थायराइड कैंसर - Thyroid Cancer in Hindi

Dr. Ayush PandeyMBBS

October 23, 2018

March 06, 2020

थायराइड कैंसर

थायराइड कैंसर क्या है?

थायराइड आपकी गर्दन के निचले हिस्से में स्थित एक तितली के आकार की ग्रंथि होती है। थायराइड की कोशिकाओं में थायराइड के कैंसर का निर्माण होता है। थायराइड एक विशेष तरह का हार्मोन निर्मित करता है जो आपके दिल की दर, रक्तचाप, शरीर का तापमान और वज़न को नियंत्रित करता है।

दुनिया के कई विकसित देशों में थायराइड कैंसर के मामले बेहद कम देखने को मिलते है। डॉक्टरों का मानना है कि ऐसा इसलिए है क्योंकि नई तकनीक से थायराइड कैंसर का निदान आसानी से हो जाता  है, जो कि पहले संभव नहीं था। थायराइड कैंसर के अधिकांश मामलों को इलाज के साथ ठीक किया जा सकता है।

थायराइड कैंसर के प्रकार

थायराइड कैंसर के कितने प्रकार होते हैं ?

थायराइड कैंसर के निम्नलिखित प्रकार होते हैं -

पैपिलरी थायराइड कैंसर (Papillary thyroid cancer)
पैपिलरी थायराइड कैंसर, थायराइड कैंसर का सबसे आम प्रकार है जो उन कूपिक कोशिकाओं से उत्पन्न होता है, जो थायराइड हार्मोन का उत्पादन और संचय करती हैं। यह कैंसर किसी भी उम्र में हो सकता है लेकिन अक्सर यह 30-50 साल के लोगों को प्रभावित करता है।

फॉलिक्युलर थायराइड कैंसर (Follicular thyroid cancer)
फॉलिक्युलर थायराइड कैंसर भी थायराइड की कूपिक कोशिकाओं से उत्पन्न होता है। यह आमतौर पर 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को प्रभावित करता है।

मेडयुलरी थायराइड कैंसर (Medullary thyroid cancer)
मेडयुलरी थायराइड कैंसर उन थायराइड कोशिकाओं में शुरू होता है जिसे सी कोशिका कहते हैं जो कैल्सीटोनिन हार्मोन उत्पन्न करती हैं। रक्त में कैल्सीटोनिन का ज़्यादा स्तर, प्रारंभिक चरण में मेडयुलरी थायराइड कैंसर का पता लगा सकता है। कुछ आनुवंशिक लक्षणों से मेडयुलरी थायराइड कैंसर का खतरा बढ़ जाता है, हालांकि यह आनुवंशिक लक्षण असामान्य होते हैं।

ऐनाप्लास्टिक थायराइड कैंसर (Anaplastic thyroid cancer)
ऐनाप्लास्टिक थायराइड कैंसर एक दुर्लभ और तेज़ी से बढ़ने वाला कैंसर है जिसका इलाज बहुत मुश्किल है। यह कैंसर आमतौर पर 60 या उससे अधिक उम्र के वयस्कों में होता है।

थायराइड लिंफोमा (Thyroid lymphoma)
थायराइड लिंफोमा, थायराइड कैंसर का एक दुर्लभ प्रकार है जो थायराइड में प्रतिरक्षा प्रणाली कोशिकाओं में शुरू होता है और बहुत जल्दी बढ़ता है। थायराइड लिम्फोमा आमतौर पर बड़े वयस्कों में होता है।

थायराइड कैंसर के लक्षण

थायराइड कैंसर के लक्षण क्या हैं ?

थायराइड कैंसर के निम्नलिखित लक्षण हो सकते हैं -

  1. गर्दन में एक गांठ बनना और कभी-कभी गांठ का तेज़ी से बढ़ना।
  2. गर्दन में सूजन होना।
  3. गर्दन के सामने के हिस्से में दर्द और कभी-कभी दर्द का कान तक जाना।
  4. गला बैठना या आवाज़ में अन्य परिवर्तन होना जो ठीक नहीं होते।
  5. निगलने में कठिनाई होना।
  6. साँस लेने में कठिनाई होना।
  7. ठंड की वजह से न होने वाली खांसी।

यदि आपको इनमें से कोई भी लक्षण होते हैं, तो तुरंत अपने चिकित्सक से बात करें। यह लक्षण कई गैर-कैंसर स्थितियों या अन्य कैंसर के कारण भी हो सकते हैं। थायराइड में गांठें सामान्य और सौम्य होती हैं। फिर भी, यदि आपको इन लक्षणों में से कोई भी होता है, तो तुरंत अपने चिकित्सक के पास जाएं।

थायराइड कैंसर के कारण

थायराइड कैंसर के कारण क्या हैं ?

विशेषज्ञों को अभी यह पता नहीं लग पाया है कि थायराइड कैंसर क्यों होता है। अन्य कैंसर की तरह, आपकी कोशिकाओं के डीएनए में परिवर्तन इसमें एक भूमिका निभा सकते हैं। इन परिवर्तनों में ऐसे परिवर्तन भी हो सकते हैं जो अनुवांशिक होते हैं या वृद्ध होने के साथ-साथ होते हैं।

थायराइड कैंसर से बचाव के उपाय

थायराइड कैंसर का बचाव कैसे होता है ?

अधिकांश मामलों में थायराइड कैंसर का कारण निर्धारित नहीं होता है, इसका मतलब है कि ज्यादातर लोगों में इसे रोकने का कोई ज्ञात तरीका नहीं है।

यह माना जाता है कि मेडयुलरी थायराइड कैंसर (Medullary thyroid cancer) अनुवांशिक होता है। अगर आपके परिवार में किसी को यह कैंसर है या कभी हुआ है, तो अपने चिकित्सक को बताएं। आपके डॉक्टर आपको एक आनुवंशिक सलाहकार के पास भेज सकते हैं जो यह निर्धारित कर सकते हैं कि आपको यह कैंसर होने का कितना जोखिम है।

जो लोग परमाणु ऊर्जा संयंत्रों के पास रहते हैं, उन्हें थायराइड कैंसर विकसित करने का अधिक जोखिम होता है। अपने डॉक्टर से पोटेशियम आयोडीन दवाओं के बारे में बात करें यदि आप ऐसे क्षेत्र में रहते हैं।

अपने स्वस्थ की वार्षिक जांच कराएं और अपने चिकित्सक को अपने लक्षणों के बारे में बताएं।

थायराइड कैंसर का परिक्षण

थायराइड कैंसर का निदान कैसे होता है ?

शारीरिक परीक्षण या अन्य प्रयोगशाला परीक्षण थायराइड कैंसर की उपस्थिति का निदान कर सकते हैं। गर्दन की जांच से थायराइड के छोटे या बड़े द्रव्यमान का पता चल सकता है।

थायराइड कैंसर का निदान करने के लिए अन्य परीक्षण हैं -

  1. थायराइड फ़ंक्शन परीक्षण।
  2. थायरोग्लोबुलिन परीक्षण (Thyroglobulin test) (जिसका उपयोग पेपिलरी या कूपिक कैंसर के लिए किया जाता है)।
  3. थायराइड का अल्ट्रासाउंड
  4. थायराइड का स्कैन।
  5. थायराइड बायोप्सी (Thyroid biopsy)।
  6. रक्त में कैल्शियम के स्तर की जाँच।
  7. रक्त में फास्फोरस स्तर की जाँच।
  8. रक्त में कैल्सीटोनिन के स्तर की जाँच।
  9. लैरिंगोस्कोपी (Laryngoscopy)।

थायराइड कैंसर का इलाज

थायराइड कैंसर का उपचार कैसे होता है ?

थायराइड कैंसर के उपचार का लक्ष्य आपके शरीर में कैंसर की कोशिकाओं को खत्म करना होता है। यह कैसे किया जाता है वह आपकी आयु, आपके कैंसर का प्रकार, आपके कैंसर का स्तर और आपके सामान्य स्वास्थ्य पर निर्भर करता है।

ज्यादातर लोगों में थायराइड ग्लैंड का कोई हिस्सा या पूरा ग्लैंड निकालने के लिए सर्जरी की जाती है। कभी-कभी एक कैंसर के लिए संदिग्ध गांठ या नाड़ी को कैंसर का निदान होने से पहले ही हटा दिया जाता है।

सर्जरी के बाद, आपको किसी भी शेष थायराइड ऊतक को नष्ट करने के लिए रेडियोएक्टिव आयोडिन से उपचार की आवश्यकता हो सकती है। अगर आपका थायराइड ग्लैंड निकाल दिया गया है, तो आपको शायद जीवन भर थायराइड हार्मोन की दवाएं लेने की आवश्यकता होगी। ये दवाएं आवश्यक हार्मोन की जगह लेती हैं जो सामान्यतः थायराइड ग्रंथि द्वारा बनाए जाते हैं और आपको हाइपोथायरॉइडिज़्म होने से रोकती हैं।

थायराइड कैंसर के जोखिम और जटिलताएं

थायराइड कैंसर के जोखिम कारक क्या हैं ?

निम्नलिखित कारक थायराइड कैंसर के खतरे को बढ़ा सकते हैं -

  1. महिलाएं - पुरुषों की तुलना में महिलाओं में थायराइड कैंसर अधिक होता है।
  2. विकिरण सम्पर्क - विकिरण के ज़्यादा संपर्क में आने से थायराइड कैंसर का जोखिम बढ़ जाता है।
  3. कुछ आनुवंशिक सिंड्रोम - मेडयुलरी थायरॉइड कैंसर, कई एंडोक्राइन न्यूप्लासिआ और पारिवारिक एडिनोमैटिस पॉलीपोसिस जैसे कुछ सिंड्रोम का पारिवारिक इतिहास थायराइड कैंसर का जोखिम बढ़ा सकता है।

थायराइड कैंसर कि जटिलताएं क्या हैं ?

उपचार के बावजूद थायराइड कैंसर फिर से हो सकता है, भले ही आपका थायराइड निकाल दिया गया हो। ऐसा हो सकता है कि सूक्ष्म कैंसर कोशिकाएं हटाए जाने से पहले थायराइड से बाहर फ़ैल गयी हों। थायराइड कैंसर फिर से होना ज़्यादातर सर्जरी के बाद पहले पांच वर्षों में होता है लेकिन यह कुछ दशकों के बाद भी हो सकता है।

थायराइड कैंसर निम्नलिखित जगहों में पुनः उत्पन्न हो सकता है -

  1. गर्दन के लिम्फ नोड्स में।
  2. थायराइड ऊतक के छोटे टुकड़े जो सर्जरी में निकाले नहीं गए हों।
  3. शरीर के अन्य क्षेत्र।

पुनः होने वाले थायराइड कैंसर का इलाज किया जा सकता है। आपके डॉक्टर थायराइड कैंसर पुनरावृत्ति के लक्षणों की जांच के लिए रक्त परीक्षण या थायराइड स्कैन कर सकते हैं।



संदर्भ

  1. National Health Service [Internet]. UK; Thyroid cancer.
  2. American Cancer Society [Internet] Atlanta, Georgia, U.S; About Thyroid Cancer.
  3. National Institutes of Health; National Cancer Institute. [Internet]. U.S. Department of Health & Human Services; Thyroid Cancer—Patient Version.
  4. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Thyroid Cancer.
  5. Quang T. Nguyen et al. Diagnosis and Treatment of Patients with Thyroid Cancer. Am Health Drug Benefits. 2015 Feb; 8(1): 30–40. PMID: 25964831

थायराइड कैंसर के डॉक्टर

Dr. Ashok Vaid Dr. Ashok Vaid ऑन्कोलॉजी
31 वर्षों का अनुभव
Dr. Ashu Abhishek Dr. Ashu Abhishek ऑन्कोलॉजी
12 वर्षों का अनुभव
Dr. Susovan Banerjee Dr. Susovan Banerjee ऑन्कोलॉजी
16 वर्षों का अनुभव
Dr. Rajeev Agarwal Dr. Rajeev Agarwal ऑन्कोलॉजी
42 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें

थायराइड कैंसर की दवा - Medicines for Thyroid Cancer in Hindi

थायराइड कैंसर के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹119.81

20% छूट + 5% कैशबैक


₹71.76

20% छूट + 5% कैशबैक


₹131.44

20% छूट + 5% कैशबैक


₹90.94

20% छूट + 5% कैशबैक


₹48.3

20% छूट + 5% कैशबैक


₹146037.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹6216.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹5266.8

20% छूट + 5% कैशबैक


₹105.0

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 10 of 55 entries