myUpchar प्लस+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

स्विमिंग को परफेक्ट एक्सरसाइज कहा जाता है। आप स्विमिंग के द्वारा जोड़ों पर बिना किसी हानिकारक प्रभाव के एरोबिक एक्सरसाइज के सभी लाभ प्राप्त कर सकते हैं। स्विंमिंग बूढ़े और युवा दोनों के द्वारा की जा सकती है। यह एथलीटों द्वारा मजबूत रहने, चोट से ठीक होने और फिट रहने के लिए उपयोग की जाती है। और अन्य एक्सरसाइज की तुलना में स्विमिंग करने के लिए आपको किसी फैंसी उपकरण की जरूरत भी नहीं होती है। तो आइये जानते हैं स्विमिंग से (तैराकी) होने वाले लाभों के बारे में -

  1. स्विमिंग के फायदे मसल्स बनाने के लिए - Swimming Builds up Muscle in Hindi
  2. स्विमिंग के लाभ बनाएँ हड्डियों को मजबूत - Swimming Good for Bones in Hindi
  3. पानी में तैरना बढ़ाएँ शरीर का लचीलापन - Swimming Benefits for Flexibility in Hindi
  4. स्विमिंग बेनिफिट्स हार्ट डिजीज में उपयोगी - Swimming for Cardiovascular Health in Hindi
  5. तैराकी के फायदे वजन कम करने के लिए - Swimming for Weight Loss in Hindi
  6. तैराकी के लाभ करें अस्थमा के लक्षणों को कम - Swimming Good for Asthma in Hindi
  7. तैरने के फायदे दिलाएँ डिप्रेशन से राहत - Benefits of Swimming for Depression in Hindi
  8. तैरने के लाभ त्वचा की नमी बनाएँ रखने लिए - Swimming for Skin in Hindi
  9. तैराकी करने के फायदे बनाएँ आपको स्मार्ट - Swimming Makes You Smarter in Hindi
  10. लंबे जीवन के लिए करें तैराकी - Swimming for Long Life in Hindi

तैराक (स्वीम्मर) पूरे शरीर के द्वारा मांसपेशियों की ताकत का लाभ उठाते हैं। तैरने के समय जमीन पर व्‍यायाम की तुलना में 12 गुना अधिक मेहनत करनी पड़ती है। स्‍वीमिंग से आपकी मांसपेशियां बढ़ती और मजबूत होती हैं। स्विमिंग से आपके शरीर के सभी जोड़ मजबूत होते हैं। तैराकी के लिए जब आपके पूरे शरीर की ताकत लगती है तो यह एक अच्‍छा वर्कआउट माना जाता है। आपके शारीरिक वर्कआउट के लिए स्विमिंग सर्वश्रेष्ठ एरोबिक एक्सरसाइज में से एक है। 

(और पढ़ें - मसल्स (बॉडी) बनाने के लिए क्या खाना चाहिए)

वर्षों से, शोधकर्ताओं के अनुसार तैराकी हड्डियों के द्रव्यमान को प्रभावित करती है। आखिरकार, केवल भारोत्तोलन अभ्यास इस लाभ को हासिल करने में सक्षम था, है ना? अनुप्रयुक्त फिजियोलॉजी के जर्नल में प्रकाशित अनुसंधान के अनुसार अध्ययन ने चूहों को तीन समूहों में रखा: रनिंग, तैराकी और एक कंट्रोल समूह जिसमें कोई व्यायाम उत्तेजना नहीं है। जबकि रनिंग में अभी भी बीएमडी (बोन मिनरल डेन्सिटी) में सबसे ज्यादा वृद्धि दिखाई देती है, तैराकी समूह ने बीएमडी और फेमोरल बोन के वजन दोनों के लिए लाभ दिखाया। 

(और पढ़ें - नाशपाती का उपयोग करें हड्डियों के लिए)

स्विमिंग के लिए आपको पानी के माध्यम से अपने रस्ते तक पहुंचने के लिए खिंचाव, ट्विस्ट और पुल्ल की आवश्यकता होती है। आपके टखने (Ankles) पंख बन जाते हैं और प्रत्येक किक के साथ आप तरल दबाव के खिलाफ धक्का देते हैं। विभिन्न स्ट्रोक में दोहराए जाने वाली स्ट्रेचिंग भी लचीलेपन के साथ मदद करती है। 

(और पढ़ें - एक गहरी नींद के लिए सोने से पहले अपनी बॉडी को इस तरह करें स्ट्रेच)

हृदय की मांसपेशियों को मजबूत करने के तैराकी के हृदय लाभ आम ज्ञान हैं, शोध के अनुसार तैराकी जैसी एरोबिक गतिविधियां सूजन को कम करती है जिससे दिल में एथेरोस्लेरोसिस का निर्माण होता है। सिस्टम-वाइड सूजन को कम करने से कई अन्य क्षेत्रों में बीमारी की प्रगति कम हो जाती है, इसलिए उम्मीद है कि अनुसंधान के आगे बढ़ने के रूप में अधिक लाभ प्राप्त होंगे। प्रतिदिन आधे घंटे के लिए स्‍वीमिंग करने से महिलाओं को हार्ट डिजीज होने का खतरा 30 से 40% तक कम हो जाता है।

(और पढ़ें – स्विमिंग के फायदे हैं कार्डियोवास्कुलर हेल्थ के लिए)

हर कोई जानता है कि तैराकी कैलोरी को जलाने का एक शानदार तरीका है, लेकिन ज्यादातर यह नहीं जानते हैं कि यह ट्रेडमिल पर चलने के समान ही कुशल होती है। आपके द्वारा चुने हुए स्ट्रोक पर निर्भर करता है और आपकी तीव्रता, तैराकी चलने की तुलना में समान या अधिक कैलोरी जला सकती है। इसके अतिरिक्त, आपको अपनी आंखों में पसीने के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं है। हर रोज 30 मिनट तैरने से शरीर से लगभग 440 कैलोरी कम हो जाती है। 

(और पढ़ें - मोटापा घटाने के लिए व्यायाम और वजन कम करने के लिए योग)

कसरत करने की कोशिश करने और सांस लेने में असमर्थ होने से ज्यादा कुछ भी निराशाजनक नहीं होता है। तैराकी न केवल अस्थमा के लक्षणों को कम करने में मदद करती है बल्कि अध्ययनों से पता चला है कि यह फेफड़ों की समग्र स्थिति में भी सुधार कर सकती है। हाल के एक अध्ययन में, बच्चों के एक समूह ने छह सप्ताह के तैराकी कार्यक्रम को पूरा किया और उनमें तीव्रता, खर्राटे, मुँह-श्वास और अस्पताल में भर्ती और ईआर के दौरे के लक्षणों में सुधार देखा गया। तैराकी कार्यक्रम समाप्त होने के एक साल बाद भी इन लाभों का उल्लेख किया गया था। जिन लोगों को अस्थमा नहीं है, तैराकी उनके समग्र फेफड़ों की मात्रा को बढ़ाता है और अच्छी सांस लेने की तकनीक को सिखाता है।

तनाव होने पर आप किसी भी कार्य को बेहतर तरीके से नहीं कर पाते हैं। तैरने से तनाव में राहत मिलती है और आपका दिमाग बेहतर तरीके से काम करता है। यह तनाव और अवसाद को स्वाभाविक रूप से कम करती है। अनुसंधान यह भी दिखाता है कि तैरना हिप्पोकैम्पल न्यूरोजेनेसिस नामक प्रक्रिया के माध्यम से मस्तिष्क के तनाव को रोक सकता है। इसलिए, अगर आप महसूस करते हैं कि आप भावनात्मक रूप से डूब रहे हैं, तो आपको स्विमिंग शुरू कर देनी चाहिए। इससे आपके पूरे शरीर की एक्‍सरसाइज हो जाती है, इसलिए स्‍वीमिंग कई मामालों में जिम से भी बेहतर है। 

(और पढ़ें – डिप्रेशन का घरेलू इलाज)

अगर आप पूल तैराकी से समुद्र में पानी के साथ वर्कआउट करने के लिए स्विच करते हैं तो आप समय के साथ त्वचा में एक विशाल सुधार देख सकते हैं। नमक वाले पानी में नियमित रूप से तैरने से त्वचा की नमी बनाए रखने में मदद मिलती है और नए सेल के विकास के लिए डिटॉक्सिफाइ को बढ़ावा मिलता है।

(और पढ़ें - प्रदूषण से त्वचा को सुरक्षित रखने के लिए अपनाएं ये आसान तरीके)

बेशक सभी अभ्यास दिमाग के लिए बहुत अच्छी होती है, लेकिन क्या तैराकी वास्तव में आपको स्मार्ट बना सकती है? ऑस्ट्रेलिया से अनुसंधान उन बच्चों पर केंद्रित है जिन्होंने गैर तैराकों के एक नियंत्रण समूह की तुलना में तैराकी को सीखा था। परिणाम बताते हैं कि तैराकी में नियमित रूप से भाग लेने वाले बच्चे नियंत्रण समूह की तुलना में भाषा विकास, फाइन मोटर स्किल्स, आत्मविश्वास और शारीरिक विकास में सक्षम थे। 

(और पढ़ें - दिमाग तेज़ कैसे करें)

हालांकि सभी व्यायाम अधिक से अधिक स्वास्थ्य और दीर्घायु का उत्पादन कर सकते हैं, इसलिए स्विमिंग उनमें से सबसे अच्छा विकल्प मानी जाती है। यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ कैरोलिना के शोधकर्ताओं ने 32 से अधिक वर्षों के लिए 20 से 90 वर्ष की उम्र के 40,547 पुरुषों को देखा। परिणाम बताते हैं कि जो लोग स्विमिंग करते थे उनकी दूसरों की तुलना में मौत की दर 50 प्रतिशत कम थी जिन्होंने व्यायाम नहीं किया था।


स्विमिंग के फ़ायदे सम्बंधित चित्र

और पढ़ें ...