार्य करने जैसे तेज़ी से हसने, खांसने या छींकने से खून निकल सकता है लेकिन अगर आप स्विमिंग के दौरान मेंस्ट्रुअल कप या टेम्पॉन उपयोग कर रही हैं तो परेशान होने वाली कोई बात नहीं है। इसीलिए तैराकी के समय मेंस्ट्रुअल कप या टेम्पॉन ही उपयोग करना चाहिए क्योंकि पैड्स पानी को सोखते हैं जो स्विमिंग के समय पीरियड ब्लड को रोकने में असर नहीं करेंगे।

क्या माहवारी के दौरान स्विमिंग करने से संक्रमण हो सकता है?

पीरियड्स के समय योनि या पेट सम्बन्धी संक्रमण होने की सम्भावना बढ़ जाती है। यह संक्रमण दूषित पानी के संपर्क में आने के कारण होता है। आप जहां भी तैराकी करने जा रही हों, स्विमिंग करने से पहले वहां के स्वास्थ्य प्राधिकरण (Health authority) से वहां के पानी की गुणवत्ता के बारे में जानकारी ले लीजिये। स्विमिंग करने के बाद क्लोरीन के असर को ख़त्म करने के लिए एक बार साफ़ पानी (बिना क्लोरीन के पानी) से नहा लीजिये और ध्यानपूर्वक स्विमिंग के बाद स्विमिंग सूट को तुरंत बदल लें अन्यथा यह संक्रमण का कारण बन सकता है। अगर फिर भी आपको तैराकी के बाद खुजली, जलन या किसी भी प्रकार के योनिस्रावण का अनुभव हो रहा है तो डॉक्टर से संपर्क करें। (और पढ़ें - योनि में इन्फेक्शन और खुजली के घरेलू उपाय)

क्या मासिक धर्म में तैराकी करने से अधिक दर्द होता है?

वास्तव में तैराकी और अन्य तीव्रता वाले व्यायाम मासिक धर्म में होने वाली ऐंठन को दूर करने में मदद करते हैं। व्यायाम के दौरान आपके मस्तिष्क से एंडोर्फिन (Endorphins) नामक रसायन रिलीज होता है जो प्राकृतिक रूप से दर्द निवारक की तरह कार्य करता है। ( और पढ़ें - मासिक धर्म के समय पेट दर्द से पाएं निजात इन आसान तरीकों से)

अगर बिकिनी पर पीरियड ब्लड आ जाये तो क्या करें?

माहवारी एक प्राकृतिक प्रक्रिया है। अगर आपको दाग लगने का डर सता रहा है तो आप स्विमिंग के लिए गहरे रंग का स्विमसूट चुन सकती हैं। आपके दोस्त या सम्बन्धी, जो भी स्विमिंग के समय आपके साथ हों उनसे कह दीजिये कि ऐसा कुछ होने पर वो आपको बता दें जिससे आप बाथरूम में जाकर तुरंत कपड़े बदल सकती हैं। ये सब तरीके अपनाकर आप पीरियड्स में भी स्विमिंग का मज़ा ले सकती हैं। (और पढ़ें - पीरियड्स के समय भी कर सकते हैं आप ये पाँच एक्सरसाइज)

लक्षणों से करें बीमारी की पहचान

symptom checker in hindi

संबंधित लेख

हमारे यूट्यूब चैनेल से जुड़ें

Subscribe to Youtube Channel
अपना प्रश्न पूछें →