Patrangasava for White Discharge & Itching Relief

सफेद पानी और योनि की खुजली, जलन, इर्रिटेशन से मुक्ति दिलाए

 8641 लोगों ने इसको हाल ही में खरीदा
Myupchar Ayurveda Patrangasava 450ml 450 ml आसव 1 बोतल ₹ 450 ₹500 10% छूट बचत: ₹50

   पूरे भारत में निःशुल्क शिपिंग
  • विक्रेता: Doctorvahini Pvt Ltd
    • मूल का देश: India

    उत्पाद वीडियो

    Patrangasava for White Discharge & Itching Relief की जानकारी

    आयुर्वेद का मूल उद्देश्य बीमारी के मूल कारणों की पहचान कर उनका इलाज करना है, ताकि समस्या को जड़ से खत्म किया जा सके. आयुर्वेद में व्हाइट डिस्चार्ज व एनीमिया जैसी महिलाओं से जुड़ी समस्याओं का बेहतर इलाज बताया गया है.

    myUpchar के डॉक्टरों ने महिला स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या पर कई वर्षों की रिसर्च के बाद 100% आयुर्वेदिक myUpchar Ayurveda Patrangasava को बनाया है.

    आयुर्वेदक में महिलाओं से जुड़ी समस्याओं के लिए पत्रांग, बला, श्वेत सारिवा, कृष्ण सारिवा व लौह भस्म जैसी 19 जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया जाता है. myUpchar Ayurveda Patrangasava को बनाने के लिए इन जड़ी-बूटियों को ऑर्गेनिक तरीके से उगाया जाता है. इन औषधियों की शुद्धता कायम रहे, इसलिए इन्हें खेतों से निकालने के लिए मशीन की जगह हाथों का इस्तेमाल किया जाता है और आयुर्वेद के पारपंरिक तरीके से इन औषधियों का अर्क निकाल कर दवा बनाई जाती है. इस पूरी प्रक्रिया में समय और मेहनत दोनों लगती हैं. प्राचीन वैज्ञानिक पद्धति से बनी इस आयुर्वेदिक दवा का किसी भी मेडिकल रिसर्च में साइड इफेक्ट नजर नहीं आया है.

    100% आयुर्वेदिक myUpchar Ayurveda Patrangasava अन्य दवाओं के मुकाबले बिल्कुल अलग है. जहां अन्य दवाओं के निर्माण में जड़ी-बूटियों का पाउडर इस्तेमाल होता है, वहीं myUpchar Ayurveda Patrangasava को औषधियों से निकले अर्क से तैयार किया जाता है. इसलिए, एक छोटे-से कैप्सूल में सभी हर्ब्स के गुण समाहित होते हैं. इस दवा को लेने से असामान्य योनि स्राव और हार्मोनल असंतुलन की समस्या को ठीक किया जा सकता है. साथ ही पीरियड्स के समय होने वाली हैवी ब्लीडिंग और क्रैम्पस के लिए यह कारगर आयुर्वेदिक फॉर्मूलेशन है.

    सामग्रियां : पत्रांग, खदिर, वसा, शालमलिकुसुम, बला, भल्लातक, श्वेत सारिवा, कृष्ण सारिवा, जपाकुसुम, आम्रास्थि, दार्वी, भूनिम्बा, सफेद जिरक, लोह भस्म, रसांजन, बिल्व, लौंग, धातकी, गुड़.

    मुख्य सामग्री

    कत्था

    इसके पौधे में बैकलिन और कैटेचिन जैसे घटक पाए जाते हैं, जो एंटी-इंफ्लेमेटरी यानी सूजन को कम करने वाले प्रभाव होते हैं. यह औषधि खुजली, दुर्गंध और योनि से होने वाले डिस्चार्ज को कम करती है.

    बेल

    महिलाओं से जुड़ी समस्याओं में बेल का इस्तेमाल करने से फायदा होता है. ऐसा माना गया है कि इसके प्रयोग से व्हाइट डिस्चार्ज और मासिक धर्म के समय ज्यादा ब्लीडिंग को रोक जा सकता है.

    कालमेघ

    शरीर में जमा टॉक्सिंस को बाहर निकालने और इम्यून सिस्टम को बेहतर करने के लिए आयुर्वेद में कालमेघ का इस्तेमाल किया जाता है. वहीं, पारंपरिक रूप से व्हाइट डिस्चार्ज की समस्या में भी कालमेघ का इस्तेमाल किया जाता रहा है.

    अडूसा

    आयुर्वेद में आडूसा का इस्तेमाल सदियों से किया जा रहा है. इसमें एंटीबैक्टीरियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी और खून को साफ करने का गुण होता है. इसे इस्तेमाल करने से मासिक धर्म के समय होने वाली हैवी ब्लीडिंग को बचा जा सकता है.

    इसे किसे लेना चाहिए?

    अगर किसी को है -

    • असामान्य वजाइनल डिस्चार्ज.
    • व्हाइट डिस्चार्ज.
    • योनि में खुजली.
    • अनियमित ब्लीडिंग.
    • बांझपन.
    • पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज.
    • एनोव्यूलेशन.
    • हार्मोनल असंतुलन.

    फ़ायदे

    • हार्मोंस को संतुलित करे खासतौर से पीरियड्स और मेनोपॉज के दौरान.
    • इम्यूनिटी बढ़ाए.
    • बैक्टीरिया और फंगी जैसे रोगाणुओं से लड़े.
    • चिंता और तनाव से राहत दिलाए.
    • हैवी डिस्चार्ज को कंट्रोल करने में मदद करे.
    • ल्यूकोरिया यानी व्हाइट डिस्चार्ज में फायदेमंद.
    • एनीमिया को करे ठीक.
    • बुखार से राहत दिलाए.

    दिशा-निर्देश

    रोज सुबह खाने के बाद और रात को खाने के बाद 15 से 30 ml दवा को समान मात्रा के पानी में मिक्स करके लें या फिर जिस तरह से डॉक्टर कहे.

    नोट

    • इसे गर्भावस्था में न लें.
    • स्तनपान कराने वाली महिलाएं डॉक्टर की सलाह पर लें.

    अवधि

    बेहतर परिणाम के लिए कम से कम 6 महीने तक इस्तेमाल करें या फिर जिस तरह से डॉक्टर कहे.

    प्रमुख बिंदु

    अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

    • क्या पत्रांगासव केवल पाचन संबंधी समस्याओं के लिए है?

    • माई उपचार पत्रांगासव लेने के क्या लाभ हैं?

    • क्या सामान्य स्वास्थ्य के लिए पत्रांगासव लिया जा सकता है?

    • क्या बुखार के दौरान पत्रांगासव ले सकते हैं?

    • क्या पत्रांगासव का उपयोग श्वसन संबंधी एलर्जी के लिए किया जा सकता है?

    • क्या पत्रांगासव सभी प्रकार के शरीर (दोषों) के लिए उपयुक्त है?

    • क्या मधुमेह से पीड़ित व्यक्ति पत्रंगासव ले सकते हैं?

    • पत्रांगासव को लगातार कितने समय तक लिया जा सकता है?

    • क्या पत्रांगासव को खाली पेट लिया जा सकता है?

    • पत्रांगासव क्या है?

    • पत्रांगासव कैसे काम करता है?

    • पत्रांगासव के परिणाम कितने समय में आते हैं?

    • क्या पत्रांगासव बच्चों द्वारा लिया जा सकता है?

    • क्या पत्रांगासव के कोई दुष्प्रभाव हैं?

    • पत्रांगासव का उपयोग कैसे किया जाता है?

    • पत्रांगासव के लाभ क्या हैं?

    • पत्रांगासव की मुख्य सामग्री क्या हैं?


    जानिए हमारे ग्राहक क्या कहते हैं

    57 40 30 20 10
    H
    5/5 रेटिंग

    Himanshu

    यह काम करता है, मुझे अभी से myupchar पर भरोसा है

    S
    5/5 रेटिंग

    Seema

    उत्पाद शुरू में ठीक था लेकिन इसने 20 दिनों के बाद मेरी मदद की

    S
    5/5 रेटिंग

    Sakshi

    मुझे उत्पाद पसंद है

    B
    5/5 रेटिंग

    Bhavna

    वितरण पैकिंग अच्छी है

    K
    5/5 रेटिंग

    Kavita

    अच्छा आयुर्वेदिक शर्बत

    N
    5/5 रेटिंग

    Navita

    पचने में आसान और स्वाद में अच्छा

    myUpchar Ayurveda द्वारा आयुर्वेदिक वैकल्पिक दवाएं

    Kumariasava एक बोतल में 450 ml आसव ₹382 ₹42510% छूट
    Aloe Vera Juice एक बोतल में 1 litre जूस ₹269 ₹29910% छूट
    Sprowt Dht Blocker Plant Based Natural Hair Growth Promoter Capsules एक बोतल में 60 कैप्सूल ₹629 ₹69910% छूट
    Joint Capsule एक बोतल में 60 कैप्सूल ₹719 ₹79910% छूट
    Weight Control Tablets एक बोतल में 60 कैप्सूल ₹899 ₹99910% छूट
    Sugar Tablet एक बोतल में 60 कैप्सूल ₹899 ₹99910% छूट
    और दवाएं देखें