myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

कोरोना वायरस 'सीओवीआईडी-19' अब भारत में भी तेजी से लोगों को अपना शिकार बना रहा है। मंगलवार तक जहां वायरस से संक्रमित लोगों का आंकड़ा केवल सात था, वहीं बुधवार की दोपहर होते-होते यह संख्या बढ़कर 28 हो गई। ताजा मीडिया अपडेट्स के मुताबिक, केंद्र सरकार ने 21 नए मामलों की पुष्टि की है। स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने एक प्रेसवार्ता में बताया कि इन मरीजों में इटली से आए 16 यात्री शामिल हैं। इनके अलावा जयपुर, आगरा, दिल्ली और हैदराबाद में नौ लोग कोरोना वायरस से पीड़ित पाए गए हैं। बाकी के मरीजों में केरल के वे तीन नागरिक शामिल हैं, जो अब पूरी तरह ठीक हैं।

प्रेसवार्ता में केंद्रीय मंत्री ने कोरोना वायरस के संक्रमित लोगों से जुड़े आंकड़े जारी किए। इनसे पता चलता है कि सीओवीआईडी-19 से जुड़े सबसे ज्यादा मामले आगरा से हैं। यहां छह लोगों में वायरस की पहचान हुई है। वहीं, दिल्ली और तेलंगाना में एक-एक संक्रमित व्यक्ति की पुष्टि हुई है। इसके अलावा तीन मामले केरल से जुड़े थे। हालांकि इन तीनों को पूरी तरह ठीक डिस्चार्ज कर दिया गया है।

(और पढ़ें- क्या भारत में कोरोना वायरस के लेकर शोधकर्ताओं की भविष्यवाणी हो रही सच?)

हवाई अड्डों पर अब सभी लोगों की होगी स्क्रीनिंग
केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि अब दुनिया के किसी भी कोने से आने वाले विमानों और यात्रियों की जांच की जाएगी। अब तक ऐसा केवल उन देशों के नागरिकों के लिए किया जा रहा था, जहां कोरोना वायरस का असर काफी ज्यादा है। बता दें कि देश के 21 बड़े हवाई अड्डों पर अब तक करीब पांच लाख 90 हजार यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। इसके अलावा बंदरगाहों पर 15 हजार और नेपाल से जुड़ी सीमा पर दस लाख से ज्यादा लोगों की जांच की जा चुकी है।

ईरान से सहयोग की अपील
वहीं, ईरान में फंसे भारतीयों को लेकर भी डॉ हर्षवर्धन ने चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि अगर ईरान की सरकार भारत को अपने यहां एक टेस्ट लैब बनाने की अनुमति दे तो इससे वहां फंसे भारतीयों को स्वदेश वापस लाने में मदद मिलेगी। प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि सरकार कोरोना वायरस को रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठा रही है। उनके मुताबिक, दिल्ली के सभी अस्पतालों को तमाम सुविधाओं से लैस आइसोलेशन वॉर्ड तैयार करने को कह दिया गया है ताकि मरीजों की संख्या बढ़ने की सूरत में तुरंत इलाज किया जा सके।

(और पढ़ेंं- मेरठ में स्वाइन फ्लू से 8 लोगों की मौत, जानें वायरस के लक्षण)

प्रधानमंत्री की अपील
इसके अलावा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से अपील की है कि वे इस साल होली के त्योहार पर जनसमूहों में शामिल न हों। उन्होंने और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि वे भी इस बार होली के मौके पर किसी भी सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे। दरअसल, दुनिया भर के स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने आम लोगों को सामूहिक कार्यक्रमों में हिस्सा नहीं लेने की सलाह दी है। विशेषज्ञों ने चेताया है कि एक साथ बड़े पैमाने पर लोगों के इकट्ठा होने से वायरस फैलने की आशंका अधिक होगी।

(और पढ़ें- कोरोना वायरस से मृतकों की संख्या बढ़ी,ईरान में भारत के सौ से ज्यादा मछुवारे फंसे

गौरतलब है कि दुनियाभर में कोरोना वायरस प्रकोप बढ़ता जा रहा है। ताजा आंकड़ों की बात करें तो नए कोरोना वायरस से अब तक 93,565 लोगों की पहचान हो चुकी है। इसमें से 3,204 लोगों की मौत हुई है, जबकि 17 प्रतिशत लोगों की हालत अभी भी स्थिर बनी ही हुई। हालांकि, वायरस के केंद्र चीन में हालत थोड़े बेहतर जरूर हुए हैं। लेकिन हैरानी की बात है कि चीन के बाहर दक्षिण कोरिया, ईरान और इटली में कोरोना वायरस ने जमकर कहर बरपाया है। अकेले इटली में वायरस से मरने वाले लोगों की संख्या 80 के करीब पहुंच चुकी है। वहीं, ईरान में मरने वालों का आंकड़ा 77 हो गया है।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें