बच्चों में दर्द निवारक और बुखार के इलाज के लिए डॉक्टर आमतौर पर आइबूप्रुफेन और पैरासिटामोल, जिसे एसिटेमिनफेन भी कहते हैं, देते हैं। हालांकि एक नए अध्ययन में आइबूप्रुफेन को बच्चों के लिए मामूली रूप से पैरासिटामोल से थोड़ा बेहतर बताया गया है। इसके मुताबिक, बच्चों को बुखार या दर्द होने पर यह दवा देने के थोड़े ज्यादा फायदे हो सकते हैं। जानी-मानी मेडिकल पत्रिका जामा नेटवर्क ओपन ने दो साल से कम उम्र के दो लाख 40 हजार से ज्यादा बच्चों से जुड़े 19 अध्ययनों का मिश्रण कर उनका संयुक्त विश्लेषण करने के बाद यह दावा किया है।

अध्ययन में वैज्ञानिकों ने बच्चों की दी जाने वाले एसिटेमिनफेन (टाइलेनॉल और जेनेरिक दवाएं) की आइबूप्रुफेन (एडविल, मॉर्टिन और अन्य ब्रैंड) की सुरक्षा और प्रभावों पर आधारित तुलना की थी। जामा की मानें तो इस तुलना में आइबूप्रुफेन थोड़ी ज्यादा फायदेमंद पाई गई है। पत्रिका के मुताबिक, बुखार होने पर बच्चे को यह दवा देने से उनके स्वास्थ्य में चार से 24 घंटों के अंदर होना वाला सुधार पैरासिटामोल से थोड़ा बेहतर होता है। साथ ही ऐसे सबूत भी मिले हैं कि आइबूप्रुफेन के अलावा कोई और ड्रग चार घंटों के अंदर बुखार को उतनी जल्दी कम नहीं कर पाता, जितना की यह ड्रग करता है।

इसके अलावा, दर्द किलर के रूप में भी आइबूप्रुफेन अन्य दवाओं से ज्यादा इफेक्टिव है। कोई भी अन्य दवा चार से 24 घंटों के अंदर इतना दर्द कम नहीं करती, जितना की आइबूप्रुफेन। हालांकि इसके सबूत कम ही मिले कि एक बार दिए जाने के बाद पेन रिलीफ के मामले आइबोप्रुफेन, एसिटेमिनफेन से ज्यादा असरदार होती है। अध्ययन के हवाले से दि न्यूयॉर्क टाइम्स ने यह जानकारी दी है।

अखबार के मुताबिक, कुछ विशेषज्ञों का मत रहा है कि एसिटेमिनफेन का अस्थमा के बढ़े हुए खतरे से संबंध हो सकता है, जबकि किडनी की समस्याएं आइबूप्रुफेन से जुड़ी हो सकती हैं। लेकिन इस अध्ययन की समीक्षा में दोनों ही ड्रग से मामूली साइड इफेक्ट होने की बात सामने आई है। हालांकि पिछले कुछ अध्ययनों में यह दावा भी किया गया है कि पैरासिटामोल और आइबूप्रुफेन दोनों ही से किसी प्रकार का साइड इफेक्ट नहीं होता है।

बहरहाल, बच्चों में बुखार और उनके पेन रिलीफ के रूप में इन दोनों दवाओं के प्रभाव को लेकर यूनिवर्सिटी ऑफ ऑकलैंड (न्यूजीलैंड) के पेडियाट्रिक्स के प्रोफेसर और अध्ययन के वरिष्ठ लेखक डॉ. स्टुअर्ट आर डैलजियल कहते हैं, 'असल में दोनों ही दवाएं बच्चों के लिए काफी सुरक्षित हैं। मैं अपने बच्चों को आइबूप्रुफेन देता हूं, जिससे अस्थमा का खतरा काफी कम है और जो पेन रिलीफ में ज्यादा असरदार हो सकती है।'

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ