myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

कोरोना वायरस से संक्रमित एक ब्रिटिश कारोबारी से तीन देशों के 11 लोगों के संक्रमित होने का मामला सामने आया है। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक ब्रिटेन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने इस व्यक्ति का नाम गुप्त रखते हुए यह जानकारी दी है। उनकी मानें तो इस ब्रिटिश नागरिक ने कुछ दिन पहले सिंगापुर से फ्रांस की यात्रा की थी। वहां से स्विट्जरलैंड पहुंचा और फिर इंग्लैंड। इस दौरान उससे जुड़े कम से कम 11 लोगों के नए कोरोना वायरस के संपर्क में आने की संभावना जताई गई है। अधिकारियों ने अनुमान जताते हुए कहा कि इंग्लैंड, फ्रांस और स्पेन में जो लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं, हो सकता है उनमें यह वायरस इसी ब्रिटिश नागरिक से आया हो।

(और पढ़ें- क्या डेटॉल से खत्म हो सकता है कोरोना वायरस का खतरा)

मीडिया रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि यह कारोबारी उन ब्रिटिश नागरिकों में से एक है जिनमें कोरोना वायरस के पॉजिटिव लक्षण पाए गए थे। ब्रिटिश अखबारों के मुताबिक यह व्यक्ति सर्वोमक्स नाम की एक गैस एनालिसिस कंपनी में काम करता है। वह अपने काम के तहत ही 20 जनवरी से लेकर 22 जनवरी तक सिंगापुर समेत कई देशों की यात्रा पर था। चूंकि कोरोना वायरस के लक्षणों का पता चलने में तीन से 14 दिनों तक का समय लग सकता है, इसलिए संभव है कि संक्रमित ब्रिटिश नागरिक को इसका पता नहीं चला और वह अंजाने में अन्य लोगों को संक्रमण देता चला गया।

व्यक्ति की तलाश में जुटे अधिकारी
संक्रमित ब्रिटिश नागरिक की जानकारी सामने आने के बाद ब्रिटेन के अधिकारी उसकी तलाश में जुट गए हैं। इसके लिए अधिकारी इस कारोबारी की यात्रा से जुड़ी जानकारी इकट्ठा कर रहे हैं ताकि पता चल सके वह कब और कहां वायरस की चपेट में आया।
 

(और पढ़ें- वीडियो में देखें कोरोना वायरस क्या है और कैसे फैलता है

कइयों को किया संक्रमित
रिपोर्टों के मुताबिक सिंगापुर-फ्रांस-स्विट्जरलैंड-इंग्लैंड की यात्रा के दौरान संक्रमित ब्रिटिश नागरिक कई लोगों के संपर्क में आया था। इस बारे में फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि नौ वर्षीय एक बच्चे समेत पांच ब्रिटिश नागरिक उस व्यक्ति के संपर्क में आए थे।

अन्य मीडिया रिपोर्टों की मानें तो इसके बाद उन दो स्कूलों को बंद कर दिया गया, जहां पर नौ वर्षीय बच्चा घूमने गया था। इसके अलावा छह अन्य ब्रिटिश नागरिकों को निगरानी के तहत अस्पताल में भर्ती किया गया।

(और पढ़ें- हवाई परिवहन के जरिए भारत में कोरोना वायरस फैलने का कितना खतरा है)

उधर, सोमवार को ब्रिटिश अधिकारियों ने घोषणा करते हुए चार और ब्रिटिश नागरिकों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि की। अधिकारियों ने बताया कि वायरस से जुड़े ये सभी केस एक मशहूर रिजॉर्ट से संबंधित है। कुछ दिन पहले कई लोग यहां घूमने आए थे। इनमें संक्रमित ब्रिटिश नागरिक भी शामिल है।

गौरतलब है कि चीन समेत दुनिया भर में फैले कोरोना वायरस से एक हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, कुल संक्रमित लोगों की संख्या 43,000 से ज्यादा हो गई है। इनमें से 7,000 से ज्यादा मरीजों की हालत गंभीर बनी हुई है। हालांकि 4,000 से ज्यादा लोगों को बचा भी लिया गया है। 

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें