हर व्यक्ति के लिए हेल्थ इन्शुरन्स प्लान जरूरी हो गया है, जो आपके स्वास्थ्य और आपकी जेब दोनों को सुरक्षित रखता है। यदि आप बीमाधारक हैं और आपको कोई भी मेडिकल इमर्जेंसी हो जाती है, तो आप बिना पैसे की चिंता किए अच्छे अस्पताल में अपना इलाज करवा सकते हैं। हालांकि, कई बार ऐसा भी हो जाता है कि आपने कोई पॉलिसी खरीदी हो और बाद में महसूस हो कि आपके लिए यह उचित नहीं है या फिर कंपनी के नियम व शर्ते आपके अनुकूल नहीं हैं। ऐसी स्थिति में आपको ख्याल आता है कि क्या इसे कैंसल किया जा सकता है?

इस लेख में हम इसी बारे में बात करने वाले हैं कि अगर किसी व्यक्ति को हेल्थ इन्शुरन्स प्लान उचित न लगे तो क्या किया जाए? रेग्यूलेटरी एंड डेवेलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (आईआरडीएआई) के अनुसार यदि कोई व्यक्ति हेल्थ इन्शुरन्स प्लान खरीदता है और उसको लगता है कि प्लान उचित नहीं है तो वह एक निश्चित समय के भीतर उसे रद्द करके अपना पैसा वापस ले सकता है। इस निश्चित समय अवधि को फ्री लुक पीरियड कहा जाता है, जो कोई भी हेल्थ इन्शुरन्स प्लान खरीदने के ठीक बाद मिलती है। इस लेख में हम फ्री लुक पीरियड क्या है, कैसे काम करता है और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाए आदि के बारे में ही बात करेंगे।

(और पढ़ें - हेल्थ इन्शुरन्स में इलनेस क्या है)

  1. हेल्थ इन्शुरन्स फ्री लुक पीरियड क्या है - What is Free look period in Health Insurance in Hindi
  2. हेल्थ इन्शुरन्स फ्री लुक पीरियड कैसे काम करता है - How does Free look period works in Health Insurance in Hindi
  3. हेल्थ इन्शुरन्स फ्री लुक पीरियड से संबंधित किन बातों का ध्यान रखें - What are the things to keep in mind regarding the free look period in Hindi
  4. हेल्थ इन्शुरन्स फ्री लुक पीरियड के अंदर पॉलिसी को कैंसल कैसे करें - How to cancel the policy within the free look period in Hindi

फ्री लुक पीरियड एक विशेष समय अवधि होती है, जिसमें आप हेल्थ इन्शुरन्स पॉलिसी को कैंसल कर सकते हैं। रेग्यूलेटरी एंड डेवेलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार यदि आप अपनी इन्शुरन्स पॉलिसी से खुश नहीं हैं, तो एक निश्चित समय-सीमा के भीतर उसे रद्द कर सकते हैं। आईआरडीएआई द्वारा जारी किया गया यह प्रावधान सभी पॉलिसियों में लागू होता है, जो आपको पॉलिसी लेने के बाद एक निश्चित समय तक उसे कैंसल करने का अधिकार देता है। यदि आप आप कैंसल न करके अपने प्लान में कुछ बदलाव करवाना चाहते हैं, तो कंपनी उसपर भी विचार कर सकती है।

चलिए एक उदाहरण के रूप में समझते हैं कि फ्री लुक पीरियड क्या है। मान कर चलिए कि आपने कोई हेल्थ इन्शुरन्स प्लान खरीदा है और आपको उसके फीचर या शर्तों में से कुछ पसंद नहीं हैं, तो आप एक निश्चित समय (आमतौर पर 15 दिन) के भीतर उस प्लान को वापस कर सकते हैं।

(और पढ़ें - इन्शुरन्स पॉलिसी में डोमिसिलिअरी हॉस्पिटलाइजेशन क्या है)

फ्री लुक पीरियड को आमतौर पर बीमाधारक व्यक्ति की मदद करने के लिए बनाया गया है, जिसके अपने कुछ नियम व शर्ते होती हैं। हालांकि, कुछ हेल्थ इन्शुरन्स प्लान ऐसे भी हो सकती हैं, जिनमें फ्री लुक पीरियड लागू नहीं होता है। myUpchar बीमा प्लस पॉलिसी में भी आपको फ्री-लुक पीरियड की सुविधा नहीं मिलती है। हालांकि, बीमा प्लस के तहत आपको 24x7 फ्री टेली ओपीडी की सुविधा मिल जाती है।

स्वास्थ्य बीमा योजनाओं में आमतौर पर 15 दिन का फ्री लुक पीरियड दिया जाता है, जिसमें बीमाधारक अपने प्लान की ठीक से जांच कर लेता है। ऐसी स्थिति में यदि आपके द्वारा खरीदे गए बीमा प्लान की नियम व शर्तें या फिर कोई भी फीचर आपकी जरूरत के अनुसार नहीं हैं, तो आप इस अवधि के अंदर बीमा वापस कर सकते हैं। यदि आप निश्चित अवधि के अंदर पॉलिसी को वापस कर देते हैं, तो आपके द्वारा भुगतान किया गया पैसा वापस मिल जाता है।

चलिए एक उदाहरण के रूप में समझते हैं कि फ्री लुक पीरियड कैसे काम करता है, मान लीजिए आपने कोई हेल्थ इन्शुरन्स प्लान खरीदा है। इसके बाद आपको लगता है कि प्लान की नियम व शर्तें आपके अनुसार सही नहीं हैं या फिर अन्य किसी कारण से आपको लगता है कि यह प्लान आपके लिए उचित नहीं है, तो 15 दिन के भीतर आप इस प्लान को कैंसल करके अपने पैसे वापस पा सकते हैं।

(और पढ़ें - टॉप-अप हेल्थ इन्शुरन्स क्या है)

आप अब ये तो जान ही चुके हैं कि फ्री लुक पीरियड का मुख्य लाभ यह है कि आप एक निश्चित समय के भीतर प्लान को कैंसल कर सकते हैं, ताकि आपको लंबे समय तक उसका नुकसान न झेलना पड़े। हालांकि, इसके अलावा भी फ्री लुक पीरियड से संबंधित कुछ चीजें हैं, जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए -

  • कटौती -
    कवरेज पीरियड के लिए रिस्क प्रीमियम के रूप में एक निश्चित राशि निकालने के बाद हेल्थ इन्शुरन्स कंपनी मेडिकल टेस्ट पर होने वाले खर्च को भी आपके प्रीमियम में से काट सकती है।
     
  • समय सीमा -
    हेल्थ इन्शुरन्स प्लान खरीदने के बाद एक निश्चित समय तक ही फ्री लुक पीरियड का इस्तेमाल किया जाता है। अधिकतर कंपनियां फ्री लुक पीरियड के लिए 15 दिन का समय देती हैं।
     
  • कैंसलेशन पॉलिसी की रिक्वेस्ट -
    यदि आप अपने प्लान से खुश नहीं हैं और आप उसे फ्री लुक पीरियड की अवधि के अंदर ही कैंसल करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको कैंसलेशन फॉर्म भरना पड़ता है। यह फॉर्म आमतौर पर कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट से मिल जाता है, ऐसा न होने पर आप कंपनी से संपर्क करके फॉर्म ले सकते हैं।

(और पढ़ें - सबसे अच्छा हेल्थ इन्शुरन्स कौन सा है)

यदि आप कोई भी हेल्थ इन्शुरन्स प्लान खरीदने के बारे में सोच रहे हैं, तो उससे पहले उसकी कैंसलेशन पॉलिसी और फ्री लुक पीरियड के बारे में जानना जरूरी है। सबसे पहले कंपनी के सभी दस्तावेजों को पढ़ें, इसके बाद भी यदि आपको लगता है कि आपको पूर्ण जानकारी नहीं मिल पाई है तो कंज्यूमर हेल्पलाइन नंबर कर संपर्क करें। इसके अलावा आप अपने सवाल कंपनी को इमेल के माध्यम से भी पूछ सकते हैं।

जिस व्यक्ति से आपने हेल्थ इन्शुरन्स प्लान खरीदा था, फ्री लुक पीरियड के अंदर उससे संपर्क करके भी आप अपनी पॉलिसी को कैंसल करवा सकते हैं। कैंसल होने के बाद कंपनी आपका पैसा 7 कार्य-दिवसों के अंदर वापस दे देती है।

हालांकि, आपको इस बात का ध्यान रखना है कि फ्री लुक पीरियड के अंदर आप पॉलिसी को सिर्फ कैंसल कर सकते हैं, उसे पोर्ट नहीं किया जा सकता है। किसी भी हेल्थ पॉलिसी को पोर्ट सिर्फ उसके रीन्यूअल के समय ही किया जा सकता है।

(और पढ़ें - हेल्थ इन्शुरन्स में पोर्टेबिलिटी क्या है)

और पढ़ें ...
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ