Kesh King Scalp and Hair Medicine Oil

उत्पादक: kesh king

999 लोगों ने इसको हाल ही में खरीदा

Kesh King Scalp and Hair Medicine Oil

उत्पादक: kesh king

999 लोगों ने इसको हाल ही में खरीदा

₹313.5 ₹330.0
5% छूट

दवा उपलब्ध नहीं है

999 लोगों ने इसको हाल ही में खरीदा

cashback
cashback
क्या आप इस प्रोडक्ट के विक्रेता हैं? हमारे साथ जुड़े

Kesh King Ayurvedic Hair Oil की जानकारी

Kesh राजा आयुर्वेदिक तेल किसी भी पक्ष प्रभाव के बिना 100% आयुर्वेदिक पेटेंट दवा है। आयुर्वेदिक Kesh राजा का तेल 16 शुद्ध kwath जड़ी बूटी एक टॉनिक की तरह काम करता है और मैट्रिक्स कोशिकाओं जो हमारी कमजोर आंतरिक जड़ों के अंदर हैं करने के लिए पोषण देता है और उन्हें सक्रिय रखने में मदद मिलती है। ये सक्रिय मैट्रिक्स कोशिकाओं कमजोर बाल फाइबर बाहर ले और नए बाल फाइबर, जिसके द्वारा हमारे बाल मजबूत, अब और घना हो जाता है को सक्रिय करने में मदद करता है। यह विशुद्ध रूप से सुरक्षित और हानिरहित आयुर्वेदिक सिद्धांत पर आधारित है और विशेष रूप से बालों की जड़ों और खोपड़ी की गहरी पोषण के लिए उपयोग करते हैं, बालों के झड़ने की जाँच करता है, बालों का समय से पहले बंद हो जाता है, रूसी, सफेदी, बाल, अनिद्रा और सिरदर्द के regrowth से रोकता है। आवश्यक निर्देश व चेतावनी: »गीले बालों पर कंघी सख्ती या तौलिया का प्रयोग न करें। »चिलचिलाती धूप के लिए बालों का एक्सपोजर हानिकारक है। »बाल और धूल वातावरण के प्रयोग से बचें। »रसायन आधारित शैंपू का प्रयोग न करें। »हमेशा आसान प्रवाह कंघी का उपयोग करें। »आदेश में बालों में वांछनीय नमी बनाए रखने के लिए। थोड़ा सा तेल दैनिक दिन के समय के दौरान लागू किया जा सकता है। Dosages और उपयोग कैसे करें: रात में सोने से पहले एक छोटा सा खुला मुँह कंटेनर में तेल डाल दिया। तेल की मात्रा लंबाई और अपने बालों का घनत्व के अनुपात में होना चाहिए ताकि अपना पूरा बालों पर लागू किया जाना है। अपनी उंगलियों की नोक पर तेल लागू करें और अपने बालों की जड़ों को में घुसना करने के लिए इसे सक्रिय करने के लिए अपने बालों के आधार पर धीरे रगड़ें। अपनी हथेलियों पर लागू करते हैं और इसे सख्ती से रगड़ के रूप में यह कमजोर बाल उखाड़ कर सकता है। धीरे आवेदन और बालों की मालिश ही बेहतर परिणाम होगा। तेल धीरे-धीरे अपने बालों की जड़ों में रिसना और पूरी रात के लिए उन्हें पोषण करते हैं। तेल एक हल्के शैम्पू जो रसायन शामिल नहीं करता है के साथ बालों की धुलाई के साथ सुबह में हटाया जा सकता है। आदेश में दो महीने के लिए Kesh राजा तेल का सबसे अच्छा परिणाम नियमित रूप से उपयोग प्राप्त करने के लिए वांछनीय है।
  1. Kesh King Ayurvedic Hair Oil के लाभ और उपयोग करने का तरीका - Kesh King Ayurvedic Hair Oil Benefits & Uses in Hindi
  2. Kesh King Ayurvedic Hair Oil से सम्बंधित चेतावनी - Kesh King Ayurvedic Hair Oil Related Warnings in Hindi
  3. Kesh King Ayurvedic Hair Oil के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न - Frequently asked Questions about Kesh King Ayurvedic Hair Oil in Hindi

Kesh King Ayurvedic Hair Oil के लाभ और उपयोग करने का तरीका - Kesh King Ayurvedic Hair Oil Benefits & Uses in Hindi

Kesh King Ayurvedic Hair Oil इन बिमारियों के इलाज में काम आती है -

  1. बालों का झड़ना मुख्य
  2. सिर में खुजली

Kesh King Ayurvedic Hair Oil की सामग्री - Kesh King Ayurvedic Hair Oil Active Ingredients in Hindi

Kesh King Ayurvedic Hair Oil के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न - Frequently asked Questions about Kesh King Ayurvedic Hair Oil in Hindi

  1. अपनी हालत में सुधार लाने के लिए मुझे Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) का उपयोग कितने समय तक करना चाहिए?
    ऐसा देखने में आया है कि आम तौर से दो हफ्ते में सुधार दिखना शुरू हो जाता है। किंतु हर किसी की स्थिति में फरक होता है इसलिए Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) के इस्तेमाल से पहले अपने डॉक्टर से सलाह ज़रूर लें।

  2. Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) को दिन में कितनी बार लेने की आवश्यकता है?
    हमारे अधिकांश उपयोगकर्ताओं के अनुसार Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) का उपयोग दिन में दो बार करना सही। किंतु डॉक्टर से परामर्श के बाद ही Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) की सही मात्रा अपनी स्थिति के अनुसार ही तैय करें।

  3. Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) को खाली पेट लेना चाहिए या भोजन से पहले या भोजन के बाद?
    आम तौर से Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) भोजन के बाद ही ली जाती है। हर व्यक्ति की ज़रूरत फरक होती है, तो अपने डॉक्टर से पनी स्थिति के बारे में परमर्शक करें Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) लेने से पहले।

  4. क्या यह दवा आदत या लत बन सकती है?
    ज़्यादातर दवाइयाँ आदत या लत नहीं बनती। जिन दवाइयों की लत पड़ने का ख़तरा होता है, उन्हे भारत सरकार ने नियंत्रित पदार्थों की अनुसूची H या X में शामिल कर दिया है। डॉक्टर से परामर्श करे बिना कोई डॉवा ना लें।

  5. क्या Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) को लेना एकदम से रोका जा सकता है या इसे धीरे धीरे लेना रोकना चाहिए?
    ऐसी कई दवाइयाँ हैं जिन्हे एकदम लेना रोक दें तो दिक्कत पैदा हो सकती है। Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) शुरू या बंद करने से पहले डॉक्टर से सलाह ज़रूर करें।

  6. क्या Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?
    अपने डॉक्टर से इसके बारे में सलाह करें।

  7. क्या Kesh राजा आयुर्वेदिक हेयर ऑयल (100 मिलीलीटर) का उपयोग स्तनपान की अवधि के दौरान सुरक्षित है?
    अपने डॉक्टर से इसके बारे में सलाह करें।

इस जानकारी के लेखक है -
Dr. Braj Bhushan Ojha
BAMS, गैस्ट्रोएंटरोलॉजी, डर्माटोलॉजी, मनोचिकित्सा, आयुर्वेदा, सेक्सोलोजी, मधुमेह चिकित्सक
10 वर्षों का अनुभव

Kesh King Ayurvedic Hair Oil का पैक साइज, कीमत - Kesh King Ayurvedic Hair Oil Price and Pack Size in Hindi

Kesh King Scalp and Hair Medicine Oil

दवा उपलब्ध नहीं है

संदर्भ

  1. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. Volume- I. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1999: Page No 49-52
  2. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume 1. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1986: Page No 83-84
  3. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume 1. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1986: Page No 5-8
  4. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. Volume- II. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1999: Page No 25-27
  5. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume- II. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1999: Page No 21-24
  6. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume 1. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1986: Page No 62-63
  7. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume 1. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1986: Page No 67-68
  8. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume 1. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1986: Page No - 112 - 113
  9. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume 2. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1999: Page No - 114 - 115
  10. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume 2. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1999: Page No - 125 - 126
  11. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume 1. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1986: Page No - 168 - 169
  12. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume 2. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1999: Page No - 131 - 135
  13. Ministry of Health and Family Welfare. Department of Ayush: Government of India. [link]. Volume 2. Ghaziabad, India: Pharmacopoeia Commission for Indian Medicine & Homoeopathy; 1999: Page No 170 - 176
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ