myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

स्किज़ोफ्रेनिया (मनोविदलता) से जुड़े सवाल और जवाब

सवाल 2 महीना पहले

मेरी उम्र 39 साल है और मेरी अभी तक शादी भी नहीं हुई है। मुझे सिजोफ्रेनिया है, जिसकी वजह से मुझे ईर्ष्या, गुस्सा और चिंता जैसी समस्या होती रहती हैं और मैं बाहर जाने से भी काफी डरता हूं। क्या सिजोफ्रेनिया की वजह से किसी व्यक्ति की मृत्यु भी हो सकती है?

Dr. Kumawat Vijay Kumar MBBS

सिजोफ्रेनिया घातक रोग नहीं है, लेकिन इसका इलाज काफी मुश्किल है और इसके लक्षणों की गंभीरता ज्यादा और अलग-अलग हो सकती है। सिजोफ्रेनिया के कारण किसी व्यक्ति की मौत नहीं हो सकती है, लेकिन इसके कारण इससे ग्रस्त व्यक्ति में हृदय से जुड़ी समस्या, डायबिटीज और श्वसन संबंधी बीमारी होने के जोखिम अधिक होते हैं।

सवाल लगभग 2 महीना पहले

मेरा भाई अजीब हरकतें करने लगा है। वह छोटी-छोटी चीजों को लेकर गुस्सा हो जाता है, घर से बाहर नहीं जाता और न ही हमसे ज्यादा बात करता है। वह बैचेन रहता है और हमसे डर भी जाता है। क्या उसे सिजोफ्रेनिया हो सकता है? अगर हां, तो हम सिजोफ्रेनिया की जांच कैसे की जा सकती है। इसका पता लगाने के लिए कौन-सा टेस्ट करवाना चाहिए?

Dr. Vinod Verma MBBS

सिजोफ्रेनिया की जांच के लिए कोई भी टेस्ट उपलब्ध नहीं है। इस समस्या की वजह से मरीज में कई तरह के लक्षण शारीरिक और मानसिक रूप में दिखाई दे सकते हैं, जिसकी जांच के लिए डॉक्टर उनका एमआरआई या सीटी या ब्लड टेस्ट करवाने की सलाह दे सकते हैं। सिजोफ्रेनिया का पता व्यक्ति के व्यवहार से चलता है। व्यक्ति में ईर्ष्या, चिंता, तनाव, डर और गुस्सा आना जैसे लक्षण दिखाई देने लगते हैं। इस स्थिति में आप मरीज को मनोचिकित्सक के पास ले जाएं और उसकी काउंसलिंग करवाएं एवं नियमित रूप से उनसे सलाह लेते रहें।

सवाल लगभग 2 महीना पहले

मैंने सिजोफ्रेनिया के बारे में पढ़ा है। यह मेरे दोस्त को भी हो गया है, वह किसी से बात नहीं करता और न ही मिलता है। जब हम उसके घर पर मिलने जाते हैं, तो वह घबराया हुआ रहता है और हम पर गुस्सा भी करता है। मैं जानना चाहती हूं कि हम उसकी मदद कैसे कर सकते हैं?

Dr. Bharat MBBS

सिजोफ्रेनिया से ग्रस्त व्यक्ति की कार्य क्षमता, मानसिक स्थिति और उनका व्यवहार सामान्य व्यक्ति से थोड़ा अलग होता है। इसलिए उनके साथ प्यार से पेश आने की जरूरत होती है। आप नेट या किसी दूसरे माध्यम से सिजोफ्रेनिया के बारे में पढ़ें। उनसे बातचीत करें और हमदर्दी से पेश आएं। उनकी बातों को सुनें और समझने की कोशिश करें, उनसे बहस न करें और अपना भी ध्यान रखें, क्योंकि ये व्यक्ति अचानक से आक्रामक हो सकते हैं। उनके साहस और उत्साह को बढ़ाने के लिए उन्हें प्यार दिखाएं और प्रोत्साहित करें। इन तरीकों से वह जल्दी अच्छे और बेहतर हो सकते हैं।

सवाल लगभग 1 महीना पहले

मेरे भाई को सिजोफ्रेनिया हो गया है। मैं उसे लेकर बहुत परेशान हूं। क्या वह हमेशा एक असामान्य जिंदगी जिएगा? मैं चाहता हूं कि वह ठीक हो जाए, क्या सिजोफ्रेनिया से ग्रस्त व्यक्ति एक बेहतर जीवन जी सकता है?

Dr. Saurabh Shakya MBBS

सिजोफ्रेनिया से ग्रस्त व्यक्ति भी एक स्वस्थ और बेहतर जीवन जी सकता है। सिजोफ्रेनिया को स्थायी रूप से ठीक नहीं किया जा सकता, इसलिए इसके लिए नियमित रूप से उपचार लेते रहना पड़ता है। अगर सिजोफ्रेनिया से ग्रस्त व्यक्ति का इलाज लंबे समय से चल रहा है और यह कंट्रोल में है, तो इससे ग्रस्त अधिकतर लोग सामान्य जीवन जी सकते हैं। आप अपने भाई को मनोचिकित्सक के पास ले जाएं।

कोरोना मामले - भारतx

कोरोना मामले - भारत

CoronaVirus
2069 भारत
86आंध्र प्रदेश
10अंडमान निकोबार
5असम
24बिहार
16चंडीगढ़
9छत्तीसगढ़
219दिल्ली
5गोवा
87गुजरात
43हरियाणा
3हिमाचल प्रदेश
62जम्मू-कश्मीर
1झारखंड
110कर्नाटक
265केरल
13लद्दाख
99मध्य प्रदेश
335महाराष्ट्र
1मणिपुर
1मिजोरम
4ओडिशा
3पुडुचेरी
46पंजाब
108राजस्थान
234तमिलनाडु
107तेलंगाना
7उत्तराखंड
113उत्तर प्रदेश
53पश्चिम बंगाल

मैप देखें