myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

नए कोरोना वायरस (सीओवीआईडी-19) से इटली और ईरान में हालात बेहद खराब हो चुके हैं। इस जानलेवा विषाणु से इटली में जहां 79 लोगों की मौत हो चुकी हैं, वहीं, ईरान में वायरस से मरने वालों की संख्या 77 हो गई है। इसके अलावा इटली में कोरोना वायरस के 2,500 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। ईरान में यह संख्या 2,300 से ज्यादा है। दूसरी तरफ, अमेरिका में भी कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा बढ़ा है। मंगलवार को यहां तीन और मौतें हुईं। इसके बाद अमेरिका में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या नौ हो गई है।

(और पढ़ें - भारत में कोरोना वायरस से जुड़ी अहम खबरें)

उधर, दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के मामलों का बढ़ना जारी है। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, वहां मरीजों की संख्या 5,300 से ज्यादा हो गई है। इनमें से 33 लोगों की मौत हो चुकी है और 27 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। हालांकि मामलों की संख्या के लिहाज से यह आंकड़ा काफी कम है। वहां, 229 लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है।

अमेरिका में कई जगह यातायात पर लग सकती है रोक
कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों और मौतों को देखते हुए अमेरिकी सरकार देश के कई इलाकों में यातायात पर रोक लगा सकती है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अमेरिका में जिन जगहों पर कोरोना वायरस सबसे ज्यादा सक्रिय है, वहां लोगों के आने-जाने पर अस्थायी प्रतिबंध लगाया जा सकता है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने इस संकट को लेकर कई विशेषज्ञों के साथ हुई बैठक के बाद यह बात कही। बता दें कि अमेरिका में कोरोना वायरस से हुई नौ मौतों में से सात अकेले राजधानी वॉशिंगटन में हुई हैं।

(और पढ़ें - क्या डेटॉल से खत्म हो सकता है कोरोना वायरस?)

फ्लू से ज्यादा जानलेवा है सीओवीआईडी-19
विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि अब यह काफी हद तक समझ आने लगा है कि नया कोरोना वायरस पूरी दुनिया में इतनी तेजी से कैसे फैल रहा है। डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस अधानोम गेब्रेयेसुस ने मंगलवार को पत्रकारों को बताया, 'ज्यादा डेटा सामने आने के बाद वायरस को लेकर हमारी समझ बढ़ रही है। यह भी पहले से बेहतर पता चल पा रहा है कि वायरस फैल कैसे रहा है।' इस बातचीत के दौरान डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने यह भी बताया कि दुनियाभर में कोरोना वायरस के कुल मरीजों में से 3.4 प्रतिशत की मौत हो गई है। जबकि आमतौर पर होने वाले फ्लू में यह मृत्यु दर एक प्रतिशत के आसपास है। इस आधार पर टेड्रोस ने कहा कि कोरोना वायरस, फ्लू से ज्यादा जानलेवा है।

(और पढ़ें - कोरोना वायरस के प्रकार)

प्रभावित देशों की संख्या 80 हुई
इस बीच सीओवीआईडी-19 से प्रभावित देशों की संख्या 70 से 80 हो गई है। मंगलवार को ट्यूनीशिया, उक्रेन, अर्जेंटीना, चिली, लेचटेन्सटाइन में पहले मामलों की पुष्टि की गई। गौरतलब है कि बीते तीन दिनों में कोरोना वायरस पूरी दुनिया में काफी तेजी से बढ़ा है। बीते हफ्ते तक वायरस से प्रभावित देशों की संख्या 50 से कुछ ऊपर थी। लेकिन बीते तीन दिनों में कई देश इस जानलेवा विषाणु की चपेट में आए हैं।

हालांकि, कोरोना वायरस के केंद्र चीन में हालात का सुधरना जारी है। मंगलवार को यहां केवल 119 मामले दर्ज किए गए। इस तरह चीन में कोरोना वायरस के कुल मामलों की संख्या 80,270 हो गई है। इनमें से 2,981 लोगों की मौत हो चुकी है। बीते 24 घंटों में 38 नई मौतें दर्ज की गईं। वहीं, 6,400 से ज्यादा लोगों की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। हालांकि करीब 50,000 लोगों को बचा लिया गया है।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें